गुजरात : प्रदर्शन में हिस्सा लेकर ऊना से लौट रहे दलितों पर हमले के आरोप में 22 गिरफ्तार

गुजरात : प्रदर्शन में हिस्सा लेकर ऊना से लौट रहे दलितों पर हमले के आरोप में 22 गिरफ्तार

सोमवार को ऊना में दलितों की रैली में हजारों की भीड़ जुटी थी

खास बातें

  • ऊना से भावनगर लौट रहे दलितों पर हुआ था हमला
  • हमले में 12 दलित घायल, 8 की हालत गंभीर
  • हिंसक भीड़ ने पुलिसकर्मियों को भी बनाया निशाना
अहमदाबाद:

ऊना शहर में एक विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेने के बाद भावनगर लौट रहे दलितों पर हमला करने के साथ ही पुलिसकर्मियों को निशाना बनाने के मामले में 22 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

अहमदाबाद से करीब 350 किलोमीटर दूर ऊना के निकट समतेर गांव में सोमवार शाम यह हमला किया गया था. दलितों को निशाना बनाने वाली हिंसक भीड़ को काबू करने का प्रयास करने वाले पुलिसकर्मियों को भी निशाना बनाया गया. कथित हमलावर गिर-सोमनाथ जिले में ऊना शहर से करीब 11 किलोमीटर दूर समतेर गांव के निवासी हैं.

गिर-सोमनाथ के पुलिस अधीक्षक एचआर चौधरी ने मंगलवार को कहा, 'रैली के बाद असमाजिक तत्वों ने दलितों के लौटते वक्त समतेर के निकट सड़क को अवरूद्ध कर दिया. उन लोगों ने दलितों के एक समूह पर हमला कर दिया. हमने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और हवा में गोलियां चलाईं और लाठियां चलाईं.' उना पुलिस निरीक्षक एचजी वाघेला के मुताबिक दंगा करने, दलितों के साथ ही पुलिसकर्मियों के साथ भी मारपीट करने के आरोप में इन लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

भीड़ को नियंत्रित करने की कोशिश में घायल हुए वाघेला ने बताया कि उनमें से कुछ पर हत्या की कोशिश के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. कम से कम 12 दलित घायल हो गए और उनमें से आठ की हालत गंभीर है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)