NDTV Khabar

भारत से टेस्‍ट सीरीज हारना भारी पड़ा, एलिस्‍टर कुक ने किया इंग्‍लैंड की टेस्‍ट की कप्‍तानी छोड़ने का ऐलान

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत से टेस्‍ट सीरीज हारना भारी पड़ा, एलिस्‍टर कुक ने किया इंग्‍लैंड की टेस्‍ट की कप्‍तानी छोड़ने का ऐलान

कुक की कप्‍तानी में इंग्‍लैंड को भारत के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में हार का सामना करना पड़ा था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. खिलाड़ी के रूप में इंग्‍लैंड के लिए खेलते रहेंगे कुक
  2. इंग्‍लैंड के लिए सबसे ज्‍यादा टेस्‍ट मैच में कप्‍तानी की
  3. जो रूट को सौंपी जा सकती है इंग्‍लैंड टीम की कमान

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान एलिस्टर कुक (Alastair Cook) ने टेस्‍ट की कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया है. 59 टेस्ट में इंग्लिश टीम की कप्तानी करने के बाद कुक ने यह फ़ैसला किया है. हालांकि एक खिलाड़ी के तौर पर वे इंग्‍लैंड टीम के लिए खेलते रहेंगे. भारत के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में इंग्‍लैंड को मिली 0-4 की हार कुक के टेस्‍ट कप्‍तानी छोड़ने का प्रमुख कारण रहा. अगस्त 2012 में इंग्लिश टीम के कप्तान बने कुक ने इंग्लैंड के लिए सबसे ज़्यादा टेस्ट मैच में कप्तानी की है. कुक की कप्तानी में इंग्लैंड ने अपने घर में 2013 और 2015 में एशेज़ सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया को हराया. कुक की कप्तानी में इंग्‍लैंड टीम ने 2012 में भारत और दक्षिण अफ़्रीका में बड़ी जीत दर्ज़ की. टेस्ट के अलावा कुक ने 2010 से 2014 के बीच 69 वनडे मैचों में भी इंग्लैंड टीम की कप्तानी की है.

टिप्पणियां

कुक ने कप्तानी छोड़ने पर कहा, 'क़रीब 5 साल तक इंग्लैंड टीम की कप्तानी करना मेरे लिए सम्मान की बात रही. कप्तानी छोड़ना मेरे लिए एक मुश्किल फ़ैसला रहा लेकिन ये मेरे और टीम के लिए सही फ़ैसला है.' वनडे की कप्तानी भी कुक को दबाव में छोड़नी पड़ी थी जिसके बाद इयोन मोर्गन ने वनडे टीम की कमान संभाली. कुक की कप्तानी में भी पिछले कुछ समय से इंग्लिश टीम का प्रदर्शन लगातार गिरता रहा जिसकी वजह से उन्हें हटाने की मांग बढ़ने लगी थी. माना जा रहा है कि चार साल से ज़्यादा समय तक इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान रहे कुक की जगह जो रूट को टीम की कमान दी जा सकती है. पिछले साल भारत दौरे पर टेस्ट में  मिली हार के बाद कुक पर कप्तानी छोड़ने का दबाव बढ़ गया और बल्ले से सफल रहे रूट को कप्तान बनाने की मांग होने लगी. भारत के खिलाफ पांच टेस्‍ट की सीरीज में इंग्‍लैंड को 0-4 के अंतर से हार का सामना करना पड़ा था.  रूट इंग्लिश टेस्ट इतिहास के 80वें कप्तान बनते हैं तो उनके सामने सबसे बड़ी चुनौती एशेज़ सीरीज़ होगी जो इसी साल नवंबर में शुरू होगी.


कुक ने इस्तीफ़ा देने से पहले इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन कॉलिन ग्रेवेस (Colin Graves) से बात करने की और एक खिलाड़ी के तौर पर खेलते रहने की इच्छा जताई. 32 साल के कुक ओपनिंग बल्लेबाज़ हैं और उनके नाम पर 140 टेस्ट में 11 हज़ार से ज़्यादा रन हैं.  कुक 2012 में विज्डन क्रिकेटर ऑफ़ द ईयर भी रह चुके हैं और 2013 और 2015, 2016 में आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट कप्तान बनने का गौरव भी हासिल कर चुके हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement