ऐसे क्रिकेटर जिन्होंने टेस्ट में भारत की ओर से किया डेब्यू, बाद में पाकिस्तान की तरफ से खेले

भारत और पाकिस्तान (India-Pakistan Cricket) के बंटवारे से पहले कुछ ऐसे भी खिलाड़ी रहे जिन्होंने अपना डेब्यू टेस्ट भारत के लिए खेला लेकिन बंटवारे के बाद वो खिलाड़ी पाकिस्तान चले गए

ऐसे क्रिकेटर जिन्होंने टेस्ट में भारत की ओर से किया डेब्यू, बाद में पाकिस्तान की तरफ से खेले

ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने डेब्यू भारत के लिए किया लेकिन बाद में पाकिस्तान टीम के लिए खेले

खास बातें

  • ऐसे क्रिकेटर जो भारत और पाकिस्तान की तरफ से इंटरनेशनल क्रिकेट खेले
  • भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद कुछ खिलाड़ी पाकिस्तान जाकर बस गए
  • पाकिस्तान ने पहला टेस्ट मैच साल 1952 में भारत के खिलाफ खेला था

क्रिकेट के इतिहास (Cricket History) में कुछ घटनाएं ऐसी हुई है जो काफी दिलचस्प रही है. खासकर भारत-पाकिस्तान (India-Pakistan Cricket) के क्रिकेट इतिहास में क्रिकेट फैन्स को खूब मनोरंजक और दिलचस्प बातें पढ़ने और देखने मिलती है. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team 1st Test match ever) ने अपना पहला टेस्ट मैच 1932 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला तो वहीं पाकिस्तान की टीम ने पहला टेस्ट मैच (Pakistan Cricket Team 1st Test match ever) 1952 को भारत के खिलाफ खेला था. भारत और पाकिस्तान की ओर से टेस्ट क्रिकेट में कई ऐसे खिलाड़ी हुए हैं जिन्होंने अपना वर्चस्व टेस्ट क्रिकेट में बनाया. वहीं, दूसरी ओर भारत और पाकिस्तान के बंटवारे से पहले कुछ ऐसे भी खिलाड़ी रहे जिन्होंने अपना डेब्यू टेस्ट भारत के लिए खेला लेकिन बंटवारे के बाद वो खिलाड़ी पाकिस्तान चले गए और फिर पाकिस्तान क्रिकेट टीम की ओर से टेस्ट क्रिकेट खेला. ऐसे ही कुछ अनोखे खिलाड़ी के बारे में जानते हैं.

आमिर इलाही (Amir Elahi)

आमिर इलाही (Amir Elahi) ऐसे क्रिकेटर रहे हैं जिन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच भारत के लिए खेला लेकिन जब भारत-पाकिस्तान अलग हुए तो इलाही पाकिस्तान में जाकर बस गए. पाकिस्तान में बसने के बाद वो पाकिस्तान क्रिकेट टीम की ओर से खेले. आमिर इलाही (Amir Elahi) का जन्म 1 सितंबर 1908 को लाहौर में हुआ था. उस वक्त लाहौर भारत का हिस्सा था. आमिर इलाही (Amir Elahi) ने अपना टेस्ट डेब्यू भारत के लिए साल 1947 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्ट में किया. इलाही लेग ब्रेक गुगली के उस्ताद थे. भारत के लिए पहला टेस्ट मैच खेलने के बाद इलाही भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद पाकिस्तान के लाहौर में ही रहे. पाकिस्तान के लिए फिर इलाही ने अपना पहला टेस्ट मैच भारत के खिलाफ ही खेला. साल 1952 में पाकिस्तान के पहले टेस्ट मैच का आमिर इलाही हिस्सा रहे. यह टेस्ट मैच दिल्ली में खेला गया  था. बता दें कि आमिर इलाही पाकिस्तान की ओर से पहला टेस्ट कैप पाने वाले खिलाड़ी हैं. अपने टेस्ट करियर में उन्होंने 6 टेस्ट मैच खेले जिसमें एक टेस्ट मैच भारत के लिए खेला था. 6 टेस्ट मैचों के दौरान उन्होंने 7 विकेट हासिल किए. वैसे इलाही ने 125 फर्स्ट क्लास मैच भी खेले. 

अब्दुल हफीज़ कारदार (Abdul Kardar)

अब्दुल कारदार (Abdul Kardar) का जन्म 17 जनवरी 1925 को लाहौर में हुआ था. भारत से पाकिस्तान के अलग होने से पहले उन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच भारत की ओर से खेले थे. 1946 में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट में कारदार भारतीय टीम का हिस्सा थे. कारदार (Abdul Kardar) ने अपने टेस्ट करियर में 26 मैच खेले जिसमें 3 टेस्ट मैच उन्होंने भारत की ओर से खेले. भारत की ओर से 3 टेस्ट मैचों में कारदार ने 80 रन बनाए तो वहीं 23 टेस्ट मैच पाकिस्तान की ओर से खेले. पाकिस्तान की तरफ से 23 टेस्ट मैच कारदार ने 954 रन बनाए और 21 विकेट लेने में सफल रहे थे. बता दें कि भारत से पाकिस्तान के अलग होने के बाद कारदार लाहौर में ही रहे और फिर साल 1952 में जब पाकिस्तान की टीम भारत आई तो वो पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान के तौर पर टेस्ट मैच खेलने आए थे. हालांकि पहले टेस्ट में भारत ने पाकिस्तान को हराया था लेकिन सीरीज के दूसरे टेस्ट में पाकिस्तान की टीम को जीत मिली थी. अब्दुल कारदार की कप्तानी में इंटरनेशनल क्रिकेट में पाकिस्तान की पहली जीत थी. Abdul Hafeez Kardar को पाकिस्तान क्रिकेट में पितातुल्य माना जाता है. 

गुल मोहम्मद (Gul Mohammad)

पाकिस्तान के एक और क्रिकेटर जिन्होंने टेस्ट में भारत की ओऱ से डेब्यू किया 8 टेस्ट मैच खेले लेकिन अपना आखिरी टेस्ट मैच पाकिस्तान की ओर से खेले. Gul Mohammad 1946 से लेकर 1952 तक भारतीय टीम का हिस्सा रहे थे, लेकिन बाद में उन्हें आखिर में पाकिस्तान में बसना पड़ा. अपने टेस्ट करियर का आखिरी टेस्ट मैच गुल मोहम्मद ने पाकिस्तान की ओर से खेला था. साल 1956 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कराची टेस्ट में उन्होंने पाकिस्तान की ओर से अपना टेस्ट डेब्यू किया. हालांकि वो पाकिस्तान की ओऱ से केवल 1 ही टेस्ट मैच खेल पाए. पाकिस्तान की ओर से पहले टेस्ट में उन्होंने पहली पारी में 12 रन औऱ दूसरी पारी में नाबाद 27 रनों की पारी खेली थी. गुल मोहम्मद का इंटरनेशनल करियर उतना सफल नहीं रहा जितना उनका फर्स्ट क्लास करियर सफल रहा. 118 फर्स्ट क्लास मैच में गुल मोहम्मद ने 5614 रन बनाए जिसमें 12 शतक और 21 अर्धशतक शामिल रहा. क्रिकेट से अलग रहने के बाद उन्होंने अंपायरिंग में भी हाथ आजमाया था. 

रणजी ट्रॉफी में गुल मोहम्मद (Gul Mohammad) ने खेली थी 319 रनों की पारी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

1946-47 रणजी ट्रॉफी फाइनल (Ranji Trophy Final 1946-47) में होलकर्स के खिलाफ बड़ौदा की ओर से खेल रहे गुल मोहम्मद ने शानदार 319 रन बनाए थे. इस पारी के दौरान उन्होंने भारतीय क्रिकेटर विजय हजारे  के साथ यादगार साझेदारी की थी जो आप भी याद की जाती है. उन्होंने विजय हजारे (Vijay Hazare) के साथ चौथे विकेट के लिए 577 रनों की साझेदारी थी, हजारे ने भी 288 रनों की पारी खेलकर बड़ौदा की टीम को पहली पारी में 784 रन बनवाने में अहम भूमिका निभाई थी. बड़ौदा की टीम यह टेस्ट मैच एक पारी औऱ 409 रन से जीतने में सफल रही थी. 

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.