ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट संघ की मांग- स्मिथ, वॉर्नर और बेनक्रॉफ्ट की सजा कम की जाए

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट संघ की मांग- स्मिथ, वॉर्नर और बेनक्रॉफ्ट की सजा कम की जाए

बॉल टैम्‍परिंग मामला सामने आने के बाद स्मिथ, वार्नर औरबेनक्रॉफ्ट पर प्रतिबंध लगाया गया था (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कहा, इन प्‍लेयर्स ने दबाव में किया था यह काम
  • उन पर किसी भी कीमत पर जीतने का दबाव बनाया गया
  • केपटाउन टेस्‍ट के दौरान सामने आया था बॉल टैम्‍परिंग मामला
सिडनी:

ऑस्‍ट्रेलिया क्रिकेट संघ (ACA) ने गेंद से छेड़खानी (बॉल टैम्‍परिंग) मामले में प्रतिबंध झेलने वाले पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरून बेनक्रॉफ्ट की सजा को कम कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में फिर से खेलने देने की मांग की है. यह मामला केपटाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम पर इस साल मार्च में सामने आया था जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर   बेनक्रॉफ्ट को गेंद पर सेंडपेपर रगड़ते पाया गया था.

टेस्‍ट में बरकरार रहेगा टॉस, दुर्व्‍यवहार और बॉल टैम्‍परिंग पर अब मिलेगी कड़ी सजा

 इसके बाद तत्कालीन कप्तान स्मिथ, उपकप्तान वार्नर और बल्लेबाज बेनक्रॉफ्ट  पर प्रतिबंध लगाया गया जबकि कोच डेरेन लीमैन ने इस्तीफा दे दिया था. स्मिथ और वॉर्नर पर एक-एक साल और कैमरून बेनक्रॉफ्ट पर 9 माह का बैन लगाया गया था. क्रिकेट खिलाड़ियों के इस संगठन ने सोमवार को यहां कहा कि खिलाड़ियों ने ऐसा दबाव में किया था. एक स्वतंत्र जांच समिति ने इसकी जांच के बाद बताया कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने खिलाड़ियों पर किसी भी कीमत पर जीत का दबाव बनाया था.

वीडियो: मैडम तुसाद म्‍यूजियम में विराट कोहली

एसीए के अध्यक्ष और पूर्व टेस्ट विकेटकीपर ग्रेग डायर ने कहा, ‘दक्षिण अफ्रीका में जो कुछ भी हुआ वह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की संस्कृति और कार्यप्रणाली का नतीजा है जिसने खिलाड़ियों को किसी भी कीमत पर जीतने का दबाव बनाया.' उन्होंने कहा, ‘किसी भी जांच की निष्पक्षता के लिए यह जरूरी है कि खिलाड़ियों को ऐसा करने पर मजबूर करने वाले कारणों पर ध्यान दिया जाए और खिलाड़ियों की सजा कम की जाए. स्मिथ, वार्नर और बेनक्राफ्ट को मिले कठोर सजा पर फिर से विचार करना चाहिए.'  (इनपुट: एजेंसी)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com