NDTV Khabar

एलिस्‍टर कुक कप्‍तानी से थक चुके थे, यह फैसला लेने में उन्‍होंने पर्याप्‍त समय लिया : एंड्रयू स्ट्रॉस

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एलिस्‍टर कुक कप्‍तानी से थक चुके थे, यह फैसला लेने में उन्‍होंने पर्याप्‍त समय लिया : एंड्रयू स्ट्रॉस

एलिस्‍टर कुक ने 59 टेस्‍ट में इंग्‍लैंड टीम की कप्‍तानी की (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. एंड्रयू स्‍ट्रॉस के बाद ही कुक ने इंग्‍लैंड की कप्‍तानी संभाली थी
  2. इंग्‍लैंड के लिए टेस्‍ट में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं कुक
  3. भारत के खिलाफ सीरीज हारने के बाद उनकी आलोचना हो रही थी
लॉर्ड्स:

इंग्‍लैंड टीम के कप्‍तान एलिस्‍टर कुक के टेस्‍ट कप्‍तानी छोड़ने के फैसले पर टिप्‍पणी करते हुए एंड्रयू स्‍ट्रॉस ने कहा है कि कुक ने यह फैसला लेने में पर्याप्‍त समय लिया. स्‍ट्रॉस ने कहा कि कुक इंग्लैंड की कप्तानी से थक चुके थे. गौरतलब है कि कुक ने सोमवार को इंग्लैंड की टेस्ट टीम के कप्तान पद से इस्तीफा दिया था. उन्होंने इंग्लैंड के लिए रिकॉर्ड 59 टेस्ट में कप्तानी की. बीबीसी ने इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के निदेशक स्ट्रॉस के हवाले से लिखा है, 'कुक इंग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान की हैसियत में मिलने वाली लगातार सख्ती से थक चुके थे.' कुक ने स्ट्रॉस के बाद ही इंग्लैंड टीम की कप्तानी संभाली थी. उन्‍होंने कहा कि कुक के जाने के बाद उप कप्तान जो रूट कप्तानी के पद के प्रबल दावेदार हैं. हालांकि उन्होंने साथ ही कहा है कि वह किसी और के भी इस पद पर आने की संभावना को खारिज नहीं कर रहे हैं.

टिप्पणियां

कुक टेस्ट में इंग्लैंड के ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. उन्होंने अभी तक खेले गए 140 टेस्ट मैचों में 11,057 रन बनाए हैं और 30 शतक जड़े हैं. पिछले साल दिसंबर में भारत के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 0-4 से हारने के बाद कुक की कप्तान की काफी आलोचना हुई थी. स्ट्रॉस ने कहा, 'हम सभी जानते हैं कि यह मुश्किल शीतकालीन सत्र रहा है. उनके लिए कप्तानी छोड़ने का यह सही समय था. उन्होंने सोचा होगा कि टीम को आगे ले जाने के लिए सही रास्ता क्या हो सकता है.' स्‍ट्रॉस ने कहा, 'जनवरी में मैंने उनसे बात की थी. तब यह साफ लगा कि कुक को लगता है कि अगले 12 महीने टीम की आगे ले जाने के लिए काफी ऊर्जा व प्रतिबद्धता की जरूरत है.'


इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने कहा, 'सिर्फ आपको ही पता होता है कि आपमें कितनी ऊर्जा बची है और इंग्लैंड की कप्तानी आप से कितनी ऊर्जा ले रही है.' स्ट्रॉस ने कहा, 'उन्हें (कुक को) लगता है कि यह समय है जब नई पीढ़ी को मौका दिया जाए और एक नई सोच को टीम की जिम्मेदारी दी जाए.' स्ट्रॉस ने कहा कि उन्होंने कुक को अपना फैसला वापस लेने को नहीं कहा. उन्होंने इसका कारण बताते हुए कहा, "एक बार जब साफ हो गया कि वह क्या सोच रहे हैं और यह उनका फैसला है तो फिर ऐसे में उनको मनाना गलत होता.'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement