NDTV Khabar

क्रिकेट नियमों में कई बदलाव, मैदान में खिलाड़ी के ख़राब व्यवहार पर अब विपक्षी टीम को मिलेंगे 5 पेनल्टी रन....

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्रिकेट नियमों में कई बदलाव, मैदान में खिलाड़ी के ख़राब व्यवहार पर अब विपक्षी टीम को मिलेंगे 5 पेनल्टी रन....

क्रिकेट मैचों के दौरान खिलाड़ि‍यों के बीच कई बार तीखी बहस शुरू हो जाती है (फाइल फोटो)

क्रिकेट मैचों के दौरान कई बार  देखा गया है कि मैदान में किसी खिलाड़ी का व्यवहार सही नहीं होता है.  कभी एक खिलाड़ी स्लेजिंग करता है तो कभी अंपायर पर दवाब डालने के लिए ज्यादा अपील करता है. यही नहीं, कई बार मैदान के अंदर खिलाड़ी एक-दूसरे से भिड़ भी जाते है. ऐसी हरकतों पर कड़ाई से लगाम लगाने के लिए एमसीसी ने क्रिकेट के नियमों में कई बदलाव किए हैं. अब मैदान में ख़राब व्यवहार के वजह से पेनल्टी के रूप में पांच रन के साथ-साथ  खिलाड़ी को पूरे मैच से सस्‍पेंड भी किया जा सकता है. सिर्फ इस मामले में ही नहीं,  कई और मामलों में नियम बदले गए है जो 1,अक्टूबर 2017 से लागू होंगे.

मैदान में खिलाड़ियों के व्यवहार पर MCC के कड़े नियम
मैदान में खिलाड़ियों के ख़राब व्यवहार को देखते हुए एमसीसी ने कुछ कड़े नियम बनाए है. अब अगर एक खिलाड़ी मैदान में ख़राब व्यवहार करता है तो उसे सजा मिलेगी. एमसीसी ने इसके लिए अपराध के चार लेवल बनाए है. लेवल-1 के तहत बताया गया है कि अगर कोई भी खिलाड़ी ज्यादा अपील करता है और अंपायर के निर्णय पर ऐतराज़ जताता है तो सबसे पहले उसे चेतावनी दी जाएगी. इसके बावजूद अगर वह फिर ऐसा करता है तो पेनल्टी के रूप में विपक्षी टीम को पांच रन मिलेंगे. लेवल-2 के तहत बताया गया है कि कोई भी खिलाड़ी जानबूझकर दूसरे खिलाड़ी की तरफ गेंद फेंकता है और जानबूझकर विपक्षी टीम के खिलाड़ी से भिड़ जाता है तो विपक्षी टीम को तुरंत पांच रन पेनल्टी रन के रूप में मिलेंगे.

पूरे मैच के लिए किया जा सकता है सस्‍पेंड
लेवल-3 बताया गया है कि अगर कोई खिलाड़ी अंपायर को डराने की कोशिश करता है या दूसरे खिलाड़ी, टीम ऑफिशियल या दर्शकों को धमकी देता है तो विपक्षी टीम को पेनल्टी के रूप में पांच रन मिलेंगे और मैच के फॉर्मेट को देखते हुए इस खिलाड़ी को कुछ ओवरों के लिए मैदान से बाहर भेजा दिया जाएगा. लेवल -4 के अपराध के तहत बताया गया है कि अगर कोई खिलाड़ी, अंपायर को धमकी देता है या मैच के दौरान किसी भी तरह की हिंसा में शामिल होता है तो पेनल्टी के रूप में विपक्षी टीम को 5 रन मिलेंगे और उस खिलाड़ी को पूरे मैच के लिए बाहर बैठना पड़ेगा. अगर ऐसा कोई बल्लेबाज करता है तो उसे रिटायर हर्ट के रूप में मैदान छोड़ना पड़ेगा.

टिप्पणियां
क्रिकेट बैट के आकार को लेकर बनाए गए नियम
कुछ दिनों से क्रिकेट बैट के साइज को लेकर भी सवाल उठाए जा रहे थे. कई बार यह आरोप लगाया गया था कि कुछ खिलाड़ी ज्यादा चौड़े क्रिकेट बैट का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन अब एमसीसी ने बैट की साइज को लेकर भी कड़े नियम बनाए हैं. अब बैट की चौड़ाई 108mm, गहराई 67mm और एजेस 40mm होगी. एमसीसी ने अपनी प्रेस रिलीज में बताया है कि बैट बनाने वाली कंपनी, फेडरेशनों, आईसीसी और कई संस्थाओं से बातचीत करने के बाद गेंद और बल्ले के बीच संतुलन लाने के लिए यह निर्णय लिया गया है.  

रन आउट को लेकर किया गया यह बदलाव
रन आउट लेकर भी एक बदलाव किया गया है. पहले यह नियम, जब गेंद स्टंप में लगती  है तब बल्लेबाज का बैट या बॉडी, पॉपिंग क्रीज में ग्राउंडेड (जमीन पर) होनी चाहिए. यानी अगर बल्लेबाज पहले से पॉपिंग क्रीज में अपने बैट या बॉडी को ग्रॉउंडेड कर चुका है लेकिन जब गेंद स्टंप पर लगी तब उसका बल्ला या बॉडी हवा में है तो उसे आउट दिया जाता था. ऐसा कुछ दिन पहले न्यूज़ीलैंड के बल्लेबाज नील वैगनर के साथ भी हुआ था.  पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच के दौरान वैगनर ने रन लेते हुए पॉपिंग क्रीज क्रॉस कर ली थी और अपना भी जमीन पर रख लिया था लेकिन लेकिन जब गेंद स्टंप में लगी तो उनका बल्ला हवा में था. इसकी वजह से उन्हें रन आउट दिया गया लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. अगर बल्ला और बॉडी एक बार पॉपिंग क्रीज क्रॉस कर लेता है तो बल्लेबाज को आउट नहीं दिया जायेगा चाहे गेंद स्टंप में लगते वक्त उसका बल्‍ला हवा में ही क्‍यों न हो.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement