जयपुर : 'इंडियन ऑयल का गिरफ्तार मैनेजर ISIS के सदस्यों से ऑनलाइन संपर्क में था'

जयपुर : 'इंडियन ऑयल का गिरफ्तार मैनेजर ISIS के सदस्यों से ऑनलाइन संपर्क में था'

जयपुर:

अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया का कथित तौर पर इंटरनेट पर प्रचार-प्रसार करने व अन्य लोगों को इसका सदस्य बनने के लिए प्रेरित करने के आरोप में एटीएस, राजस्थान ने मोहम्मद सिराजुद्दीन नामक व्यक्ति को गुरुवार को गिरफ्तार किया है। मोहम्मद सिराजुद्दीन गुलबर्गा की गतिविधियां संदिग्ध होने की सूचना प्राप्त होने पर उसका सत्यापन किया गया।

आईएस के लिए ऑनलाइन भर्ती करने में था शामिल
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (एटीएस एवं एसओजी) डॉ आलोक त्रिपाठी ने बताया कि मोहम्मद सिराजुद्दीन का आईएस के सक्रिय सदस्यों के साथ दोतरफा संपर्क था। वह आईएस के विदेश में मौजूद महत्वपूर्ण सदस्यों से ऑनलाइन बातचीत करता था। वह आईएस के लिए भारत सहित कई देशों से लोगों की ऑनलाइन भर्ती करवाता था। हालांकि उसकी सारी गतिविधियां ऑनलाइन और सोशल मीडिया के जरिये होती थीं। उसका कोई पिछला आपराधिक रिकॉर्ड नहीं था।

पुख्ता सूचनाएं मिलने पर एटीएस ने की कार्रवाई
इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, जयपुर में मार्केटिंग मैनेजर मोहम्मद सिराजुद्दीन प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया का सक्रिय सदस्य होने एवं अन्य मुस्लिम युवाओं को इस्लामिक स्टेट के लिए कार्य करने के लिए उकसाने की पुख्ता जानकारी प्राप्त होने पर एटीएस के अधिकारियों ने जांच की। जांच में मोहम्मद सिराजुद्दीन का व्हाट्सएप्प, फेसबुक, टेलीग्राम आदि पर आतंकी संगठन के प्रचार-प्रसार में लिप्त होना पाया गया।

युवाओं को फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर उकसा रहा था
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (एटीएस एवं एसओजी) डॉ आलोक त्रिपाठी ने बताया कि प्राप्त सूचना के सत्यापन, पूछताछ एवं डाटा विश्लेषण से मोहम्मद सिराजुद्दीन द्वारा इंटरनेट का प्रयोग कर मुस्लिम युवकों, युवतियों को भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया की विचारधारा में शामिल कर उन्हें आईएसआईएस में भर्ती करने की आपराधिक दुष्प्रेरणा का खुलासा हुआ है। मोहम्मद सिराजुद्दीन ने व्हाट्सएप्प, फेसबुक, टेलीग्राम आदि पर कई समूह बनाए जिनमें आईएसआईएस की आतंकी एवं जेहादी विचारधारा का प्रचार-प्रसार किया गया। उसने अन्य व्यक्तियों को इस्लामिक स्टेट में शामिल होने के लिए प्रेरित करने वाले आपत्तिजनक मैसेज, फोटो व वीडियो बड़ी मात्रा में पोस्ट किए। सिराजुद्दीन ने आईएसआईएस की ऑनलाईन मासिक पत्रिका ‘‘दाबिक’’ के कई अंक भी प्राप्त किए।

सिराजुद्दीन से जुड़े संपर्कों को खंगाल रही एटीएस
डॉ त्रिपाठी ने बताया कि मोहम्मद सिराजुद्दीन के इस्लामिक स्टेट के अन्य भारतीय एवं विदेशी सदस्यों से सम्पर्कों के बारे में जानकारी प्राप्त की जा रही है। डॉ त्रिपाठी ने बताया कि एटीएस ने पुलिस थाना एसओजी, राजस्थान, जयपुर में विधि विरुद्ध क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम 1967 के अंतर्गत अभियोग दर्ज कराया है। मुल्जिम को गिरफ्तार कर लिया गया है और जांच जारी है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com