NDTV Khabar

भीम आर्मी की धमकी : 10 दिनों में रविदास मंदिर मुद्दा नहीं सुलझा तो भारत बंद का आह्वान

भीम आर्मी समर्थक 25 अगस्त को 'अंतरराष्ट्रीय धिक्कार दिवस' मनाएंगे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतले जलाएंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भीम आर्मी की धमकी : 10 दिनों में रविदास मंदिर मुद्दा नहीं सुलझा तो भारत बंद का आह्वान

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर.

खास बातें

  1. चंद्रशेखर तथा 95 अन्य के खिलाफ पुलिस कार्रवाई का विरोध
  2. गैरकानूनी तरीके से एकत्र होने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था
  3. आरोपियों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया
नई दिल्ली:

भीम आर्मी ने शुक्रवार को धमकी दी कि रविदास मंदिर का मुद्दा अगर 10 दिनों के अंदर नहीं सुलझा तो देशव्यापी बंद का आह्वान किया जाएगा. संगठन ने कहा कि उसके समर्थक 25 अगस्त को 'अंतरराष्ट्रीय धिक्कार दिवस' के रूप में मनाएंगे और अपने नेता चंद्रशेखर आजाद तथा 95 अन्य के खिलाफ पुलिस कार्रवाई के विरोध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतले जलाएंगे. भीम आर्मी के राष्ट्रीय महासचिव कमल सिंह वालिया ने कहा, ‘‘अगर 10 दिनों के अंदर गुरु रविदास मंदिर का निर्माण नहीं किया जाता है, तो हम भारत बंद का आह्वान करेंगे.''

उन्होंने कहा कि आजाद उस समय तक जमानत की मांग नहीं करेंगे जब तक उनके साथ गिरफ्तार अन्य लोगों को रिहा नहीं किया जाता. आजाद और 95 अन्य लोगों को दंगा और गैरकानूनी तरीके से एकत्र होने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था तथा उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

भीम आर्मी ने आजाद और अन्य प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी पर अपना पक्ष रखने के लिए शुक्रवार को महिला प्रेस क्लब (आईडब्ल्यूपीसी) में एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया था लेकिन आईडब्ल्यूपीसी ने इसे रद्द कर दिया. आईडब्ल्यूपीसी ने एक ईमेल में कहा कि हम यहां धार्मिक या राजनीतिक समारोहों या कार्यक्रमों की अनुमति नहीं देते हैं.


तुगलकाबाद में हिंसा: 100 से ज्यादा वाहन तोड़े, पुलिस पर किया हमला, भीम आर्मी के चीफ सहित 91 अरेस्ट

एक आईडब्ल्यूपीसी प्रतिनिधि ने कहा, ‘‘हम धार्मिक या राजनीतिक कार्यों की अनुमति नहीं देते हैं. उनकी तरफ से गलतफहमी थी.'' भीम आर्मी के प्रतिनिधियों ने क्लब के बाहर पत्रकारों से बात की.

टिप्पणियां

VIDEO : रविदास मंदिर पर राजनीति



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement