IPL में सट्टेबाजी को रोकने को लेकर BCCI सख्त, उठाए जाएंगे खास कदम

बीसीसीआई (BCCI) ने 19 सितंबर से शुरू हो रही इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के दौरान सट्टेबाजी से जुड़ी अनियमितताओं का पता लगाने के लिये स्पोर्टराडार की सेवायें ली

IPL में सट्टेबाजी को रोकने को लेकर BCCI सख्त, उठाए जाएंगे खास कदम

IPL में सट्टेबाजी को रोकने को लेकर BCCI सख्त,

खास बातें

  • BCCI आईपीएल में सट्टेबाजी रोकने के लिए ब्रिटिश कंपनी की मदद लेगा
  • ब्रिटिश कंपनी स्पोर्टराडार सट्टेबाजी पर रखेगी नजर
  • IPL 2020 का आगाज 19 सितंबर से

IPL 2020: बीसीसीआई (BCCI) ने 19 सितंबर से शुरू हो रही इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के दौरान सट्टेबाजी से जुड़ी अनियमितताओं का पता लगाने के लिये स्पोर्टराडार की सेवायें ली है. कोरोना वायरस महामारी (COVID-19) के कारण आईपीएल भारत (IPL 2020 in UAE) से बाहर हो रहा है. एक विज्ञप्ति के अनुसार ,‘‘ अनुबंध के तहत आईपीएसल 2020 के सारे मैचों पर स्पोर्टराडार की इंडीग्रिटी सेवाओं की नजर रहेगी ताकि सट्टेबाजी का पता लगाया जा सके. इसमें कहा गया ,‘‘ स्पोर्टराडार बीसीसीआई को जोखिम आकलन भी देगा और इसकी खुफिया तथा जांच सेवाओं का भी जरूरत पड़ने पर बोर्ड इस्तेमाल कर सकेगा. गौरतलब है कि आईपीएल के दौरान सट्टेबाज काफी एक्टिव रहे हैं, ऐसे में BCCI सट्टेबाजी को रोकने के लिए सख्त कदम उठाने को लेकर अपनी योजनाएं बना चुकी है.  बीसीसीआई ने इसके लिए ब्रिटेन स्थित कंपनी स्पोर्टरडार से करार किया है.

यानि इस बार सट्टेबाज पर ब्रिटेन स्थित कंपनी स्पोर्टरडार नजर रखने वाली है.  गौरतलब है कि बीसीसीआई एसीयू ने तमिलनाडु प्रीमियर लीग (TNPL) के साथ-साथ राज्यस्तरीय टी20 लीग के दौरान एक्टिव रहकर सट्टेबाजाजियों का पता लगाया था.

स्पोर्टरडार धोखाधड़ी जांच प्रणाली एक ऐसी सेवा है जो खेलों में सट्टेबाजी से संबंधित हेराफेरी का पता लगाती है. IPL 2020 का पहला मैच मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला जाएगा. टूर्नामेंट का फाइनल 10 नवंबर को खेला जाना है.

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com