NDTV Khabar

मैक्कुलम ने कहा- फिक्सिंग के समय आमिर की उम्र काफी कम थी, उसे मौका मिलना चाहिए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मैक्कुलम ने कहा- फिक्सिंग के समय आमिर की उम्र काफी कम थी, उसे मौका मिलना चाहिए

ब्रैंडन मैक्कुलम ने दागी क्रिकेटर मोहम्मद आमिर की वापसी का समर्थन किया है (फाइल फोटो)

वेलिंगटन: पाकिस्तान के ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी के बाद अब न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रैंडन मैकुलम ने भी दागी क्रिकेटर मोहम्मद आमिर का समर्थन किया है। मैक्कुलम ने कहा है कि उसे इस महीने न्यूजीलैंड में सीमित ओवरों के मैचों में खेलने की स्वीकृति मिलनी चाहिए।

खास बात यह है कि जब आमिर पर स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने के कारण 2011 में पांच साल का प्रतिबंध लगा था, तो उस समय वह 18 साल का था। आमिर ने छह महीने की सजा में से तीन महीने जेल में भी बिताए थे। मैक्कुलम ने कहा कि स्पॉट फिक्सिंग मामले में सजा काटने वाले तेज गेंदबाज आमिर को ‘संदेह का लाभ’ मिलना चाहिए।

मैक्कलुम ने कहा, ‘‘उस समय उसकी उम्र काफी कम थी और वह उचित रिहैबिलिटेशन प्रक्रिया से गुजरा है।’’ न्यूजीलैंड क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड वाइट ने भी आमिर को पाकिस्तान टीम में शामिल करने का समर्थन किया है, लेकिन कहा कि यह उनका निजी नजरिया है उनके बोर्ड का नहीं।

अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद द्वारा लगाया प्रतिबंध भी खत्म हो गया है और मैक्कुलम ने कहा कि उसे अपना करियर बहाल करने की स्वीकृति मिलनी चाहिए।

गौरतलब है कि आमिर को पाकिस्तान की टीम में शामिल किया गया है, जो न्यूजीलैंड में तीन टी20 और तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज में हिस्सा लेगी। हालांकि इस तेज गेंदबाज का खेलना न्यूजीलैंड के आव्रजन अधिकारियों द्वारा उन्हें वीजा जारी करने पर निर्भर करेगा।

न्यूजीलैंड के आव्रजन विभाग ने क्रिसमस से पहले बयान जारी करके कहा था कि उसे अब तक आमिर का वीजा आवेदन नहीं मिला है और आवेदन मिलने पर इस पर विचार किया जाएगा।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement