NDTV Khabar

चैंपियंस ट्रॉफी, दूसरा सेमीफाइनल: ICC टूर्नामेंट्स में भारत-बांग्लादेश के हेड-टू-हेड रिकॉर्ड पर एक नज़र

कागजों पर भले ही भारत इस मैच को जीतने का प्रबल दावेदार है लेकिन उलटफेर करने में माहिर बांग्लादेश को भी कम आंकना गलत होगा.

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
चैंपियंस ट्रॉफी, दूसरा सेमीफाइनल: ICC टूर्नामेंट्स में भारत-बांग्लादेश के हेड-टू-हेड रिकॉर्ड पर एक नज़र

ICC टूर्नामेंट्स में इन दोनों देशों के बीच हुए मुकाबले काफी रोमांचक रहे हैं

खास बातें

  1. चैंपियंस ट्रॉफी: भारत-बांग्लादेश बर्मिंघम में दूसरा सेमीफाइनल खेलेंगे
  2. भारत ने ग्रुप बी की अंकतालिका में शीर्ष पर रहते हुए अंतिम 4 में जगह बनाई
  3. ICC टूर्नामेंट्स में हेड-टू-हेड रिकॉर्ड में भारत का पलड़ा भारी है
भारत और बांग्लादेश के बीच गुरूवार को बर्मिंघम के एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड पर चैंपियंस ट्रॉफी का दूसरा सेमीफाइनल खेला जायेगा. जहाँ भारत ने ग्रुप बी की अंकतालिका में शीर्ष पर रहते हुए अंतिम चार में जगह बनाई वहीँ बांग्लादेश ने ग्रुप ए में दूसरा स्थान हासिल करके सेमीफाइनल में प्रवेश किया. लीग चरण में टीम इंडिया ने पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका को हराया था जबकि श्रीलंका के हाथों उन्हें चौंकाने वाली हार झेलनी पड़ी थी दूसरी और बांग्लादेश ने लीग चरण के करो या मरो मुकाबले में न्यूजीलैंड के खिलाफ बेहतरीन वापसी करके जीत दर्ज की. कागजों पर भले ही भारत इस मैच को जीतने का प्रबल दावेदार है लेकिन उलटफेर करने में माहिर बांग्लादेश को भी कम आंकना गलत होगा. इन दोनों टीमों के बीच अब तक कुल 32 एकदिवसीय मुकाबले खेले गए हैं जिसमे भारत ने 26 मैच जीते हैं, 5 मैच हारे हैं और एक मैच का नतीजा नहीं निकला. ICC टूर्नामेंट्स में इन दोनों देशों के बीच हुए मुकाबले काफी रोमांचक रहे हैं लेकिन हेड-टू-हेड रिकॉर्ड में भारत का पलड़ा भारी है.

2007 विश्वकप - बांग्लादेश 5 विकेट से जीता
 
team india

इस मैच को शायद ही कोई भारतीय फैन याद करना चाहता हो. वेस्टइंडीज में खेले गए 2007 विश्व कप में बांग्लादेश ने पोर्ट ऑफ स्पेन में भारत को पांच विकेट से हराकर एक बहुत बड़ा उलटफेर किया था. उस मैच में सौरव गांगुली (66) और युवराज सिंह (47) के अलावा कोई बल्लेबाजी नहीं कर पाया और टीम इंडिया 49.3 ओवर में 191 रनों पर ऑलआउट हो गई. जवाब में बांग्लादेश ने पांच विकेट खोकर लक्ष्य हासिल करते हुए भारत को विश्व कप से बाहर का रास्ता दिखाया था.

2009 वर्ल्ड टी20 - भारत 5 विकेट से जीता
 
yuvraj singh 640 bat

इंग्लैंड में आयोजित हुए वर्ल्ड टी20 के दुसरे संस्करण में गतविजेता भारत को टूर्नामेंट फेवरेट माना जा रहा था. बांग्लादेश को 25 रन से हराकर मेन इन ब्लू ने शानदार शुरुआत भी की. नाटिंघम पर हुए इस मैच में भारत ने पहले बैटिंग करते हुए 5 विकेट खोकट 180 रन बनाये. गौतम गंभीर ने 50 और युवराज सिंह ने 18 गेंदों पर 40 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली. जवाब में प्रज्ञान ओझा (4/21) की धारदार गेंदबाज़ी के आगे बांग्लादेश 8 विकेट पर 155 रन ही बना सका. हालाँकि इस बढ़िया शुरुआत का भारत फायदा नहीं उठा सका और लीग चरण के बाद ही टूर्नामेंट से बाहर हो गया.

2011 विश्व कप: भारत 87 रन से जीता
 
d(2)

बांग्लादेश के घरेलू मैदान मीरपुर पर भारत ने पहले बैटिंग करते हुए 4 विकेट खोकर 370 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया. वीरेंद्र सेहवाग ने 175 की आतिशी पारी खेली जबकि विराट कोहली ने 100 रन बनाये. जवाब में बांग्लादेश की टीम 9 विकेट पर 283 रन ही बना सकी और भारत ना सिर्फ 87 रनों से ये मैच जीता बल्कि कुछ दिनों बाद मुंबई में हुए फाइनल में श्रीलंका को हराकर विश्व कप का खिताब भी जीतने में कामयाब रहा.  

2014 वर्ल्ड टी20 - भारत 8 विकेट से जीता
 
kohli

बांग्लादेश को ग्रुप 2 के मुकाबले में आसानी से हराकर भारत ने 2014 वर्ल्ड टी20 के सेमीफाइनल में प्रवेश किया. अश्विन और अमित मिश्रा की बेहतरीन गेंदबाज़ी के चलते बांग्लादेश 20 ओवर में 7 विकेट पर 138 रन ही बना सका. इस लक्ष्य को भारत ने 18.3 ओवर में 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया. टीम इंडिया के लिए रोहित शर्मा और विराट कोहली ने अर्धशतक जड़े.

2015 विश्व कप - भारत 109 रन से जीता
 
rohit sharma century bangladesh

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में आयोजित हुए इस विश्व कप में बांग्लादेश ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए क्वार्टरफाइनल में जगह बनाई जहाँ उनका सामना भारत से था. लेकिन रोहित शर्मा के शानदार शतक के बाद उमेश यादव की अगुवाई में गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर भारत ने बांग्लादेश को 109 रन से हराकर विश्व कप सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया.

2016 वर्ल्ड टी20 - भारत 1 रन से जीता
 
big

इन दोनों देशों के बीच हुए ICC टूर्नामेंट्स के सभी मुकाबलों में सबसे रोमांचक मैच 2016 वर्ल्ड टी20 में खेला गया. बांग्लादेश को मैच जीतने के लिए अंतिम ओवर में 11 रन चाहिए थे. गेंद हार्दिक पंड्या के हाथ में थी. मुश्फिकुर रहीम ने लगातार दो चौके जड़े लेकिन इसके बाद शिखर धवन को कैच दे बैठे. अंतिम दो गेंद पर दो रन चाहिए थे लेकिन महमूदुल्लाह भी फुलटास गेंद पर आउट हो गए और अंतिम गेंद पर विकेटकीपर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने मुस्तफिजुर रहमान को रन आउट करके भारत को एक यादगार जीत दिला दी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement