NDTV Khabar

एशिया कप : एशिया कप का 'ब्रेडमैन' कहे जाने वाले इस भारतीय खिलाड़ी पर होंगी निगाहें

इंग्लैंड के खिलाफ़ भारत 1-2 से वनडे सीरीज़ में हारा और धोनी की धीमी बल्लेबाज़ी को इसका ज़िम्मेदार ठहराया जाने लगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एशिया कप : एशिया कप का 'ब्रेडमैन' कहे जाने वाले इस भारतीय खिलाड़ी पर होंगी निगाहें

आज से शुरू हो रहा है एशिया कप 2018

नई दिल्ली: दुबई में आज से एशिया कप का आगाज़ होने जा रहा है. लेकिन भारत अपने अभियान की शुरुआत 18 सितंबर को हांगकांग के खिलाफ़ मुक़ाबले से करेगा. 19 सितंबर को भारत और पाकिस्तान की टक्कर होगी. लेकिन इस सबके दौरान एक खिलाड़ी पर मीडिया से लेकर क्रिकेट पंडितों की नज़रें बनी रहेंगी. क्या एक बार फिर एशिया कप का ब्रैडमैन सबके निशाने पर होगा? एशिया कप की सबसे सफल टीम इस बार मैदान पर अपने नियमित कप्तान के बिना उतरेगी लेकिन टीम इंडिया के पास होगा क्रिकेट का सबसे तेज़ दिमाग एशिया कप का 'ब्रैडमैन' एमएस धोनी. एशिया कप के 13 मैचों में धोनी ने 571 रन 95.16 की औसत से बनाए हैं. जो इस टूर्नामेंट के इतिहास में 500 रनों से ज्यादा बनाने वाले खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा औसत है. यही नहीं इस टूर्नामेंट की पिछली 7 पारियों में धोनी आउट नहीं हुए हैं. इसमें उन्होंने 113 रन 213.21 की स्ट्राइक रेट से बनाए हैं. लेकिन इसके बावजूद धोनी सबकी नज़रों में होंगे. क्योंकि पिछली बार जब वो मैदान पर उतरे थे तब क्रिकेट प्रेमियों से लेकर क्रिकेट जानकारों तक सबने उन पर सवाल खड़े कर दिए थे. इंग्लैंड के खिलाफ़ भारत 1-2 से वनडे सीरीज़ में हारा और धोनी की धीमी बल्लेबाज़ी को इसका ज़िम्मेदार ठहराया जाने लगा.

एशिया कप : इंग्लैंड से बुरी तरह पस्त टीम इंडिया कैसे करेगी मजबूत पाकिस्तान का मुकाबला, 'छुपारुस्तम' भी सरदर्द, 18 बड़ी बातें

धोनी ने दूसरे वनडे में 59 गेंद पर 37 रन और तीसरे वनडे में 66 गेंद पर 42 रनों की पारियां खेली इन दोनों पारियों के दौरान दूसरे छोर से भारतीय विकेट आउट होते रहे  और धोनी को एक छोर पर बने रहने था.  इसके बावजूद वहां मौजूद भारतीय फ़ैन्स ने उनके खिलाफ़ शोर मचाया.  तो पूर्व कप्तान 'लिटिल मास्टर' सुनील गावस्कर ने कहा कि धोनी की धीमी बल्लेबाज़ी ने उन्हें अपनी एक पारी की याद दिला दी जब 60 ओवर खेलकर गावस्कर ने 32 रन बनाए थे.

टिप्पणियां
Asia Cup 2018: Rohit Sharma कर रहे थे प्रैक्टिस, युजवेंद्र चहल ने ऐसे लिए मजे, देखें Video

इस सबका असर ये हुआ कि 51 से ज्यादा की औसत से उसी सीरीज़ में  अपने 10 हज़ार रन पूरे करने वाले धोनी के इस मुकाम से हटकर लोगो का ध्यान उनके संन्यास पर जाने लगा यहां तक की जब सीरीज़ के अंत में उन्होंने अंपायर से गेंद ली  तो कहा जाने लगा कि धोनी संन्यास की घोषणा करने वाले हैं. लेकिन धोनी ने जल्दी ही उस पर सफ़ाई देते हुए कहा कि वो संन्यास नहीं ले रहे हैं. उसके बाद अब धोनी मैदान पर होंगे और एक बार फिर फ़ोकस उन्हीं पर होगा क्योंकि विराट की गैरमौजूदगी में क्या धोनी अपने अनुभव से  टीम इंडिया को एशिया कप में जीत दिलवा सकेंगे?
आज से होगा एशिया कप का आगाज, धोनी पर होंगी सबकी निगाहें​

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement