आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने अजहरुद्दीन पर लगी पाबंदी हटाने का आदेश दिया

खास बातें

  • आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने मैच फिक्सिंग के मामले में पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन पर लगी आजीवन पाबंदी हटाने के आदेश दिए हैं।
हैदराबाद:

आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की ओर से गुरुवार को लगाया गया आजीवन प्रतिबंध हटा दिया।

बीसीसीआई ने 12 वर्ष पूर्व अजहरुद्दीन पर आजीवन प्रतिबंध लगाया था। हाईकोर्ट की खंडपीठ ने निचली अदालत के निर्णय को खारिज करते हुए अजहरुद्दीन पर लगा आजीवन प्रतिबंध हटा दिया।

मैच फिक्सिंग का दोषी पाए जाने के बाद बीसीसीआई ने 5 दिसम्बर, 2000 को अजहरुद्दीन के क्रिकेट खेलने पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया।

हैदराबाद के अजहरुद्दीन ने बीसीसीआई के फैसले को स्थानीय अदालत में चुनौती दी थी, लेकिन अदालत ने प्रतिबंध बरकरार रखा। इसके बाद अजहरुद्दीन ने निचली अदालत के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अजहरुद्दीन के वकील ने हाईकोर्ट में कहा था कि बीसीसीआई ने बगैर किसी साक्ष्य के अजहरुद्दीन पर आजीवन प्रतिबंध लगाया था।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से सांसद अजहरुद्दीन भारत के सबसे सफलतम टेस्ट कप्तानों में से एक हैं। उन्होंने 99 टेस्ट मैचों में 6,215 रन बनाए हैं। इसके अलावा 334 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में अजहरुद्दीन के नाम 9,378 रन दर्ज है।