NDTV Khabar

'अर्जुन' अंडर 16 में, 'हजारों में एक' प्रणव धनावड़े बन गए 'एकलव्य'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'अर्जुन' अंडर 16 में, 'हजारों में एक' प्रणव धनावड़े बन गए 'एकलव्य'
वडोदरा:

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन को हुबली में 24 मई से होने वाले अंतर क्षेत्रीय टूर्नामेंट के लिए पश्चिम क्षेत्र की अंडर-16 टीम में शामिल किया गया है। ओ.एम. भोसले टीम के कप्तान होंगे। टूर्नामेंट छह जून तक चलेगा।

लेकिन अर्जुन के चयन की बजाय यह खबर इसलिए ज्यादा सुर्खियों में है कि एक पारी में 1000 रन बनाने प्रणव धनावड़े का इस टीम में चयन नहीं हुआ। प्रणव धनावड़े जैसी प्रतिभा के न चुने जाने से सोशल मीडिया पर बहस लगातार बढ़ती जा रही है। लोग धनावड़े को आधुनिक युग का एकलव्य तक बता रहे हैं। ज्ञात हो कि प्रणव के पिता एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर हैं।

उल्लेखनीय है कि चयन समिति में समीर दीघे भी थे। जिनकी पहचान सचिन तेंदुलकर के करीबी और शुभचिंतक के रूप में रही है। यहां तक कि लचर विकेटकीपिंग और बेहद कमजोर बल्लेबाजी के बावजूद भी सचिन उनको अपनी कप्तानी वाली टीम इंडिया में जगह दिलाने में कामयाब रहे थे।


सचिन तेंदुलकर से मिला था खास गिफ्ट


बता दें कि प्रणव धनावड़े स्‍कूली क्रिकेट में 1,009 रन की नाबाद पारी खेलकर देश ही नहीं अंतरराष्‍ट्रीय स्तर पर चर्चा का केंद्र बन गए थे। इस पारी के बाद धनावड़े को स्वयं मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने इस उपलब्धि पर खुद के ऑटोग्राफ वाला बैट गिफ्ट किया है।

सचिन तेंदुलकर के अलावा टीम इंडिया के एमएस धोनी और हरभजन सिंह जैसे सितारों ने भी उन्हें बधाई दी थी। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और पूर्व मुख्य चयनकर्ता दिलीप वेंगसरकर ने भी प्रणव को मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन की तरफ से सम्मानित किया था।

'हजारों में एक' लेकिन 15 सदस्यीय टीम में जगह नहीं


दादर यूनियन ग्राउंड पर क्रिकेट के पहले 'हजारी लाल' को लेकर वेंगसरकर ने कहा था कि दुनिया मानने लगी है कि प्रणव धनावड़े वाकई हजारों में एक हैं। इस मौके पर दिलीप वेंगसरकर और अजित वाडेकर ने प्रणव को क्रिकेट किट तोहफे में दी थी। लेकिन आज इस 'हजारों में एक' को अंडर 16 के 15 खिलाड़ियों में जगह न मिलना अचंभे की बात तो है ही।

प्रणब की उबलब्धि वाकई में खास थी, इसलिए मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने भी प्रणव को उसकी उपलब्धि के लिए अगले 5 साल तक हर महीने 10000 रुपये की स्कॉलरशिप देने का फैसला भी किया था।

एयर इंडिया क्रिकेट टीम में जगह की पेशकश
प्रणव धनावड़े की 1009 रन की अकल्पनीय पारी के बाद एयर इंडिया ने उन्हें अपनी टीम में जगह देने की पेशकश की थी। एक अधिकारी ने कहा कि एयर इंडिया की इस 15 वर्षीय क्रिकेटर को की गई पेशकश विभिन्न क्षेत्रों की युवा प्रतिभाओं को बढ़ावा देने की नीति के तहत है।

अभिनेत्री ने पोस्ट किया 'सैल्यूट द चैम्प' वीडियो
बता दें कि प्रणव धनावड़े और नेशनल लेवल की किक बॉक्सर, कराटे में ब्लैक बेल्‍ट व फिल्म 'साला खड़ूस' की नवोदित एक्‍ट्रेस रितिका सिंह के बीच खास कनेक्‍शन है। दोनों ही मुंबई से सटे कल्याण के केसी गांधी स्कूल में पढ़े हैं। यह समानता यहीं खत्‍म नहीं होती। दोनों कल्याण के ही रहने वाले हैं। प्रणव की पारी से रितिका इतनी प्रभावित हुई कि यू ट्यूब पर उनके नाम एक खास वीडियो 'सैल्यूट द चैम्प' पोस्ट कर दिया।


प्रणव की पारी के बारे में रितिका ने कहा 'वो स्कूल में मेरा जूनियर था, मैं कभी आमने-सामने उससे मिली नहीं हूं... लेकिन उसकी पारी से हम सब गौरवान्वित हैं।'

राकेश पारिख की अध्यक्षता में चुनी गई टीम
टीम का ऐलान बड़ौदा क्रिकेट संघ के सचिव स्नेहल पारिख ने किया। भारतीय जूनियर चयन समिति की रविवार को हुई बैठक में टीम का चयन किया गया। बैठक की अध्यक्षता राकेश पारिख ने की। चयन समिति में तुषार अरोठे, शांतनु सुगवेकार, समीर दिघे और जे. कृष्णा राव थे।

टिप्पणियां

अंडर-16 पश्चिम क्षेत्र टीम
ओ.एम. भोसले (कप्तान), वासुदेव पाटिल, सुवेद पारकर, समित पटेल, संप्रीत बग्गा, यशस्वी जायसवाल, दिव्यांश सक्सेना, नील जाधव, अर्जुन तेंदुलकर, योगेश डोंगरे, अथर्व अंकोलेकर, सूरज सुरयाल, सिद्धार्थ देसाई, आकाश पांडे, मुकुंद सरदार। स्टैंड बाय : किरण मोरे, सत्यलक्ष्य जैन, निहार भुयान, विग्नेश सोलंकी, वैभव पाटिल।

-- साथ में एजेंसी इनपुट



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement