NDTV Khabar

कप्तान विराट कोहली ने खोला टीम इंडिया की जीत का राज़...

विराट कोहली ने टीम की सफलता का राज़ खोलते हुए कहा, 'ये सिर्फ़ खिलाड़ियों की मेहनत का नतीजा नहीं है, टीम की सफलता के लिए टीम मैनेजमेंट भी ज़िम्मेदार है जिसने फ़ॉर्मेट के मुताबिक खिलाड़ियों का चयन किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कप्तान विराट कोहली ने खोला टीम इंडिया की जीत का राज़...

टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पिछले कुछ समय से भुवनेश्वर और बुमराह की जोड़ी शानदार रही है
  2. 'अहम मौक़ों पर दिमाग का इस्तेमाल करना भी गेंदबाज़ों को आना चाहिए'
  3. चहल और कुलदीप को लगातार मौक़ा देना श्रीलंका सीरीज़ से फ़ायदेमंद रहा है
नई दिल्‍ली:

ऑस्ट्रेलिया का पहले टेस्ट सीरीज़ में सफ़ाया किया फिर वनडे सीरीज़ में 4-1 से जीत हासिल की. अब T20 सीरीज़ में टीम इंडिया ने 1-0 की बढ़त कायम कर ली है. रांची T20 में बारिश विलेन बनी लेकिन ऑस्ट्रेलियाई पारी के 18.4 ओवर में भारतीय गेंदबाज़ों का बोलबाला दिखा. ख़ासकर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने अहम मौक़ों पर विकेट चटकाए. चहल ने ख़तरनाक ग्लेन मैक्सवेल को दौरे पर चौथी बार आउट किया तो कुलदीप ने एरॉन फ़िंच और मोज़ेज़ हेनरिकेज़ का विकेट झटका. टीम इंडिया हमेशा से अपनी मज़बूत बल्लेबाज़ी क्रम के लिए मशहूर रही है लेकिन हाल के दिनों में गेंदबाज़ भी कमाल दिखा रहे हैं. कप्तान विराट कोहली ने टीम की सफलता का श्रेय टीम के थिंक टैंक को दिया.

विराट कोहली ने टीम की सफलता का राज़ खोलते हुए कहा, 'ये सिर्फ़ खिलाड़ियों की मेहनत का नतीजा नहीं है, टीम की सफलता के लिए टीम मैनेजमेंट भी ज़िम्मेदार है जिसने फ़ॉर्मेट के मुताबिक खिलाड़ियों का चयन किया. चहल और कुलदीप को लगातार मौक़ा देना हमारे लिए श्रीलंका सीरीज़ से फ़ायदेमंद रहा है. एक मैच में वो रन भले दें लेकिन अगले मैच में पूरी ताक़त से वापसी करते हैं.'


यह भी पढ़ें : सहवाग ने धोनी को लेकर दिया बड़ा बयान,  इस खिलाड़ी को 'माही' की सफलता का श्रेय दिया

वहीं अगर तेज़ गेंदबाज़ों की बात करें तो भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह की जोड़ी मैच दर मैच बेहतर होती जा रही है. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ भी इस जोड़ी को दुनिया के बेस्ट डेथ ओवर गेंदबाज़ का तमगा दे चुके हैं.

भुवनेश्वर और बुमराह की जोड़ी पर कोहली कहते हैं, 'पिछले कुछ समय से भुवनेश्वर और बुमराह की जोड़ी शानदार रही है. हार्दिक भी अपनी गेंद से कमाल कर रहे हैं. ये हमारे लिए अच्छा रहा है. आपको यॉर्कर और धीमी गेंद फेंकना आना चाहिए. लेकिन अहम मौक़ों पर अपने दिमाग का इस्तेमाल करना भी गेंदबाज़ों को आना चाहिए ताकि बल्लेबाज़ ग़लत शॉट खेले.

टिप्पणियां

टीम के मौजूदा गेंदबाज़ कमाल दिखा रहे हैं तो स्पिनरों में आर अश्विन, रविंद्र जडेजा और अक्षर पटेल, तेज़ गेंदबाज़ी में मोहम्मद शमी, उमेश यादव जैसे गेंदबाज़ भी रेस में बने हुए हैं. एक कप्तान के लिए इससे अच्छा और क्या हो सकता है.

VIDEO: सुनील गावस्कर ने कहा, निडर गेंदबाज हैं कुलदीप यादव, रन खर्च होने से डरते नहीं



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement