NDTV Khabar

चैंपियंस ट्रॉफी : विराट कोहली की टीम इंडिया को श्रीलंका के खिलाफ इसलिए रहना होगा सावधान...

चैंपियंस ट्रॉफी में जीत के साथ आगाज़ की वजह से भारतीय फ़ैन्स और टीम के मन से बड़ा बोझ ख़त्म हो गया है.

153 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
चैंपियंस ट्रॉफी : विराट कोहली की टीम इंडिया को श्रीलंका के खिलाफ इसलिए रहना होगा सावधान...

श्रीलंका टीम को विराट कोहली की टीम इंडिया हल्‍के में लेने की भूल नहीं कर सकती (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पाकिस्तान के ख़िलाफ़ जीत से भारतीय टीम के हौसले हैं बुलंद
  2. मैच में आक्रामक खेल दिखाने की कोशिश करेगी श्रीलंका टीम
  3. कप्‍तान मैथ्‍यूज फिट घोषित किए गए पर बॉलिंग नहीं कर पाएंगे
आईसीसी की वनडे रैंकिंग में श्रीलंकाई टीम पाकिस्तान से ऊपर है (ICC रैंकिंग: भारत 2, श्रीलंका 6, पाकिस्तान 8) फिर भी जीत के साथ आगाज़ की वजह से भारतीय फ़ैन्स और टीम के मन से शायद बड़ा बोझ ख़त्म हो गया हो. इसके बावजूद 15 मैचों के इस छोटे और मुश्किल टूर्नामेंट में टीम इंडिया ज़रा भी ढिलाई बरतने की ग़लती नहीं कर सकती. भारत के ख़िलाफ़ मैच के लिए कप्तान एंजेलो मैथ्यूज़ भी फ़िट हो गए हैं. ऐसे में श्रीलंका के ख़िलाफ़ भारतीय टीम को कई पहलुओं पर सावधानी बरतने की ज़रूरत होगी.

पाकिस्तान के ख़िलाफ़ पहले मैच में जीत ने भारतीय टीम के हौसले बुलंद कर दिए हैं. टूर्नामेंट के दूसरे मैच में श्रीलंका की चुनौती अब आसान नज़र आने लगी है. श्रीलंका के ख़िलाफ़ मैच को लेकर ज़्यादा हो-हल्ला भी नहीं मच रहा. इसलिए भारतीय खिलाड़ी दूसरे मैच के लिए बेहतर फ़ोकस कर पा रहे हैं. लेकिन इन हालात में भारतीय खिलाड़ियों की सबसे बड़ी चुनौती यही होगी कि वे कोई ढिलाई न बरतें.  पूर्व श्रीलंकाई कप्तान संगकारा ने अपनी टीम की हौसलाअफ़ज़ाई के लिए उनसे आक्रामक ("arrogant") गेम खेलने की सलाह दी है. श्रीलंका का मौजूदा इंग्लैंड दौरा उसके लिए बेहद ख़राब साबित हुआ है. श्रीलंकाई टीम को 300 से बड़े स्कोर बनाने के बावजूद ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड से हार का सामना करना पड़ा. दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ लीग के पहले मैच में कप्तान एंजेलो मैथ्यूज़ की ग़ैरमौजूदगी में उपुल थारंगा और कुसल परेरा के अलावा श्रीलंकाई बल्लेबाज़ कुछ ख़ास नहीं चल पाए.

इन सबके बावजूद श्रीलंकाई टीम में युवा खिलाड़ियों के जोश के साथ अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा तालमेल है. वो जानते हैं कि टूर्नामेंट में उनकी आगे की राह आसान नहीं. लेकिन भारत को हराकर वे अपनी दावेदारी मज़बूत करने के साथ अपना रुतबा ऊंचा कर सकते हैं. फ़ॉर्म में दिख रहे उपुल थारंगा (न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ वॉर्म अप मैच में 110 और द.अफ़्रीका के ख़िलाफ़ 57 रन) पर दो मैच का बैन लगने से श्रीलंका की मुश्किल बढ़ती हुई दिखती है. लेकिन एंजेलो मैथ्यूज़ भारत के ख़िलाफ़ मैच के लिए फ़िट घोषित कर दिए गए हैं. एंजेलो मैथ्यूज़ का बयान आया है, "मैं पूरी तरह फ़िट हूं. लेकिन गेंदबाज़ी नहीं कर सकूंगा. पिछले छह-आठ महीने मेरे लिए मायूस करने वाले रहे हैं."

मैथ्यूज़ ने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ वॉर्म अप मैच में 104 गेंदों पर 110 रनों की पारी खेली थी और फिर अनफ़िट होने की वजह से अगला वॉर्म अप मैच और दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ लीग का पहला मैच नहीं खेल सके. मैथ्यूज़ की वापसी श्रीलंका को मज़बूत तो करेगी ही, 180 वनडे में 40 से ज़्यादा के औसत से बल्लेबाज़ी और 111 विकेट लेने वाले कप्तान की मौजूदगी टीम में जोश भर सकती है. टीम इंडिया यकीनन मैथ्यूज़ को बांधने और अपनी लय को बरक़रार रखने की रणनीतियों पर ग़ौर फ़रमाएगी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement