NDTV Khabar

जगमोहन डालमिया की बीसीसीआई अध्यक्ष पद पर वापसी तय

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जगमोहन डालमिया की बीसीसीआई अध्यक्ष पद पर वापसी तय

फाइल फोटो

चेन्नई: अनुभवी क्रिकेट प्रशासक जगमोहन डालमिया का एक दशक से भी अधिक समय बाद फिर से निर्विरोध बीसीसीआई अध्यक्ष बनना तय है, क्योंकि वह निवर्तमान अध्यक्ष एन श्रीनिवासन के गुट से सर्वसम्मत उम्मीदवार के रूप में सामने आए हैं।

डालमिया का रास्ता इसलिए भी साफ हो गया, क्योंकि एक अन्य पूर्व अध्यक्ष शरद पवार को पूर्वी क्षेत्र से प्रस्तावक नहीं मिला, जिससे वह कल होने वाली बहु प्रतीक्षित आम सभा की बैठक से पहले ही दौड़ से हट गए।

आम सभा की बैठक में तीन उपाध्यक्षों का भी निर्विरोध चुना जाना तय है, जिसमें आंध्र के गोकाराजू गंगराजू (दक्षिण क्षेत्र), असम के गौतम राय (पूर्वी क्षेत्र) और जम्मू एवं कश्मीर के एमएल नेहरु (उत्तर क्षेत्र) शामिल हैं।

सचिव, संयुक्त सचिव और कोषाध्यक्ष पद के लिए चुनाव होंगे। श्रीनिवासन के करीबी बोर्ड के निवर्तमान सचिव संजय पटेल को पवार गुट का प्रतिनिधित्व कर रहे हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ के अनुराग ठाकुर से चुनौती मिलेगी।

संयुक्त सचिव पद के लिए झारखंड राज्य क्रिकेट संघ के प्रमुख अमिताभ चौधरी का सामना गोवा के चेतन देसाई से होगा, जबकि हरियाणा क्रिकेट संघ के प्रमुख अनिरुद्ध चौधरी को बीसीसीआई के मौजूदा उपाध्यक्ष और उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के सचिव राजीव शुक्ला का सामना करना है।

मध्य और पश्चिम क्षेत्र से उपाध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का सामना सीके खन्ना जबकि मुंबई के रवि सावंत का सामना बड़ौदा के समरजीत सिंह गायकवाड़ से होगा। पता चला है कि एमपी पांडोव ने उत्तर क्षेत्र से नेहरू के पक्ष में उपाध्यक्ष पद से अपना नामांकन वापस ले लिया है।

बंगाल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष 70 वर्षीय डालमिया पूर्वी क्षेत्र से दो मतों पर नियंत्रण रखते हैं और श्रीनिवासन की वफादार इकाइयों में किसी अन्य नाम पर सर्वसम्मति नहीं बनने के कारण वह कल शीर्ष पद पर आसीन होने के प्रमुख दावेदार बन गए थे।

डालमिया की दावेदारी आज तब और मजबूत हो गई, जबकि पवार को अध्यक्ष पद के नामांकन के लिए पूर्वी क्षेत्र से कोई प्रस्तावक नहीं मिला। पूर्व क्षेत्र की सभी छह इकाइयां श्रीनिवासन गुट की समर्थक हैं। उनके समर्थकों ने एजीएम से पहले आज यहां बैठक की। बीसीसीआई सूत्रों ने कहा, 'इस बार पूर्वी क्षेत्र की बारी है इसलिए डालमिया के पास पूर्व से प्रस्तावक और अनुमोदनकर्ता दोनों हैं। नामांकन आज तीन बजे था।'

पवार को अध्यक्ष पद के लिए संभावित उम्मीद्वार माना जा रहा था। वह कल ही यहां पहुंच गए थे और उन्होंने अपने समर्थकों के साथ बैठक भी की। पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर भी एजीएम के लिए यहां पहुंच गए हैं। पवार गुट से उपाध्यक्ष पद के लिए सिंधिया और सावंत उम्मीदवार हैं।

श्रीनिवासन के उच्चतम न्यायालय में कानूनी जंग में व्यस्त होने के कारण एजीएम पिछले कुछ समय से टाली जा रही थी। उच्चतम न्यायालय अभी आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग की सुनवाई कर रहा है। अदालत ने श्रीनिवासन की बीसीसीआई अध्यक्ष और आईपीएल टीम मालिक के तौर पर हितों के टकराव की कड़ी आलोचना की थी।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement