NDTV Khabar

पराली से प्रदूषण कैसे रुके? सीएम केजरीवाल ने दिल्ली वासियों से मांगे सुझाव

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रदूषण रोकने के लिए 12 सितंबर तक ई-मेल पर सुझाव आमंत्रित किए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पराली से प्रदूषण कैसे रुके? सीएम केजरीवाल ने दिल्ली वासियों से मांगे सुझाव

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली में अक्टूबर-नवंबर में पराली की वजह से प्रदूषण हर साल बढ़ता है. दिल्ली के लोग बताएं कि क्या कदम उठाए जा सकते हैं. उन्होंने CM4cleanair@gmail.com पर 12 सितंबर तक सुझाव आमंत्रित किए हैं.

केजरीवाल ने कहा कि वैसे खुशखबरी है कि दिल्ली में प्रदूषण घटना शुरू हुआ है. तीन साल में प्रदूषण में भारी कमी आई है. दिल्ली में 25 प्रतिशत प्रदूषण कम हो गया है. अब 24 घंटे बिजली आती है. इसका सबसे ज़्यादा असर प्रदूषण पर पड़ा है. उन्होंने कहा कि पावर कट 80-90 फीसदी कम हुआ, जिससे जनरेटर चलने बंद हुए. करीब पांच लाख जनरेटर दिल्ली में थे. अब आपको कहीं जनरेटर चलता नहीं मिलता.

उन्होंने कहा कि दूसरा सबसे ज़्यादा फर्क ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरीफेरल बनने से हुआ. ट्रक अब बाहर से निकल जाते हैं. साथ में एनवायरांमेंट कम्पेनसेशन ईस्टर्न पेरीफेरल से 30 प्रतिशत ट्रक दिल्ली में आने कम हुए. CRRI के मुताबिक ईस्टर्न से 7 प्रतिशत पॉल्युशन कम हुआ.


फिर 'गैस चैंबर' बन रही दिल्ली, इन 5 कारणों से प्रदूषण दिल्लीवालों का दम घोंट रहा है

केजरीवाल ने कहा कि तीसरा असर डस्ट कम होने से हुआ. कंस्ट्रक्शन साइटों पर कार्रवाई की जिससे डस्ट कवर होती है. एक साल में आठ करोड़ की पेनाल्टी डस्ट के लिए हुई. इसके अलावा फोरेस्टेशन 2015 के 20.2 प्रतिशत से बढ़कर 2019 में 20.6 फीसदी हो गया. पेड़ लगाने से पॉल्युशन कम हुआ.

टिप्पणियां

VIDEO : क्या प्रदूषण चुनावी मुद्दा नहीं है



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement