अरविंद केजरीवाल ने कहा, दिल्ली की कच्ची कालोनियों की रजिस्ट्री कराकर ही दम लूंगा

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के बुराड़ी में 250 किलोमीटर लंबी सीवर लाइन योजना का शिलान्यास किया

अरविंद केजरीवाल ने कहा, दिल्ली की कच्ची कालोनियों की रजिस्ट्री कराकर ही दम लूंगा

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को बुराड़ी में जनसभा को संबोधित किया.

खास बातें

  • केजरीवाल ने कहा, रजिस्ट्री आने तक किसी पर भरोसा न करें
  • पांच साल में काम कराकर इन कालोनियों को बदला
  • कच्ची कालोनियों की रजिस्ट्री पर केंद्र सरकार की नीयत खराब
नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को संत नगर, बुराड़ी की 33 कालोनियों में 250 किलोमीटर सीवर की लाइनों का शुभारम्भ किया. इस मौके पर सीएम केजरीवाल ने कहा कि ''सत्तर साल में किसी पार्टी को कच्ची कालोनियों में रहने वालों से कोई मतलब नहीं था. जब अरविंद केजरीवाल ने पांच साल में काम कराकर इन कालोनियों को बदला तो उन्हें इन कालोनियों की याद आ गई है. मैंने कसम खाई थी कि कच्ची कालोनियों का उद्धार करेंगे. मैंने नियम कानून बदल दिए. पहले कच्ची कालोनियों में नियम था कि काम नहीं हो सकता. मैंने खुद खड़े होकर रात दिन लगकर कच्ची कालोनियों में विकास कराया.''

मुख्यमंत्री ने कहा, ''केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा पिछले एक दो माह से सुन रहा हूं कालोनियों को पक्का कराएंगे. मैं पूछता हूं, पांच साल में क्यों नहीं कराए. मैं पांच साल नाली, सड़क बनवा रहा था तब कहां थी केंद्र सरकार. पांच साल पहले केंद्र सरकार कहां थी, अब दो माह से कच्ची कालोनियां याद आ रही हैं. लेकिन हाथ में रजिस्ट्री देने पर वह लोग चुप हैं. लेकिन आप चिंता न करना रजिस्ट्री भी दिलवाऊंगा. मेरा दिल जानता था, कैसे इन कालोनियों में काम कराया. वे फाइल रोकते थे, मैं लड़-लड़कर कराता था. उन लोगों ने पहले आपके सीसीटीवी कैमरे को रोका. मैं एलजी दफ्तर में दस दिन बैठा और फाइल कराकर लाया. उन्होंने आपके मोहल्ला क्लीनिक को रोका, उसे कराया. अब कच्ची कालोनियों की रजिस्ट्री कराकर ही दम लूंगा. इसके लिए मुझे चाहे जो करना पड़े.''

पानी पॉलिटिक्स : दो करोड़ की आबादी वाली दिल्ली शहर में यह कैसी सैंपलिंग?

उन्होंने कहा कि ''कच्ची कालोनियों की रजिस्ट्री पर केंद्र सरकार की नीयत खराब है. हमने दिल्ली में सरकार बनने के तत्काल बाद 12 नवंबर 2015 को कच्ची कालोनियों को वैध करने का प्रस्ताव भेजा. फिर 4 साल लगातार रजिस्ट्री के लिए संघर्ष किया, दबाव बनाया. उन्होंने कच्ची कालोनियों की रजिस्ट्री का काम रोकने के लिए सभी तरह के प्रयास किए. हम फिर भी नहीं माने और केंद्र सरकार पर कच्ची कालोनियों की रजिस्ट्री के लिए नियम बनाने का लगातार दबाव बनाए रखे. फिर भी अभी तक हाथ में रजिस्ट्री देने की बात कोई नहीं कर रहा.''

दिल्ली में अब पानी का कनेक्शन भी लगभग मुफ़्त, केजरीवाल ने किया ऐलान

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुराड़ी में 250 किलोमीटर लंबी सीवर लाइन योजना का शुभारंभ किया. सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुराड़ी के लोगों से पूछा, सत्तर साल में कोई सीएम आया. लोगों ने न में जवाब दिया. फिर सीएम ने कहा  ''मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं इसलिए आया हूं. कई महिलाएं आईं, वे बोलीं उज्जैन की यात्रा करके लौटी हूं. पहली बार कोई सरकार अपने बुजुर्गों को यात्रा करा रही. अपने बुजुर्ग, हरिद्वार, रामेश्वरम, कोणार्क, सब जगह जा रहे हैं.''

दिल्ली में पानी पर जारी जबरदस्त सियासत : अरविंद केजरीवाल ने स्वीकार की राम विलास पासवान की चुनौती

733t8fmo

दिल्ली जल बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ''बुराड़ी के संत नगर इलाके में सीवर लाइन डालने से यमुना नदी में प्रदूषण कम होगा. इस योजना के तरह संत नगर समूह कालोनियों में सीवर डाला जाएगा. 32 कालोनियों में सीवर डलेगा. साथ ही मुकंदपुर गांव में भी सीवर डलेगा. इसमें जमीन के अंदर और बाहर सीवर लाइन डलेगी. जिसे सीवेज बुराड़ी पंप हाउस से सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट भेजा जाएगा. इसकी लागत करीब 250 करोड़ रुपये हैं. यह काम 36 माह में पूरा होगा. इससे करीब साढ़े पांच लाख परिवारों को फायदा होगा.'' इस दौरान विधायक संजीव झा भी मौजूद थे.

दिल्ली में पानी पर सियासत, गुणवत्ता जांच की टीम में AAP विधायक के नाम पर छिड़ा विवाद

VIDEO : पानी को लेकर की जा रही गंदी राजनीति

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com