बीसीसीआई ने सालाना अनुबंध की शर्त में किया बदलाव, अब इन खिलाड़ियों की भी होगी चांदी

ध्यान दिला दें कि बीसीसीआई चार वर्गों में खिलाड़ियों को सालाना अनुबंध प्रदान करता है. इसके तहत ए प्लस में आने वाले खिलाड़ियों को सालाना 7 करोड़, ए वर्ग को 5, बी को 3 और सी वर्ग में आने वाले खिलाड़ियों को साल में एक करोड़ रुपये का भुगतान किया जाता है. 

बीसीसीआई ने सालाना अनुबंध की शर्त में किया बदलाव, अब इन खिलाड़ियों की भी होगी चांदी

पिछले साल वॉशिंगटन सुंदर के प्रदर्शन ने बोर्ड पर दबाव बनाया

खास बातें

  • खिलाड़ियों के प्रदर्शन ने बनाया बोर्ड पर दबाव
  • वॉशिंगटन सुंदर के प्रदर्शन ने किया मजबूर
  • अनुबंध पर साइन कर चुके हैं खिलाड़ी
नई दिल्ली:

टीम इंडिया (Team India) के लिए सपना संजोए युवा क्रिकेटरों के लिए एक अच्छी खबर है. खबर यह है कि बीसीसीआई (BCCI) ने खिलाड़ियों को दिए जाने वाले सालाना अनुबंध के प्रावधानों में कुछ बदलाव किए हैं. और अब भारत के लिए कम से कम दस टी20 मैच खेलने वाला भी कोई खिलाड़ी अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) से वार्षिक अनुबंध हासिल करने का पात्र हो जाएगा. यह पहला मौका है, जब बोर्ड ने सालाना अनुबंध देने के लिए टी20 मैचों को आधार बनाया है. इससे पहले तक केवल वनडे और टेस्ट मैच खेलने पर ही खिलाड़ियों को वार्षिक अनुबंध दिया जाता था. ध्यान दिला दें कि बीसीसीआई चार वर्गों में खिलाड़ियों को सालाना अनुबंध प्रदान करता है. इसके तहत ए प्लस में आने वाले खिलाड़ियों को सालाना 7 करोड़, ए वर्ग को 5, बी को 3 और सी वर्ग में आने वाले खिलाड़ियों को साल में एक करोड़ रुपये का भुगतान किया जाता है. 

यह भी पढ़ें: रमीज राजा ने बताया कारण, क्यों भारत के पास है ऑस्ट्रेलिया को उसी की धरती पर मात देने का मौका

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित क्रिकेट प्रशासकीय कमेटी (COA) ने कुछ टी20 मैच खेलने वाले खिलाड़ियों को अनुबंध  दिए जाने की बात को महत्व नहीं दिया था. साथ ही, बीसीसीआई यह नीति अपना रहा था कि सत्र में कोई भी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाला खिलाड़ी बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंध सिस्टम में आ जाएगा, लेकिन इसके बाद भी नियमों में बदलाव किया गया.  सीओए ने फैसला किया कि कम से कम तीन टेस्ट और सात वनडे मैच खेलने वाला खिलाड़ी ही वार्षिक अनुबंध हासिल करने का पात्र बनेगा. हालांकि, पिछले सेशन में अपवाद को भी शामिल किया गया, जब चयन समिति ने वॉशिंगटन सुंदर को अनुबंध प्रदान किया. सेलेक्टरों ने महसूस किया कि टी20 में प्रभावी प्रदर्शन के चलते सुंदर को अनुबंध दिए जाने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें: रोहित ने शुरू की ट्रेनिंग, इस बड़ी वजह से वनडे और टी20 सीरीज में खलेगी सबसे ज्यादा कमी

Newsbeep

बहरहाल, बोर्ड सूत्रों ने नयी व्यवस्था पर कहा कि बीसीसीआई ने पुराने नियमों में बदलाव कर कुछ नए नियम बनाने का फैसला किया है. इसके तहत जो खिलाड़ी साल में कम से कम दस टी20 मैच खेलता है, तो उसे अनुबंध दिया जा सकता है. खिलाड़ियों द्वारा साइन किए गए नए अनुबंध में यह शर्त शामिल थी.  सूत्रों ने कहा कि अगर कोई टी20 का विशेषज्ञ खिलाड़ी है, तो उसे सिर्फ इसी आधार पर अनुबंध से वंचित नहीं किया जाना चाहिए कि उसकी विशेषज्ञता सबसे छोटे फॉर्मेट में है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.