NDTV Khabar

इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर को चयनकर्ताओं ने दिया ‘अल्टीमेटम’, इस बार रन नहीं बनाया तो होगा टीम से बाहर!

आस्ट्रेलिया के विकेटकीपर-बल्लेबाज मैथ्यू वेड का कहना है कि टीम का नियमित सदस्य बनने के लिए उन्हें अपनी बल्लेबाजी में सुधार करने की जरूरत है

170 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर को चयनकर्ताओं ने दिया ‘अल्टीमेटम’, इस बार रन नहीं बनाया तो होगा टीम से बाहर!

ऑस्ट्रेलियाई टीम (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मैथ्यू वेड को मिली चयनकर्ताओं से वार्निंग
  2. लगातार कर रहे हैं खराब प्रदर्शन
  3. टीम से बाहर होने का है खतरा
नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलियाई चयनकर्ताओं ने विकेट कीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड को वार्निंग दी है कि अगर टीम में बने रहना है तो रन बनाने होंगे. पिछले काफी समय से मैथ्यू वेड रन नहीं बना पा रहे हैं, जिसके कारण उनकी आलोचना हो रही है. मैथ्यू वेड ने भारत के खिलाफ भी इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है. इसी कारण से उनको तीसरे वनडे से बाहर कर दिया गया था. इसस पहले बांग्लादेश में भी वेड ने बहुत ही घटिया प्रदर्शन किया था. बल्लेबाजी के सथ-साथ विकट कीपिंग में भी वो कोई छाप छोड़ने में नाकाम रह थे. वेड के प्रदर्शन में गिरावट को देखते हुए चयनकर्ताओं ने उन्हें वार्निंग दे दी है.  

यह भी पढ़ें: INDvsAUS: इस ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने कहा, सचिन का विकेट उखाड़ने के बाद जो आवाज आती थी, वो कानों को सुकून देती थी

इस संबंध में विकेटकीपर-बल्लेबाज मैथ्यू वेड का कहना है कि टीम का नियमित सदस्य बनने के लिए उन्हें अपनी बल्लेबाजी में सुधार करने की जरूरत है. वेड को इंदौर में खेले गए तीसरे वनडे मैच में अंतिम एकादश में जगह नहीं मिली थी. उनकी जगह पीटर हैंड्सकॉम्ब ने विकेटकीपर की जिम्मेदारी संभाली थी.1-3 से पहले ही सीरीज हार चुकी ऑस्ट्रेलिया रविवार को पांचवें और आखिरी वनडे मैच में यहां भारत के सामने उतरेगी. मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में वेड ने कहा, "चयनकर्ताओं ने मुझसे अभी तक नहीं कहा है कि उन्हें मेरी विकेटकीपिंग से कोई परेशानी है."

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अंतिम वनडे से पहले तेज गेंदबाज उमेश यादव ने दिया यह बड़ा बयान

उन्होंने कहा, "इसका विकेटकीपिंग से कोई लेना-देना नहीं है. मुझे बस रन करने की जरूरत है.बल्ले से मेरा प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है." वेड ने कहा, "चयनकर्ताओं ने मुझसे यही कहा है कि मुझे रन करने की जरूरत है. इसलिए मुझे इस पर ध्यान देने की जरूरत है." बांग्लादेश में खेले गए पहले टेस्ट मैच में वेड की विकेटकीपिंग की भी आलोचना हुई थी।. उन्होंने इस मैच में कुल 30 रन बाय के दिए थे. 

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान : सिलेक्शन के लिए रिश्वत की मांग, क्रिकेटर ने की आत्मदाह की कोशिश

बांग्लादेश में अपने प्रदर्शन पर वेड ने कहा, "मेरा मानना है कि मैंने अच्छी कीपिंग की थी. मैं जानता हूं कि पहले टेस्ट मैच में बाय के रन देने पर काफी बातें हुई थीं. लेकिन आपको उनके कीपर को भी देखना होगा, जो उन हालात में हमेशा खेलता है और ऐसी स्थिति में हम दोनों का प्रदर्शन समान ही था." उन्होंने कहा, "मैंने कुछ अच्छे मौके बनाए खासकर दूसरे टेस्ट मैच में. मैंने यहां भी अच्छी कीपिंग की है. मैंने यहा फरवरी-मार्च में खेली गई टेस्ट सीरीज में भी अच्छी कीपिंग की थी." वेड को पीटर नेविल की जगह पिछले ग्रीष्मकालीन सत्र में टीम में शामिल किया गया था. जब से उन्होंने 10 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें उनका औसत 10 का रहा है. 

VIDEO: हर भूमिका में फिट हैं महेंद्र सिंह धोनी
वेड के मुताबिक, "मैं काफी मेहनत कर रहा हूं, लेकिन अभी तक मेरे पक्ष में चीजें हुई नही हैं. कई बातें उठी हैं कि मैंने बांग्लादेश में टेस्ट सीरीज में अच्छी बल्लेबाजी नहीं की और यहां भी वनडे सीरीज में विफल रहा. इससे पहले मैंने भारत में ही टेस्ट सीरीज खेली थी और अच्छा प्रदर्शन किया था." उन्होंने कहा, "इसलिए यह घबराने की स्थिति नहीं है सिर्फ कड़ी मेहनत करने की जरूरत है." (इनपुट आईएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement