मुंबई : व्हाट्सऐप पर वीडियो भेजकर पत्नी को तलाक दिया

मीरा रोड में रहने वाली फरहानाज़ खान की 25 मई 2012 को विरार के यावर मंसूर खान से शादी हुई थी.

मुंबई : व्हाट्सऐप पर वीडियो भेजकर पत्नी को तलाक दिया

फरहानाज़ खान..

मुंबई:

मुंबई से सटे मीरा रोड में ट्रिपल तलाक़ का एक अनोखा मामला सामने आया है. लंदन रिटर्न दूल्हे ने व्हाट्सऐप  से वीडियो भेजकर अपनी पत्नी को तलाक दे दिया. ट्रिपल तलाक को सुप्रीम कोर्ट द्वारा गैरकानूनी करार दिए जाने के बाद भी देश मे ट्रिपल तलाक की घटनाएं रुक नहीं रही हैं. एक पति ने व्हाट्सऐप से वीडियो भेज अपनी पत्नी को तलाक दे दिया. पत्नी का कहना है वो अलग होने के लिए तैयार है. लेकिन तलाक देश के कानून के हिसाब से ही हो, बस इसलिए कोई तलाक नहीं दे सकता कि उसे दुसरी शादी करनी है. मीरा रोड में रहने वाली फरहानाज़ खान की 25 मई 2012 को विरार के यावर मंसूर खान से शादी हुई थी.

यावर शादी के पहले लंदन में रहता था. वहां उसने होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया है और अब विरार में चिकन की दुकान चला रहा है साथ मे भवन निर्माण से भी जुड़ा है. फरहनाज का दावा है कि उसके पिता ने 70 तोला सोना दहेज में दिया था. उसके बाद भी पति यावर मंसूर खान ने शादी के बाद व्यापार के लिए बार बार पैसे मांगे. पैसे नही मिलने पर मारपीट तक की.

यह भी पढ़ें : बहुविवाह और हलाला को असंवैधानिक करार देने की मांग, सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

इसके बाद ससुराल वालों ने फरहानाहज़ को घर छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया. फरहानाज़ को ससुराल छोड़ पिता के यहां वापस आना पड़ा. इस बीच दोनों के घर वालो के बीच सुलह की कोशिश भी हुई लेकिन मामला सुलझने की बजाय बिगड़ता गया. इससे नाराज होकर पति यावर ने नवंबर 2017 में  व्हाट्सऐप से वीडियो भेज तलाक़ दे दिया.

फरहानाज़ की वकील रंजन राजगोर के मुताबिक फरहानाज़ के पति ने पिछले साल जब वीडियो से तलाक दिया तब सुप्रीम कोर्ट का तीन तलाक़ के खिलाफ फैसला आ चुका था. ये पूछने पर कि तब क्यों नही फरहानाज़ ने शिकायत की या मीडिया के सामने आई? वकील ने  बताया कि फरहानाज़ अब तक इसलिए चुप थी क्यूोंकि वो नही चाहती थी कि उसकी निजी जिंदगी तमाशा बन जाये. लेकिन 21 अप्रैल 2018 को ठाणे सेशन कोर्ट में घरेलू उत्पीड़न मामले की सुनवाई के दौरान पति यावर ने मारपीट की इसलिए अब उसे बेनकाब करना जरूरी हो गया ताकि दूसरी किसी महिला के साथ इस तरहं का अन्याय ना हो.

VIDEO : बजट सत्र में ट्रिपल तलाक बिल पास होना मुस्लिम महिलाओं के लिए उपहार होगा : पीएम मोदी​
फरहानाज़ ने हाल के दिनों में देश के अलग -अलग हिस्सों में निकले तलाक विरोधी मोर्चों में महिलाओं के शामिल होने को गलत बताया. फरहानाज़ ने बताया कि वो सब महिलाएं अनजान हैं और दबाव में आकर मोर्चे में शामिल हो रही है. फरहानाज़ एक पढ़ी लिखी लड़की है इसलिए उसने तीन तलाक को मानने से इंकार कर दिया है. उसका कहना है कि ये देश के कानून और शरीयत दोनों का अपमान है. फरहानाज़ का आरोप है उसके पति ने इस बीच दूसरी एक लड़की से सगाई कर ली है जो गलत है. गौरतलब है कि यावर फरहानाज़ के मामा का ही बेटा है. एनडीटीवी ने इस संबंध जब फ़ोन पर यावर से संपर्क किया तब यावर ने व्यस्त होने का हवाला दिया और कहा कि 10 मिनट बाद फ़ोन करता हूं लेकिन फोन नही आया.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com