सत्येंद्र जैन ने कहा- दिल्ली के लोग कोरोना से न घबराएं, मास्क और सैनेटाइजर की जरूरत सिर्फ इन लोगों को

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन से NDTV इंडिया की खास बातचीत, कहा- पहले सिर्फ चार देशों के यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही थी अब सभी देशों के यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही

सत्येंद्र जैन ने कहा- दिल्ली के लोग कोरोना से न घबराएं, मास्क और सैनेटाइजर की जरूरत सिर्फ इन लोगों को

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि लोगों को कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है.

खास बातें

  • जैन ने लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड का दौरा किया
  • कहा- लोग हेल्दी लाइफ़स्टाइल अपनाएं, इम्युनिटी मजबूत रहेगी तो सब ठीक
  • कोरोना से निपटने के लिए 25 अस्पतालों में 230 बेड आइसोलेशन के तैयार
नई दिल्ली:

दिल्ली में कोरोना वायरस को लेकर दहशत की स्थिति बन गई है. दिल्ली में हालात से निपटने के लिए तैयारी कर ली गई है. इसको लेकर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने दिल्ली सरकार के लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने NDTV से बातचीत में कहा कि किसी को घबराने की ज़रूरत नहीं है, सतर्क रहने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को मास्क लगाने की जरूरत नहीं है. यह सिर्फ उन लोगों के लिए जरूरी है जिनमें या तो कोरोना के लक्षण दिखाई दे रहे हैं, या फिर वे लोग जो पैरामेडिकल स्टाफ के सदस्य हैं. उन्होंने यह भी कहा कि सैनिटाइजर की भी जरूरत नहीं है. हाथ साबुन से धोना सबसे अच्छा है.   

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने कहा कि पहले सिर्फ चाार देशों के यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही थी अब सभी देशों के यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है. हमारे पास कोरोना से निपटने के लिए 25 अस्पतालों में 230 बेड आइसोलेशन के तैयार हैं. किसी को घबराने की ज़रूरत नहीं है, सतर्क रहने की ज़रूरत है.

सैनिटाइजर, मास्क की किल्लत और कीमत पर जैन ने कहा कि मास्क की ज़रूरत सिर्फ़ उसको है जिसमें कोरोना के लक्षण दिखें, ताकि वह दूसरों में न फैलाए. मास्क की जरूरत उन हेल्थ वर्करों को है जो उनके संपर्क में नियमित रूप से हैं. यानी डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ को जरूरत है. आम जनता को मास्क लगाने की बिल्कुल जरूरत नहीं है. अगर आप मुंह पर रूमाल भी लगा देते हैं तो वह काफी होगा. वह भी तब जब आपको लगे कि आप में लक्षण हैं.

कोरोना वायरस से प्रभावित देशों से आए 16,076 लोगों को भारतीय बंदरगाहों पर उतरने की नहीं मिली अनुमति

सत्येंद्र जैन ने कहा कि अगर आप साबुन और पानी से हाथ नहीं धो पा रहे हैं तब के लिए सैनिटाइजर चाहिए होता है. लोगों को लग रहा है कि सैनिटाइजर कोई दवाई है जबकि सैनिटाइजर कोई दवाई नहीं है. सैनिटाइजर की जरूरत तभी है जब पानी और साबुन उपलब्ध नहीं है वरना साबुन और पानी से हाथ धोने से बढ़िया कुछ नहीं है.

कोरोना वायरस : दिल्ली सरकार ने बायोमेट्रिक से हाजिरी लगाने को निलंबित करने की सलाह दी

उन्होंने बताया कि Arsenic Album 30 एक दवाई है जो सोशल मीडिया में और व्हाट्सऐप पर बहुत तेजी से वायरल हो रही है. दावा यह किया जा रहा है कि केंद्र सरकार की आयुष मिनिस्ट्री ने इसको रिकमंड किया है. अभी तक विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्ल्यूएचओ ने कोरोना की कोई दवाई एप्रूव नहीं की है.अगर केंद्रीय आयुष मंत्रालय इसको मंजूर करता तो हमको भी बताता,  लेकिन हमें अब तक ऐसा कुछ नहीं बताया गया है.

कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली के सभी प्राइमरी स्कूल 31 मार्च तक रहेंगे बंद

सत्येंद्र जैन ने कहा कि कोरोना की कोई मेडिसिन अभी नहीं है, इसलिए लोगों को इसके चक्कर में पड़ने की जरूरत नहीं है. जरूरत है कि लोग हेल्दी लाइफ़स्टाइल अपनाएं इम्युनिटी मजबूत रहेगी तो सब ठीक रहेगा.

कोरोना वायरस को लेकर राहुल गांधी का सरकार पर तंज, 'टाइटैनिक का कैप्टन यात्रियों से कह रहा है घबराने की जरूरत नहीं'

VIDEO : एम्स के डॉक्टर ठक्कर ने कहा, कोरोना से बचें, डरें नहीं

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com