JNU में हिंसा के बाद सुरक्षा के डर से कई छात्राओं ने यूनिवर्सिटी कैंपस छोड़ा

दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर से कुछ छात्राएं अपने घर लौट गईं और कुछ अपने रिश्तेदारों के यहां चली गईं

JNU में हिंसा के बाद सुरक्षा के डर से कई छात्राओं ने यूनिवर्सिटी कैंपस छोड़ा

जेएनयू में रविवार को हिंसा की घटना हुई थी.

खास बातें

  • छात्राओं को छात्रावास से अपने बैग लेकर बाहर निकलते देखा गया
  • छात्राओं के परिजन हिंसा के बाद उनकी सुरक्षा को लेकर चिंतित
  • नेपाल की एक छात्रा से उसके माता-पिता ने कैंपस छोड़ने को कहा
नई दिल्ली:

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में रविवार रात हुई हिंसा के बाद छात्राएं सुरक्षा के डर से सोमवार को परिसर छोड़कर जाने लगीं. कुछ अपने घर लौट गईं और कुछ अपने रिश्तेदारों के यहां चली गई हैं. उन्हें छात्रावास से अपने बैग लेकर बाहर निकलते देखा गया. दक्षिणी दिल्ली स्थित विश्वविद्यालय परसिर से बाहर निकल रही कई छात्राओं ने नाम गोपनीय रखने का आग्रह किया और कहा कि उनके परिजन रविवार को हुई हिंसा के बाद उनकी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं.

कोयना छात्रावास की पंचम ने कहा कि वह अपनी सुरक्षा के डर से परिसर छोड़ रही हैं. उन्होंने कहा कि मेरे माता-पिता मेरी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं और वह वापस हरियाणा जा रही हैं.

नेपाल की रहने वाली एक छात्रा ने कहा कि उसके माता-पिता ने उससे कैंपस छोड़ने को कहा है. हालांकि यहां कुछ अपवाद भी देखने को मिले जिन्होंने कहा कि वे परिसर छोड़कर नहीं जाएंगी क्योंकि उनकी कुछ जिम्मेदारियां हैं.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com