Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

सिडनी टेस्ट : ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों ने फिर बनाया दबाव

ईमेल करें
टिप्पणियां
सिडनी टेस्ट : ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों ने फिर बनाया दबाव
नई दिल्ली: 572/7, ऑस्ट्रेलिया ने सिडनी में इस विशाल स्कोर पर पारी घोषित की, जिस तरह से भारतीय गेंदबाज़ों ने पूरी सीरीज़ में गेंदबाज़ी की, यह स्कोर कोई अनहोनी नहीं है। बड़ी बात यह है कि ऑस्ट्रेलिया ने एक तरह से फिर से रिकॉर्ड स्कोर खड़ा किया। चार टेस्ट की सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया ने चौथी बार 500 से बड़ा स्कोर खड़ा किया। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में ऐसा सिर्फ़ चौथी बार हुआ है, जब किसी टीम ने किसी टीम के खिलाफ 500 से बड़ा स्कोर खड़ा किया हो। यह स्कोर बेहद साधारण भारतीय गेंदबाज़ी पर टिप्पणी है।

इस सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया ने भारतीय गेंदबाज़ों को चार बार 100 से ज़्यादा ओवर गेंद डालने को मजबूर करते हुए 500 से बड़े स्कोर बनाए। एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया ने पहले 517/7 (120 ओवरों में पारी घोषित), ब्रिसबेन में 505 (109.4 ओवरों में), मेलबर्न में 530 (142.3 ओवरों में) और सिडनी में 572/7 (152.3 ओवरों में पारी घोषित) बनाए। सवाल सिर्फ यह नहीं है कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ भारतीय गेंदबाज़ों के हौसले पस्त कर रहे हैं, मुश्किल यह भी है कि इस सीरीज़ के ख़त्म होने से पहले ही भारतीय गेंदबाज़ थके नज़र आ रहे हैं।

कॉमेन्टेटर्स लगातार भारतीय गेंदबाज़ों की मुश्किल गिना रहे हैं। पेसर्स अपनी गति से मात खा रहे हैं और स्पिनर्स में पैनापन नहीं दिखाई दे रहा है। सिडनी टेस्ट की चौथी पारी बाक़ी है। अभी ही आर अश्विन 150 ओवर से ज़्यादा गेंदबाज़ी कर चुके हैं। वहीं मो.शमी क़रीब सवा सौ ओवर और उमेश यादव क़रीब 115 ओवर गेंदबाज़ी कर चुके हैं। ये तीनों ही गेंदबाज़ वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा हैं यानी महीने भर बाद ही इन्हें अपना बेहतरीन क्रिकेट दिखाने की ज़रूरत होगी।  

रिकॉर्ड के लिहाज़ से टेस्ट क्रिकेट में ऐसा सिर्फ़ छठी बार हुआ जब किसी टीम के टॉप छह खिलाड़ियों ने 50 से बड़ा स्कोर खड़ा किया हो। स्टीवन स्मिथ ने चार टेस्ट की सीरीज़ में चौथा शतक (117 रन) बनाया तो डेविड वॉर्नर 101, क्रिस रॉजर्स 95, शेन वॉटसन 81, शॉन मार्श 73, जो बर्न्स 58 रन बनाकर आउट हुए यानी कोई भी गेंदबाज़ ऑस्ट्रेलिया के टॉप ऑर्डर को ज़रा भी परेशान करता नज़र नहीं आया।

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों का चलना टीम इंडिया के लिए सिर्फ़ टेस्ट सीरीज़ के दौरान परेशानी का सबब नहीं है। ईशांत शर्मा और रविन्द्र जडेजा का फ़िलहाल मैच फ़िट नहीं होना उनकी इस परेशानी को बढ़ा सकता है और इन सबसे टीम मैनेजमेंट के सामने बिना थके, बिना हारे सिडनी टेस्ट को खत्म करने की चुनौती होगी।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement