NDTV Khabar

चैंपियंस ट्रॉफी : इंग्‍लैंड की उम्‍मीदें टीम के धाकड़ आलराउंडर बेन स्‍टोक्‍स पर टिकीं...

बेन स्‍टोक्‍स में बल्‍ले और गेंद, दोनों से किसी भी मैच का रुख पलटने की क्षमता है.आईपीएल10 में वे अपनी क्षमता दिखा भी चुके हैं.

84 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
चैंपियंस ट्रॉफी : इंग्‍लैंड की उम्‍मीदें टीम के धाकड़ आलराउंडर बेन स्‍टोक्‍स पर टिकीं...

आईपीएल में भी बेन स्‍टोक्‍स ने अपने प्रदर्शन से हर किसी को प्रभावित किया था (फाइल फोटो)

लंदन: बेन स्टोक्स भले ही इस बात को स्‍वीकार नहीं करते कि इंग्लैंड के लिये वह बेहद अहम खिलाड़ी हैं लेकिन सीमित ओवरों के क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन की क्षमता के कारण यह आलराउंडर टीम के लिए बेहद अहम रहा है. एडिलेड में बांग्लादेश से 2015 वर्ल्‍ड कप से पहले दौर में शर्मसार होने के दो साल बाद इंग्लैंड की भिड़ंत गुरुवार को द ओवल में चैंपियंस ट्रॉफी के शुरुआती मुकाबले में इसी टीम से होगी और उसकी कोशिश पहले बड़े वनडे टूर्नामेंट में जीत दर्ज करने पर लगी होगी. इसका सबसे बड़ा कारण स्टोक्स ही हैं.

 न्यूजीलैंड रग्बी लीग के पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी के बेटे में अपनी मां देबराह के क्रिकेट गुण मौजूद हैं जो एक मशहूर खिलाड़ी रही हैं. शनिवार को साउथम्पटन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे वनडे में इंग्लैंड की दो रन की जीत में 25 वर्षीय स्टोक्स में अहम भूमिका निभाई जिसमें उन्होंने 79 गेंद में 101 रन की पारी खेली जिसमें 11 चौके और तीन छक्के जड़े थे.

पिछले साल उन्होंने केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट में 198 गेंद में 258 रन बनाए थे. तूफानी बल्‍लेबाजी के अलावा स्‍टोक्‍स गेंदबाजी के लिहाज से भी टीम के लिए उपयोगी हैं. अपनी स्विंग गेंदबाजी से वे टीम के लिए सफलताएं हासिल करते हैं. आईपीएल10 में भी बेन स्‍टोक्‍स ने राइजिंग पुणे सुपरजाइंट टीम के लिए शानदार प्रदर्शन किया था. टूर्नामेंट में 12 मैच खेलकर उन्‍होंने 316 रन बनाए थे जिसमें एक शतक शामिल था. उनका बल्‍लेबाजी का स्‍ट्राइक रेट 142 के आसपास  का था. गेंदबाजी में भी हाथ दिखाते हुए उन्‍होंने 26.33 के औसत से 12 विकेट हासिल किए थे. (एजेंसी से इनपुट)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement