दिल्ली के तीनों नगर निगमों के महापौरों ने केजरीवाल के घर के बाहर धरना दिया

करोड़ों रुपये के कोष के मुद्दे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की मांग की, मंत्री सत्येंद्र जैन ने की मुलाकात

दिल्ली के तीनों  नगर निगमों के महापौरों ने केजरीवाल के घर के बाहर धरना दिया

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

बीजेपी (BJP) शासित तीनों नगर निगमों के महापौरों ने सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के आवास के बाहर धरना देकर करोड़ों रुपये के कोष के मुद्दे पर उनसे मुलाकात की मांग की. महापौरों ने दावा किया कि यह कोष निगमों का आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार पर बकाया है. तीनों महापौरों जयप्रकाश (उत्तरी दिल्ली), अनामिका (दक्षिणी दिल्ली) और निर्मल जैन (पूर्वी दिल्ली) ने संयुक्त रूप से दावा किया कि निगमों के दिल्ली सरकार पर कुल 13,000 करोड़ रुपये बकाया हैं.

उत्तरी दिल्ली के महापौर जय प्रकाश ने कहा कि वह और दो अन्य महापौर इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री से मुलाकात की मांग करने के लिए सुबह करीब 11 बजे उनके आवास पर पहुंच गए थे. जयप्रकाश ने कहा, ''तीनों महापौर सुबह से जमीन पर बैठे हैं और संविधान को कायम रखने की बात करने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री ने महापौर के संवैधानिक पद और तीन नेताओं का अपमान किया है, जो दिल्ली के प्रथम नागरिक हैं.''

बीजेपी के तीनों नेता सुबह से धरने पर बैठे थे. इसके बाद दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन आए और उनसे मुलाकात की, जिसके बाद उन्होंने धरना खत्म किया.

Newsbeep

दिल्ली : नगर निगम के अस्पतालों में वेतन नहीं मिलने पर हड़ताल कर रहे डॉक्टरों को मिला समर्थन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली बीजेपी के एक पदाधिकारी ने दावा किया कि मंत्री ने तीनों महापौरों को निगमों का बकाया कोष जल्द ही जारी करने का आश्वासन दिया है. हालांकि जैन ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री के निर्देश पर महापौरों को मुलाकात के लिए बुलाया था लेकिन वे नहीं आए.