NDTV Khabar

ब्रायन लारा की दो-टूक, केएल राहुल और रोह‍ित शर्मा से ज्‍यादा प्रत‍िभाशाली नहीं हैं व‍िराट कोहली लेक‍िन...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ब्रायन लारा की दो-टूक, केएल राहुल और रोह‍ित शर्मा से ज्‍यादा प्रत‍िभाशाली नहीं हैं व‍िराट कोहली लेक‍िन...

Brian Lara टेस्‍ट क्रिकेट में 400 रन का स्‍कोर बनाने वाले दुनिया के अकेले बल्‍लेबाज हैं

खास बातें

  1. व‍िराट समर्पण के मामले में क्रिस्टियानो रोनाल्डो की तरह
  2. उनका समर्पण भाव ही उन्‍हें दूसरों से अलग बनाता है
  3. फ‍िटनेस और मानस‍िक दृढ़ता के मामले में व‍िराट बेजोड़
विशाखापटनम:

Brian Lara: वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा (Brian Lara) का मानना है कि विराट कोहली (Virat Kohli) खेल के प्रति अपने समर्पण के मामले में सुपरस्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो की तरह है जबकि केएल राहुल भी प्रतिभा के मामले में भारतीय कप्तान के समकक्ष ही हैं. महानतम बल्लेबाजों में शुमार ब्रायन लारा ने कहा कि बल्लेबाजी को ‘अविश्वसनीय स्तर' तक ले जाने के लिये अपनी प्रतिभा को निखारने के कोहली के फन के वह मुरीद हैं . उन्होंने कहा,‘यह विराट की तैयारी के अलावा क्रिकेट के प्रति उसके असाधारण समर्पण की भी बात है. मुझे नहीं लगता कि वह केएल राहुल (KL Rahul) या रोहित शर्मा (Rohit Sharma) से ज्यादा प्रतिभाशाली हैं  लेकिन खुद को तैयार करने के लिये उसका समर्पण उसे अलग बनाता है. वह क्रिकेट का क्रिस्टियानो रोनाल्डो है.'

कभी मोटापे के कारण उपेक्षा झेल रहे थे वही आब‍िद अली बने पाक‍िस्‍तानी क्र‍िकेट के नए स्‍टार


टेस्‍ट क्र‍िकेट में 400 का स्‍कोर बनाने वाले दुन‍िया के अकेले बल्‍लेबाज लारा (Brian Lara) ने कहा,‘उसकी (व‍िराट की) फिटनेस का स्तर और मानसिक दृढता अविश्वसनीय है.'टेस्ट क्रिकेट में 12000 के करीब रन बना चुके वेस्‍टइंडीज के पूर्व बल्‍लेबाज लारा ने कहा कि कोहली किसी भी युग की सर्वश्रेष्ठ टीम में जगह बनाएंगे , चाहे वह क्लाइव लायड की 70 के दशक की अपराजेय टीम हो या सर डॉन ब्रैडमेन की 1948 की टीम. लारा ने कहा,‘उसका बल्लेबाजी कौशल अविश्वसनीय है . उसे किसी भी दौर की टीम से बाहर नहीं रखा जा सकता. खेल के सभी प्रारूपों में जिसका औसत 50 हो, वह तो अविश्वसनीय ही होगा.'लारा ने इंग्लैंड के हरफनमौला बेन स्टोक्स की भी तारीफ की जिसने वर्ल्‍डकप और एशेज में शानदार प्रदर्शन किया था.

टिप्पणियां

लारा (Brian Lara) ने हेडिंग्ले में एशेज टेस्ट में इंग्‍लैंड के बेन स्टोक्स की 135 रन की नाबाद पारी के बारे में कहा,‘वह असाधारण पारी थी. उसे न सिर्फ उस पारी का बल्कि वर्ल्‍डकप फाइनल में 84 रन की नाबाद पारी का श्रेय भी दिया जाना चाहिए. इससे कुछ समय पहले ही उसने काफी खराब दौर देखा था और उससे उबरकर एक मजबूत क्रिकेटर के तौर पर उसने वापसी की.' वेस्टइंडीज क्रिकेट की मौजूदा दशा और अधिकांश खिलाड़ियों के टी20 लीगों में खेलने के बारे में उन्होंने कहा,‘हर क्रिकेटर की अपनी पसंद होती है. 70 के दशक में कैरी पैकर के समय भी ऐसा देखा गया था. यह कोई नई बात नहीं है.'उन्होंने कहा,‘हर कोई तो वेस्टइंडीज टीम में नहीं होगा तो अगर टी20 लीग खेलकर पैसा कमाने का मौका मिलता है तो क्यो नहीं. मुझे नहीं लगता कि इसमें कोई बुराई है.'लारा ने कहा,‘भारतीय क्रिकेट टीम को देखिए. उसके पास दुनिया की सबसे आकर्षक टी20 लीग (आईपीएल) है लेकिन वे टेस्ट क्रिकेट और बाकी प्रारूपों को लेकर भी उत्साहित रहते हैं.'वह वेस्टइंडीज क्रिकेट को अपनी सेवायें देने के खिलाफ नहीं है लेकिन उन्होंने कहा कि कैरेबियाई क्रिकेट बोर्ड को तय करना होगा कि उनकी सेवाओं की कितनी जरूरत है. उन्होंने कहा,‘यह बोर्ड को तय करना है कि वह किनकी सेवायें चाहता है. पहले भी कई पूर्व क्रिकेटरों ने काम किया है. जहां तक मेरा सवाल है तो हो भी सकता है, कौन जानता है.'

वीडियो: डे-नाइट टेस्ट में पारी के अंतर से जीती टीम इंड‍िया



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली विधानसभा चुनाव : बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कार्यकर्ताओं को समझाई जीत की रणनीति

Advertisement