NDTV Khabar

दक्षिण अफ्रीकी कोच ओटिस गिब्सन ने बताई ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के बॉल टैंपरिंग करने की वजह

गिब्सन ने कहा, 'ऑस्ट्रेलियाई खुद ही बोलते हैं कि वे जिस तरह की क्रिकेट खेलते हैं उसमें हर हाल में जीतना चाहते हैं.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दक्षिण अफ्रीकी कोच ओटिस गिब्सन ने बताई ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के बॉल टैंपरिंग करने की वजह

दक्षिण अफ्रीका के कोच ओटिस गिब्सन. (फाइल फोटो)

केपटाउन:

दक्षिण अफ्रीका के कोच ओटिस गिब्सन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया का किसी भी हाल में जीत दर्ज करने की बेताबी के कारण उन्होंने न्यूलैंड्स में तीसरे टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ की. गिब्सन ने कहा, 'ऑस्ट्रेलियाई खुद ही बोलते हैं कि वे जिस तरह की क्रिकेट खेलते हैं उसमें हर हाल में जीतना चाहते हैं.'

यह भी पढ़ें : कैसे होती है बॉल टैम्‍परिंग, सचिन और द्रविड़ सहित किन-किन खिलाड़ियों पर लग चुका है इसका आरोप....

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज कैमरन बैनक्राफ्ट को टेलीविजन कैमरे में गेंद से छेड़छाड़ करते हुए पकड़ा गया जिससे यह विवाद पैदा हुआ. गिब्सन ने कहा, 'अगर आप एशेज सीरीज को देखो तो वे वहां उन्होंने आसानी से जीत दर्ज की. यहां वे कुछ अवसरों पर पिछड़ रहे थे और इसलिए वे वापसी करने के लिए बेताब हो गये. यह शर्मनाक है कि उन्होंने इस तरह का कृत्य किया.'

यह भी पढ़ें : क्या ऐशेज में भी ऑस्ट्रेलिया ने की थी बॉल टैंपरिंग? सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो


इससे पहले इंग्लैंड के पूर्व कप्‍तान माइकल वॉन ने कहा कि उन्हें इस बात का पक्का यकीन है कि ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के खिलाफ हाल की टेस्ट सीरीज के दौरान बॉल टैम्‍परिंग (गेंद के साथ छेड़छाड़) की थी. 

VIDEO : बॉल टैंपरिंग पर अजय रात्रा बोले, कोई भी टीम ऐसा कप्तान नहीं चाहती

टिप्पणियां

गौरतलब है कि केपटाउन टेस्ट में हुए बॉल टैंपरिंग मामले में आईसीसी ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ और ओपनर कैमरन बैनक्राफ्ट को दोषी पाया है. आईसीसी ने कप्तान स्मिथ पर एक टेस्ट मैच का बैन और 100% मैच फीस का जुर्माना लगाया है. वहीं, ओपनर कैमरन बैनक्रॉफ्ट पर मैच फीस का 75% का जुर्माना लगाया है. इसके साथ ही बैनक्रॉफ्ट को 3 डिमेरिट अंक भी दिए गए. उन पर आईसीसी की आचार संहिता के लेवल दो के उल्लंघन का आरोप था. बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव स्मिथ को कप्तान के पद से भी हटा दिया था.

(इनपुट : भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement