बीसीसीआई ने चयनकर्ताओं के सेलेक्शन के लिए बनाए कड़े पात्रता नियम, मंगाए आवेदन

बीसीसीआई ने चयनकर्ताओं के सेलेक्शन के लिए बनाए कड़े पात्रता नियम, मंगाए आवेदन

खास बातें

  • चयनकर्ताओं की नियुक्ति की प्रक्रिया को बनाया कड़ा
  • आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को पूरी करनी होंगी ये पात्रताएं
  • बोर्ड ने 60 साल की आयु सीमा भी तय की है
नई दिल्ली:

बीसीसीआई ने चयनकर्ताओं की नियुक्ति के लिए कड़े पात्रता नियम बनाए हैं जिसके तहत आवेदक के पास अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का अनुभव होना चाहिए. बोर्ड ने 60 साल की आयु सीमा भी तय की है जिससे मोहिंदर अमरनाथ जैसे पूर्व स्टार खिलाड़ी चयनकर्ता की दौड़ से बाहर हो गए हैं. भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने पद के आवेदन के लिए 14 सितंबर 2016 की समय सीमा तय की है. जो उम्मीदवार सीनियर, जूनियर और महिला राष्ट्रीय चयनकर्ता पद के लिए आवेदन करना चाहते हैं उन्हें ये पात्रताएं पूरी करनी होंगी.

सीनियर राष्ट्रीय चयन समिति के लिए दावेदारी के लिए बीसीसीआई ने कहा, "उसने टेस्ट मैच या एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में भारत का प्रतिनिधित्व किया हो या बीसीसीआई द्वारा चुनी गई टीम के लिए भारत में 50 से अधिक प्रथम श्रेणी मैच खेले हों." जिन उम्मीदवारों ने भारत में 50 से अधिक प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं उनके नाम पर जूनियर राष्ट्रीय चयन समिति के लिए विचार होगा.

चयनकर्ताओं की नियुक्ति की प्रक्रिया को कड़ा बनाते हुए बीसीसीआई ने कहा, "चयनकर्ताओं की उम्र 60 बरस से कम होनी चाहिए और चयन किए जाने पर उसे मेडिकल जांच के लिए तैयार रहना चाहिए." यह कदम बीसीसीआई द्वारा उठाए जा रहे सुधारवादी कदमों का हिस्सा हैं. बोर्ड ने कहा कि आवेदक का आवेदन करने की तिथि से कम से कम पांच साल पहले क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लिया होना चाहिए.

अतीत में परेशानी पैदा करने वाले हितों के टकराव के मुद्दों पर बीसीसीआई ने कहा, "वह किसी आईपीएल टीम या प्रबंधन या दुनिया की किसी अन्य लीग का हिस्सा नहीं होना चाहिए." बोर्ड ने कहा, "उम्मीदवार के चुने जाने पर यह जरूरी नहीं कि उसे क्रिकेट कोचिंग देने वाली किसी अकादमी या खेल से जुड़ी किसी अन्य संस्था से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जोड़ा जाए."

बीसीसीआई ने कहा, "पद के लिए चुने जाने पर वह किसी भी तरह से किसी मीडिया कंपनी-प्रकाशन सिंडिकेट कॉलम से नहीं जुड़ा होना चाहिए." नियमों के मुताबिक उम्मीदवार भारतीय नागरिक होना चाहिए और उसका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए और बीसीसीआई या उससे मान्यता प्राप्त किसी इकाई या किसी सरकारी एजेंसी का उस पर प्रतिबंध नहीं होना चाहिए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अन्य जरूरतों के अनुसार यह अनिवार्य नहीं है लेकिन यह इच्छा की जाती है कि उम्मीदवार ने बीसीसीआई से मान्यता प्राप्त किसी सदस्य संघ के किसी भी आयुवर्ग में चयनकर्ता की जिम्मेदारी निभाई हो. बीसीसीआई में राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में पहले ही चार साल पूरे कर चुके उम्मीदवार बीसीसीआई के मौजूदा उप नियमों के तहत पात्र नहीं होंगे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)