चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने किया वर्ल्ड कप के लिए बहुत ही 'अहम प्लान' का खुलासा

चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने किया वर्ल्ड कप के लिए बहुत ही 'अहम प्लान' का खुलासा

टीम इंडिया का फाइल फोटो

खास बातें

  • बोर्ड ने किया खिलाड़ियों का पूल तैयार
  • पंत को ज्यादा से ज्यादा मौका देना चाहते हैं-प्रसाद
  • क्या प्लान पर अमल हो पाएगा?
मुंबई:

ऑस्ट्रेलिया (#INDvAUS #INDvsAUS) के खिलाफ पांच वनडे मैचों की वनडे और दो टी20 मैचों की सीरीज के लिए टीम इंडिया (#TeamIndia) के ऐलान के बाद चीफ सेलेक्टर  एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने इंग्लैंड में कुछ ही महीने बाद इंग्लैंड में खेले जाने वाले वर्ल्ड कप (#WorldCup2019) के लिए अपनी योजना का खुलासा कर दिया है. इस योजना को अंतिम रूप प्रदान करने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड पिछले कई दिनों ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के फ्रेंचाइजी टीमों के साथ लगातार संपर्क बनाए हुए है. आईपीएल का आयोजन 23 मार्च से होगा.  बोर्ड ने फ्रेंचाइजी टीमों के साथ यह प्लान खिलाड़ियों पर पड़ने वाले बोझ को लेकर बनाने की बात कही है. 

जाहिर है कि टीम इंडिया के सितारा खिलाड़ियों को अपनी फ्रेंचाइजी टीमों के लिए दस से भी ज्यादा मैच खेलने हैं. और आईपीएल खत्म होते ही ये खिलाड़ी टीम इंडिया से जुड़ जाएंगे. वर्ल्ड कप भी करीब डेढ़ महीने तक चलेगा. और ऐसे में सभी खिलाड़ियों के सामने सबसे बड़ी चुनौती वर्ल्ड कप के लिए खुद को तरोताजा और फिट रखना है. इसी को ध्यान में रखते हुए बोर्ड चाहता है कि खिलाड़ियों पर पड़ने वाला वर्कलोड अच्छी तरह से मैनेज हो. 

यह भी पढ़ें:  इसलिए शिखर धवन ने लिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रेक न लेने का फैसला

चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने कहा कि हमने 18 खिलाड़ियों को चुना है. और वर्ल्ड कप टीम का चयन करने से पहले हम इन खिलाड़ियों की नियमित अंतराल पर अदला-बदली करेंगे. और जहां तक वर्कलोड के प्रबंधन का सवाल है, तो अभी इस पर काम किया जाना बाकी है. इस को लेकर फ्रेंचाइजी टीमों के साथ बातचीत जारी है. जैसे ही इसको लेकर हम किसी निष्कर्ष पर पहुंचते हैं, तो इसे हम सार्वजनिक करेंगे. अब यह देखने वाली बात होगी कि करोड़ों रुपये खर्च करके खिलाड़ियों को खरीदने वाली आईपीएल टीमें  शीर्ष भारतीय खिलाड़ियों के वर्कलोड के प्रबंधन के लिए सहमत होंगी. 

यह भी पढ़ें: हनुमा विहारी का 'ट्रिपल धमाल', रिकॉर्ड बनाने वाले 58 साल के इतिहास में पहले बल्लेबाज

बोर्ड आईपीएल के दौरान लगातार खिलाड़ियों के वर्कलोड पर निगरानी रखेगा. वैसे जब बोर्ड के कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी से इस बारे में सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कि वर्कलोड को लेकर फ्रेंचाइजी के विचार पूरी तरह से अलग हैं. उन्होंने कहा कि अगर आप यह कह रहे हैं कि फ्रेंचाइजी खिलाड़ियों को आराम देने को लेकर चिंतित होंगे, तो मैं यही कहूंगा कि विश्व कप को ध्यान में रखते हुए हम इस मुद्दे का हल निकालने की कोशिश करेंगे, लेकिन मैं इसके बारे में अभी आपको विस्तार से नहीं बता सकता. 

VIDEO: कुछ दिन पहले ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले विराट कोहली. 

अमिताभ चौधरी ने फ्रेंचाइजियों से राष्ट्रीय हित भी ध्यान में रखते हुए कहा कि अब जबकि सभी फ्रेंचाइजी टीमें भारतीय हैं, तो इन्हें शीर्ष स्तर पर बेहतर करने के लिहाज से देश हित को भी ध्यान में रखना चाहिए. 
 

 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com