यह ख़बर 16 फ़रवरी, 2014 को प्रकाशित हुई थी

जॉनसन की तूफानी गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलिया ने पहले टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका को रौंदा

जॉनसन की तूफानी गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलिया ने पहले टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका को रौंदा

सेंचुरियन:

तेज गेंदबाज मिशेल जॉनसन की मैच में करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलिया ने सुपरस्पोर्ट पार्क में पहले क्रिकेट टेस्ट के चौथे ही दिन दक्षिण अफ्रीका को 281 रन से रौंद दिया।

पहली पारी में 68 रन देकर सात विकेट चटकाने वाले जॉनसन ने दूसरी पारी में 59 रन देकर छह विकेट चटकाए, जिससे दक्षिण अफ्रीकी की टीम 482 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 200 रन पर आउट हो गई। पहली पारी की तरह जॉनसन ने दूसरी पारी में भी अपने पहले ही ओवर में विकेट चटकाया। उन्होंने दोनों सलामी बल्लेबाजों को पैवेलियन भेजा।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से पहली पारी में 91 रन बनाने वाले एबी डिविलियर्स ही जॉनसन का कुछ हद तक सामना कर पाए। उन्होंने 48 रन बनाए, लेकिन इसी तेज गेंदबाज का शिकार बने। उन्होंने शॉर्ट कवर पर ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क को कैच थमाया। जॉनसन ने मैच में 127 रन देकर 12 विकेट चटकाए और पर्थ में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2008-09 के 159 रन पर 11 विकेट के अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को पीछे छोड़ा।

जॉनसन ने अपने पहले ओवर में ही अल्वीरो पीटरसन (1) को विकेट के पीछे ब्रैड हैडिन के हाथों कैच कराया। यह 57वें टेस्ट में जॉनसन का 250वां विकेट था। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान ग्रीम स्मिथ ने जॉनसन पर चौका जड़ा, लेकिन इसी तेज गेंदबाज की गेंद पर एलेक्स डूलान ने शॉर्ट लेग पर शानदार कैच लपककर उनकी पारी का अंत किया। स्मिथ ने चार रन बनाए।

हाशिम अमला ने ठोस बल्लेबाजी करते हुए 35 रन बनाए, लेकिन वह रेयान हैरिस की गेंद पर पहली स्लिप में कैच दे बैठे। जॉनसन ने इसके बाद अपने टेस्ट करियर में मैच में तीसरी बार 10 या इससे अधिक विकेट लेने का कारनामा किया, जब डूलान ने शॉर्ट लेग पर जेपी डुमिनी (10) का भी शानदार कैच लपका।

रेयान मैकलारेन चाय के विश्राम के बाद जॉनसन की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए, जबकि डिविलियर्स इस तेज गेंदबाज का पारी का पांचवां शिकार बने, जिससे दक्षिण अफ्रीका की हार लगभग तय हो गई। निचले क्रम में रोबिन पीटरसन (21) और वर्नन फिलेंडर (नाबाद 26) ने कुछ अच्छे शॉट लगाए, लेकिन दक्षिण अफ्रीका की हार को ज्यादा देर तक नहीं टाल पाए।

इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क ने सुबह सिर्फ 3.2 ओवर खेलने के बाद अपनी दूसरी पारी चार विकेट पर 290 रन पर घोषित कर दी, जब पहली पारी में शतक जड़ने वाले शान मार्श अपने 44 रन के स्कोर में कोई इजाफा किए बगैर डेल स्टेन की गेंद पर विकेट के पीछे कैच दे बैठे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com