देश में पहली बार हुआ ऐसा, दिव्यांग क्रिकेटरों की जागी उम्मीदें!

लोढा कमेटी की सिफारिशों के बावजूद भारतीय क्रिकेट संघ दिव्यांग क्रिकेटरों की तरफ़ अभी भी आंखे फेरे बैठा है, लेकिन इसमें इन खिलाड़ियों की उम्मीद बनकर सामने आया है PCCAI ( Physically Challenged Cricket Association of India).

देश में पहली बार हुआ ऐसा, दिव्यांग क्रिकेटरों की जागी उम्मीदें!

नई दिल्ली:

लोढा कमेटी की सिफारिशों के बावजूद भारतीय क्रिकेट संघ दिव्यांग क्रिकेटरों की तरफ़ अभी भी आंखे फेरे बैठा है, लेकिन इसमें इन खिलाड़ियों की उम्मीद बनकर सामने आया है PCCAI ( Physically Challenged Cricket Association of India).
पीसीसीएआई ने दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए देश में पहली बार कॉन्ट्रेक्ट सिस्टम लागू किया है, जिसके तहत 20 दिव्यांग खिलाड़ियों को Grade-A, Grade-B और Grade-C की श्रेणी में बांटा गया है.

ग्रेड-A खिलाड़ियों को साल का 30 हज़ार रुपये, ग्रेड-B खिलाड़ियों को 20 हज़ार और ग्रेड-C खिलाड़ियों को साल का 10 हज़ार रूपये दिए जाएंगे. ये दिव्यांग क्रिकेट के इतिहास में पहली बार हुआ है. ये ग्रेडिंग सिस्टम उसी तर्ज पर बनाया गया है जिस तर्ज पर बीसीसीआई अपने अहम खिलाड़ियों के लिए बनाती है. 

पीसीसीएआई के सचिव रवि चौहान की मानें तो ये सिर्फ़ शुरुआत है और अभी लंबा सफर तक करना बाकी है. अभी रकम ज़्यादा नहीं है लेकिन जैसे लोग हमारे साथ जुड़ते जाएंगे हम ये रकम भी बढ़ाएंगे और खिलाड़ियों की संख्या में भी इजाफा होगा, पर हमें इस समय BCCI का साथ नहीं मिल रहा. अगर ऐसा हो जाता तो हमारे लिए काम करना आसान हो जाएगा और ज्यादा से ज्याजा दिव्यांग  खिलाड़ियों को हम फ़ायदा पहुंचा पाएंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com