लगी चोटों पर पुजारा दो साल की बेटी की मासूम प्रतिक्रिया से हुए भावुक, आप भी इमोशनल हो जाएंगे

Aus vs Ind: पुजारा ने गाबा में इस दोहरे उछाल वाली पिच पर कभी हेलमेट, तो कभी पसलियों पर, कभी कोहनी पर तो कभी छाती पर गेंद खायी, लेकिन उन्होंने विकेट नहीं गंवाया और 211 गेंदों पर पिच पर लंगर डालते हुए 56 रन की पारी खेली. पुजारा के जज्बा करोड़ों भारतीय फैंस के दिल में बस गया है, तो उनकी दो साल की बिटिया अदिति की आंखों में पुजारा की चोट खाती तस्वीरें बस गयी हैं.

लगी चोटों पर पुजारा दो साल की बेटी की मासूम प्रतिक्रिया से हुए भावुक, आप भी इमोशनल हो जाएंगे

Aus vs Ind: चेतेश्वर पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया दौरे में जज्बे की बेहतरीन मिसाल कायम की

नई दिल्ली:

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल ही में संपन्न टेस्ट सीरीज जीतने में बेहतरीन भूमिका निभाने वालों में चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) एक बड़े नायक रहे. पुजारा ने गाबा टेस्ट के आखिरी दिन 211 गेंदों पर 56 रन की पारी खेली. इस दौरान चेतेश्वर (Cheteshwar Pujara) जज्बे की शानदार मिसाल पेश की. पुजारा ने गाबा में इस दोहरे उछाल वाली पिच पर कभी हेलमेट, तो कभी पसलियों पर, कभी कोहनी पर तो कभी छाती पर गेंद खायी, लेकिन उन्होंने विकेट नहीं गंवाया और 211 गेंदों पर पिच पर लंगर डालते हुए 56 रन की पारी खेली. पुजारा के जज्बा करोड़ों भारतीय फैंस के दिल में बस गया है, तो उनकी दो साल की बिटिया अदिति की आंखों में पुजारा की चोट खाती तस्वीरें बस गयी हैं.  वो तस्वीरें जिसके तहत पैट कमिंस और जोश हेजलवुड ने पुजारा पर बाउंसर और शॉर्टपिच की झड़ी लगा दी. 

यह भी पढ़े:  एमएस धोनी से तुलना पर ऋषभ पंत को लगता है बहुत अच्छा, लेकिन...

इस दौरान के कम दस बार गेंद पुजारा के शरीर के अलग-अलग हिस्सों पर लगी. और एक गेंद तो अचानक उठती हई पुजारा के दस्तानों पर ऐसे लगी कि एक बार को लगा कि वह रिटायर्डहर्ट होकर चले जाएंगे. लेकिन पुजारा ने सीरीज में हजार से ज्यादा खेलते हुए पूरी सीरीज में ऐसा जज्बा दिखाया, जिसकी हमेशा मिसाल दी जाएगी. बहरहाल, पुजारा जब घर लौटे, तो शरीर में चोट लगने पर अपनी दो साल की बेटी अदिति के जवाब से बहुत ही भावुक हो गए.  और वास्तव में अदिति का यह जवाब आपको भी भावुक कर देगा.

यह भी पढ़े: जीत के बाद शहर लौटने पर मुंबई क्रिकेटरों को दी यह सलाह

पुजारा ने इस पर एक अखबार से बातचीत में कहा कि शुरुआती दिनों से मुझे पेन किलर लेने की आदत नहीं है. यही वजह है मेरी दर्द सहने की शक्ति काफी ज्यादा है. आप लंबे समय के लिए खेलते और आपको गेंद लगने की आदत पड़ जाती है. ज्यादातर मुझे एक छोर से और पैट कमिंस केखिलाफ गेंद लगी. इस बल्लेबाज ने कहा कि हालात को देखते हुए हम विकेट गंवाना वहन नहीं कर सकते थे, यही  वजह थी कि मैंने गेंद को शरीर पर लगने दिया. उंगली पर लगी चोट के बारे में पुजारा ने कहा फिलहाल बल्ला पकड़ना भी बहुत मुश्किल है. बहरहाल, लगातार दूसरे सफल ऑस्ट्रेलियाई दौरे से पुजारा संतुष्ट नजर आए. इस बल्लेबाज ने कहा कि साल 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया में पहली जीत थी, लेकिन यह वास्तव में बहुत ही खास जीत बन गयी. 


चोट के दर्द पर परिवार ने कैसी प्रतिक्रिया व्यक्त की, पर पुजारा ने कहा कि उनकी दो साल की बेटी अदिति पत्नी पूजा से कहती थी, जब पापा घर आएंगे, तो जहां उन्हें चोट लगी, मैं वहां किस करूंगी. इससे वह ठीक हो जाएंगे." इस बात का जवा देते हुए चेतेश्वर पुजारा थोड़े भावुक हो गए. पुजारा बोले कि दरअसल जब भी वह जमीन पर चलने की कोशिश में गिर जाती है, तो मैं ऐसा ही करता हूं. ऐसे में उसका मानना है कि किस (चूमने) करने से हर घाव भर सकता है. 
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.