नागरिकता कानून : बीजेपी नेताओं ने हिंसक प्रदर्शनों का किया विरोध, लोगों को जागरूक किया

भाजपा के राज्यसभा सदस्य विजय गोयल नए कानून को लेकर मंगलवार को दिल्ली के सदर बाजार से जामा मस्जिद तक पदयात्रा करेंगे

नागरिकता कानून : बीजेपी नेताओं ने हिंसक प्रदर्शनों का किया विरोध, लोगों को जागरूक किया

बीजेपी नेता विजय गोयल (फाइल फोटो).

खास बातें

  • कहा- विपक्षी पार्टियां इसे राजनीति और वोट बैंक के नजरिये से देख रहीं
  • हाल में हुए हिंसक प्रदर्शनों के खिलाफ बीजेपी ने प्रदर्शन किया
  • मंगलवार को पदयात्रा में सभी धर्म और समूहों के लोग शामिल होंगे
नई दिल्ली:

भाजपा के राज्यसभा सदस्य विजय गोयल और पार्टी उपाध्यक्ष श्याम जाजू सहित पार्टी के नेताओं ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ हाल में हुए हिंसक प्रदर्शनों के खिलाफ शनिवार को प्रदर्शन किया और अजमेरी गेट क्षेत्र में इस कानून के बारे में जागरूकता उत्पन्न की. गोयल ने अपनी पार्टी का यह आरोप दोहराया कि कांग्रेस और आप सीएए के खिलाफ शहर में हुए हिंसक प्रदर्शनों के लिए जिम्मेदार हैं. गोयल ने कहा कि वह नए कानून को लेकर मंगलवार को सदर बाजार से जामा मस्जिद तक पदयात्रा करेंगे.

उन्होंने कहा कि इस पदयात्रा में सभी धर्म और समूहों के लोग शामिल होंगे और इस बारे में सूचना फैलाएंगे कि यह कानून किसी की नागरिकता नहीं लेता. जाजू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने देश की सुरक्षा चिंताओं के समाधान के लिए यह संशोधित कानून लाया है. उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘विपक्षी पार्टियां इसे राजनीति और वोट बैंक के नजरिये से देख रही हैं और इसी कारण से वे एक विशेष समुदाय में झूठ फैला रही हैं.''

गोयल ने दावा किया कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) पर अभी कोई चर्चा नहीं हुई है और इसको लेकर लोगों को भ्रमित किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) प्रत्येक 10 वर्षों पर अद्यतन किया जाता है और इससे सरकार को नीतियां बनाने में मदद मिलती है.

नागरिकता कानून पर अभिजीत बनर्जी : "एक बात जो मुझे चिंतित करती है..."

VIDEO : CAA से नहीं जाएगी किसी की नागरिकता



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com