NDTV Khabar

दूसरे दिन सम संख्या वाली कारें सड़कों पर उतरीं, उपमुख्यमंत्री सिसोदिया साइकिल से दफ्तर पहुंचे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दूसरे दिन सम संख्या वाली कारें सड़कों पर उतरीं, उपमुख्यमंत्री सिसोदिया साइकिल से दफ्तर पहुंचे
नई दिल्ली: दिल्ली में सम-विषम वाहन योजना के तहत सम संख्या वाली कारें आज दिल्ली की सड़कों पर उतरीं और विषम संख्या वाली सड़कों से दूर रहीं। नियम का पालन करते हुए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया साइकिल से आज कार्यालय पहुंचे। विशेषज्ञों का कहना है कि कम संख्या में कारों का प्रभाव फिलहाल हवा में मौजूद पार्टिकुलेट मैटर के स्तर पर नहीं दिखा है और अगर कोई बदलाव होता है तो यह रात आठ बजे तक स्पष्ट होगा।

मध्य दिल्ली के मुख्य चौराहों सहित पूरे महानगर में यातायात पुलिस नियम का उल्लंघन करने वालों को रोकती दिखीं। यातायात और महानगर के परिहवन विभाग ने फॉर्मूले का उल्लंघन करने वाले 200 वाहन चालकों को चालान किया। महानगर में प्रदूषण को कम करने के उद्देश्य से कल से सम-विषम योजना शुरू की गई थी और इससे सड़कों पर काफी कम संख्या में कारें उतरीं।

सिसोदिया की कार का नम्बर विषम है इसलिए आज सुबह साढ़े आठ बजे अपने आवास से साइकिल से वह आकाशवाणी पहुंचे और वहां रेडियो शो में हिस्सा लेने के बाद साइकिल से दिल्ली सचिवालय पहुंचे।

इस पहल से 'आह्लादित' मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आप सरकार के इस कदम का लोगों ने स्वागत किया है और दिल्ली देश के बाकी हिस्से को 'रास्ता दिखाएगी।' यह पायलट योजना 15 जनवरी तक लागू रहेगी।

सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च के प्रारंभिक आकलन के मुताबिक कम वाहन उत्सर्जन का ज्यादा लाभ दिखता अगर 31 दिसम्बर की रात को पटाखे नहीं चलाए जाते और उस दिन कम वाहन सड़कों पर रहता।

इससे पहले ऑड-ईवन के हिसाब से गाड़ी चलाने के फ़ॉर्मूले पर पहले दिन शुक्रवार को मिली कामयाबी से दिल्ली सरकार गदगद दिख रही है। इधर, दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय का कहना है कि दिल्ली की जनता प्रदूषण से निपटने के लिए तैयार है। जगह-जगह बच्चे वॉलंटियर बनकर बड़ों को कायदे-कानून मानने का संदेश देते नज़र आए।

(इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement