...और अब दिनेश कार्तिक के सामने है विश्व कप के लिए 'बहुत ही मुश्किल रास्ता'

...और अब दिनेश कार्तिक के सामने है विश्व कप के लिए 'बहुत ही मुश्किल रास्ता'

दिनेश कार्तिक की फाइल फोटो

खास बातें

  • कार्तिक का वनडे टीम में नहीं हुआ चयन
  • हाल ही में कई अच्छी पारियां खेली कार्तिक ने
  • ऋषभ पंत को हम पर्याप्त मौके देना चाहते हैं-चीफ सेलेक्टर
मुंबई:

शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच वनडे और दो टी20 मैचों के लिए टीम के ऐलान के साथ ही यह साफ हो गया कि इंग्लैंड में कुछ ही महीनों के भीतर होने जा रहे वर्ल्ड कप के लिए दूसरा विकेटकीपर कौन होगा. हालांकि, चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने कहा है कि चयन समिति ने ऋषभ पंत को कुछ मौके देने का फैसला किया है. और इसके बाद ही यह तय होगा कि टीम में दूसरा विकेटकीपर कौन होगा, लेकिन टीम मैनेजमेंट का रुख और तमाम बातें यह बताने और स्पष्ट करने के लिए काफी हैं कि ऋषभ पंत ही धोनी के बाद टीम के दूसरे विकेटकीपर होंगे. और दिनेश कार्तिक के पास जो एसएसके प्रसाद को इंप्रेस करने का  जो अब रास्ता है, वह बहुत ही ज्यादा मुश्किल है. 

कुछ दिन पहले ही एडिलेड में जब भारत ने वनडे जीता था, तो उसे आखिरी छह ओवर में 55 रन की दरकार थी. तब कार्तिक ने 14 गेंदों में 25 रन बनाए थे. इसके अलावा टी20 में कार्तिक ने कुछ ऐसी ही एक-दो और पारियों की झलक दिखाई. लेकिन टेस्ट में ऋषभ का धमाल, उनका लेफ्टी होना, बड़े शॉट लगाने की काबिलिय, लेफ्टी होना और ज्यादा विकल्प देना वो तमाम बताते रहीं, जिनसे शेन वॉर्न और आशीष नेहरा ने पंत के पक्ष में बयान दिए. निश्चित ही पंत को यहां से पछाड़ना कार्तिक के लिए बहुत ही चुनौतीपूर्ण होगा. 

यह भी  पढ़ें:  इसलिए अब ऋषभ पंत होंगे वर्ल्ड कप में दूसरे विकेटकीपर, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 'तीन टीमों' का ऐलान

प्रसाद ने टीम चयन के बाद कहा, "हमने इस बात को ध्यान में रखते हुए उन्हें (पंत) टीम में शामिल किया क्योंकि वह बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और हम टीम प्रबंधन के साथ चर्चा करने वाले हैं." उन्होंने कहा, "हम पंत के लिए सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी स्थान तलाशने की कोशिश करेंगे और बाएं हाथ के बल्लेबाज के साथ बाएं-दाएं संयोजन का फायदा उठाएंगे. हम विश्व कप के लिए अंतिम टीम चुनने से पहले पंत को कुछ और वनडे मैचों में मौका देना चाहते हैं."

यह भी पढ़ें: हनुमा विहारी का 'ट्रिपल धमाल', रिकॉर्ड बनाने वाले 58 साल के इतिहास में पहले बल्लेबाज

बहरहाल, यह साफ है कि पंत को टीम मैनेजमेंट खुलकर मौके देने जा रहा है. और इसमें दो राय नहीं कि उनके बल्ले से कई आतिशी पारी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ देखने को मिल सकती हैं. ऐसे में कार्तिक के सामने जो रास्ता है,  वह मुश्किल रास्ता है. दिनेश कार्तिक का यह मुश्किल रास्ता आईपीएल से होकर निकलता है. चीफ सेलेक्टर ने आईपीएल के मैचों पर बारीक नजर रखने की बात कही है. 

VIDEO: पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली. 

केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक अब आईपीएल के जरिए ही चयन समिति को प्रभावित कर सकते हैं. हर मैच उनके लिए एक बड़ा मैच होगा. टी20 के  विशेषज्ञ बन चुके कार्तिक ने अगर तीन-चार धमाकेदार पारियां खेल दीं, तो वह अपने पक्ष में माहौल बना सकते हैं. 
 

 

 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com