NDTV Khabar

श्रीलंका ने मैच फिक्सिंग से निपटने के लिए भारत से इसलिए मांगी मदद...

सीबीआई ने 2000 में रणतुंगा और टीम के उपकप्तान अरविंद डिसिल्वा पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाया था लेकिन बाद में दोनों को आरोप मुक्त कर दिया गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
श्रीलंका ने मैच फिक्सिंग से निपटने के लिए भारत से इसलिए मांगी मदद...

अर्जुन रणतुंगा ने अपनी कप्‍तानी में श्रीलंका को 1996 के वर्ल्‍डकप का चैंपियन बनाया था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. रणतुंगा बोल-जांच और कानूनी मसौदा बनाने में मदद करेगा भारत
  2. कहा-CBI जांच में तकनीकी विशेषज्ञता मुहैया करा सकती है
  3. हमारे पास इस समस्या से निपटने की विशेषज्ञता या कानून नहीं
कोलंबो:

श्रीलंका सरकार में मंत्री और वहां की क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा (Arjuna Ranatunga) ने कहा है कि उनके देश में मैच फिक्सिंग (Match Fixing) से जुड़े मामलों की जांच और कानूनी मसौदा बनाने में भारत मदद करेगा. अपनी कप्‍तानी में श्रीलंका को 1996 के वर्ल्‍डकप का चैंपियन बनाने वाले रणतुंगा ने कहा कि भारत का केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) श्रीलंका क्रिकेट में बड़े पैमाने पर लगे भ्रष्टाचार (corruption in cricket) के आरोपों की जांच में तकनीकी विशेषज्ञता मुहैया करा सकता है. पेट्रोलियम मंत्री रणतुंगा ने नई दिल्ली से यहां लौटने के बाद कहा, ‘हमारे पास इस समस्या से पूरी तरह से निपटने की विशेषज्ञता या कानून नहीं हैं. भारत इससे जुड़ा कानूनी मसौदा बनाने में भी मदद करेगा.'

जयसूर्या पर ICC ने लगाए भ्रष्टाचार से जुड़े आरोप, आखिर क्या किया दिग्गज श्रीलंकाई ने..


सीबीआई ने 2000 में रणतुंगा और टीम के उपकप्तान अरविंद डिसिल्वा पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाया था लेकिन बाद में दोनों को आरोप मुक्त कर दिया गया था. श्रीलंका ने क्रिकेट में जुड़े भ्रष्टाचार के मामले उजागर होने के बाद वादा किया था कि मैच फिक्सिंग के आरोपों की जांच के लिए विशेष पुलिस इकाई का गठन किया जाएगा. मैच फिक्सिंग के ये आरोप मई में जारी वृत्तचित्र में लगाये गये थे. हाल के दिनों में देश के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी सनथ जयसूर्या पर आईसीसी ने मैच फिक्सिंग से जुड़ी जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया था.

#MeToo में फंसे अर्जुन राणातुंगा, भारतीय एयर होस्टेस ने Facebook पर बयां की घटना

इस बीच भ्रष्टाचार के कई मामले झेल रहे श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) के मुख्य वित्तीय अधिकारी (सीएफओ) को वित्तीय धोखाधड़ी के मामले में सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के प्रवक्ता रूवान गुणासेकरा ने कहा कि एसएलसी की शिकायत पर पियाल नंदना को गिरफ्तार किया गया है. श्रीलंका क्रिकेट के सीएफओ की गिरफ्तारी एक कथित वित्तीय धोखाधड़ी से संबंधित है जिसका खुलासा इस साल सितंबर में हुआ है.

टिप्पणियां

वीडियो: पाकिस्‍तान के साथ क्रिकेट रिश्‍तों पर यह बोले गौतम गंभीर

यह मामला श्रीलंका के मौजूदा इंग्लैंड दौरे के प्रसारण अधिकारों से जुड़े 55 लाख डॉलर के घोटाले को लेकर है. पुलिस को की गई शिकायत में श्रीलंका क्रिकेट ने सीएफओ नंदना को मुख्य आरोपी बताया था. नंदना ने हालांकि दावा किया था कि उनके ई-मेल को हैक कर लिया गया था और रकम को किसी अन्य खाते में स्थानांतरित करने का अनुरोध भेजा था. यह रकम इंग्लैंड के मौजूदा दौरे के प्रसारण अधिकारों से जुड़ी है जिसका अधिकार सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स के पास है. (इनपुट: एजेंसी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement