Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मुश्किल दौर से गुजर रहे ऋषभ पंत को ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर ब्रेड हेडिन ने दी यह सलाह..

हेडिन ने खुद का जिक्र करते हुए कहा, 'जब मुझे टेस्‍ट क्र‍िकेट में खेलने का मौका मिला तो मैंने एडम गिलक्रिस्‍ट या इयान हिली बनने की कोशिश नहीं की.'

मुश्किल दौर से गुजर रहे ऋषभ पंत को ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर ब्रेड हेडिन ने दी यह सलाह..

Rishabh Pant अपने प्रदर्शन को लेकर आलोचकों के निशाने पर हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कहा, पंत को अपनी खुद की पहचान बनानी चाहिए
  • उन्‍हें दूसरे किसी प्‍लेयर की कॉपी नहीं करनी चाहिए
  • ऑस्‍ट्रेलिया के बेहतरीन विकेटकीपर रहे हैं हेडिन

युवा विकेटकीपर बल्‍लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को बेहद प्रतिभावान बल्‍लेबाज माना जाता है, लेकिन सीनियर लेवल पर अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर कुछ चमक दिखाने के बाद वे इस समय संघर्ष करते नजर आ रहे हैं. बल्‍लेबाजी में जरूरत से ज्‍यादा आक्रामक रुख अख्तियार करने के चक्‍कर में विकेट गंवा रहे हैं. कमजोर विकेटकीपिंग के कारण भी पंत आलोचकों के निशाने पर हैं. समस्‍या यह है पंत की नाकामियों का यह दौर अपेक्षाओं से कुछ ज्‍यादा लंबा खिंच गया है इस कारण उन पर टीम इंडिया (Team India) से बाहर होने का खतरा भी मंडराने लगा है. इस मुश्‍किल वक्‍त में ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज ब्रेड हेडिन (Brad Haddin) ने पंत को उपयोगी सलाह दी है. 

हेडिन का मानना है कि पंत को अपनी खुद की पहचान बनानी चा‍हिए, उन्‍हें उच्‍च स्‍तर पर सफलता हासिल करने के लिए किसी की कॉपी करने का प्रयास नहीं करना चाहिए. स्‍पोर्ट्स स्‍टार के अनुसार, हेडिन ने कहा, 'ऋषभ पंत को ऋषभ पंत ही रहना चाहिए. ऐसा करके ही वे अपनी अलग पहचान बना सकते हैं. जब आप उच्‍च स्‍तर पर खेलते हैं तो स्‍वाभाविक रूप में आपको लेकर अपेक्षाएं होती है. ऐसे में आपके ऊपर खरे उतरने का दबाव होता है, इसके साथ ही अहम बात यह है कि आपको अपनी खुद की पहचान बनानी चाहिए.' 

हेडिन ने खुद का जिक्र करते हुए कहा, 'जब मुझे टेस्‍ट क्र‍िकेट में खेलने का मौका मिला तो मैंने एडम गिलक्रिस्‍ट या इयान हिली बनने की कोशिश नहीं की. मुझे खेल में अपनी खास स्‍टाइल का समावेश करना था. इस स्‍तर के क्रिकेट में आपके लिए सबसे बड़ी चुनौती यह होती है कि आपको कोई और बनने की कोशिश नहीं करना है बल्‍कि अपनी खुद की पहचान बनानी है.' उन्‍होंने कहा कि भारत के पास एमएस धोनी जैसा सुपरस्‍टार रहा है जिसने 10 साल तक खेल के मैदान पर राज किया, ऐसे में यह महत्‍वपूण है कि जो भी प्‍लेयर उनकी जगह ले, वह अपनी खुद की पहचान बनाए.

वीडियो: करियर को लेकर विराट कोहली का बड़ा बयान