NDTV Khabar

अनिल कुंबले ने टीम इंडिया के कोच पद से दिया इस्तीफा, BCCI ने की पुष्टि

आईसीसी बैठक को लेकर अपनी प्रतिबद्धता के कारण 23 जून से शुरू हो रही सीमित ओवरों की सीरीज के लिए भारतीय टीम के साथ वेस्टइंडीज नहीं गए.

1670 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अनिल कुंबले ने टीम इंडिया के कोच पद से दिया इस्तीफा, BCCI ने की पुष्टि

खास बातें

  1. कप्तान विराट कोहली और अनिल कुंबले के बीच थी मनमुटाव की खबर
  2. भारतीय टीम के साथ वेस्टइंडीज नहीं गए थे अनिल कुंबले
  3. चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान भी कोहली-कुंबले में दिखी थी संवाद की कमी
नई दिल्ली: अनिल कुंबले ने टीम इंडिया के कोच के पद से इस्तीफ़ा दे दिया है. बीसीसीआई ने भी इस खबर की पुष्टि कर दी है. टीम इंडिया वेस्ट इंडीज़ के लिए रवाना हो गई लेकिन कुंबले टीम के साथ नहीं गए. माना जा रहा था कि कोच कुंबले एक-दो दिन बाद वेस्ट इंडीज़ दौरे पर टीम इंडिया के साथ शामिल हो जाएंगे. कुंबले लंदन में आईसीसी की होने वाले सालाना कॉन्फ्रेंस में क्रिकेट कमेटी की सदस्य के अध्यक्ष हैसियत से इसमें हिस्सा ले रहे हैं. आईसीसी की कॉन्फ़्रेंस 23 जून तक चलेगी और 23 तारीख को ही टीम इंडिया वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ दौरे का पहला वनडे मैच खेलेगी. वैसे बतौर कोच कुंबले का कार्यकाल 20 जून को ख़त्म हो गया.

इससे पहले चर्चा थी कि बीसीसीआई में कोहली और सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली तथा वीवीएस लक्ष्मण की क्रिकेट सलाहकार समिति के बीच हुई बैठक में भारतीय कप्तान ने स्पष्ट कर दिया है कि कोच के साथ उनका रिश्ता लगभग खत्म हो गया है. ऐसे में उनके लिए पद पर बरकरार रहना बेहद मुश्किल हो गया था. चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान भी कप्तान और मुख्य कोच के बीच अधिक संवाद देखने को नहीं मिला था.

जून 2016 में बने थे टीम इंडिया के कोच
अनिल कुंबले जून 2016 में रवि शास्त्री और टॉम मूडी जैसे 57 दिग्गजों को पछाड़कर टीम इंडिया के कोच बने थे. उनका चयन सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति ने किया था. कुंबले को 1996 में 'विज्डन क्रिकेटर ऑफ द ईयर' भी चुना जा चुका है. वह भारत के श्रेष्ठ मैच विजेता रहे हैं.

अब क्या होगा?
माना जा रहा है कि कुंबले और कप्तान कोहली के बीच कोई समझौता नहीं हो सका.. ऐसे में सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण की क्रिकेट सलाहकार समिति को नए कोच के लिए जल्दी ही फ़ैसला लेना पड़ेगा. ऐसे में 23 जून से भारत और वेस्ट इंडीज़ के बीच 5 वनडे और 1 टी20 की सीरीज़ से पहले क्रिकेट सलाहकार समिति को एक अंतरिम कोच चुनने की ज़रूरत होगी. फ़िलहाल भारतीय क्रिकेट संकट के एक और दौर से गुज़रता दिख रहा है.

अनिल कुंबले के कोच रहते हासिल किए कई मुकाम
भारतीय टीम ने अनिल कुंबले के कोच रहने के दौरान कई मुक़ाम हासिल किए. भारतीय टीम ने 17 टेस्ट खेले जिसमें से 12 मैच टीम ने जीते और सिर्फ़ 1 में टीम की हार हुई. वेस्ट इंडीज़ में कुंबले पहली बार कोच के तौर पर टीम इंडिया के साथ जुड़े और भारत ने 4 टेस्ट की सीरीज़ 2-0 से जीत हासिल की. 2 T20 मैच की सीरीज़ में टीम इंडिया ने 1-0 से जीत हासिल की. घरेलू ज़मीन पर भारत ने न्यूज़ीलैंड को टेस्ट सीरीज़ में 3-0 से हराया फिर वनडे में 3-2 से जीत हासिल की. कुंबले के कोच रहते भारत ने इंग्लैंड को 5 टेस्ट की सीरीज़ में 4-0 से हराया, फिर वनडे सीरीज़ में भी इंग्लिश टीम को 2-1 से हराया और T20 में भी 2-1 से शिकस्त दी. बांग्लादेश के साथ इकलौते टेस्ट में भी जीत हासिल की. फिर ऑस्ट्रेलिया को 4 टेस्ट की सीरीज़ में 2-1 से हराया. इसके बाद चैंपियंस ट्रॉफ़ी में कुंबले के कोच रहते भारत ने फ़ाइनल तक का सफ़र तय किया. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement