वर्ल्‍डकप में टीम इंडिया के प्रदर्शन की समीक्षा करेगा COA, इन सवालों के तलाशे जाएंगे जवाब...

वर्ल्‍डकप में टीम इंडिया के प्रदर्शन की समीक्षा करेगा COA, इन सवालों के तलाशे जाएंगे जवाब...

वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा

खास बातें

  • टीम की स्‍वदेश वापसी के बाद बुलाई जाएगी बैठक
  • कप्तान-कोच को देना पड़ सकता है कई कड़े सवालों का जवाब
  • उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति लेगी बैठक
नई दिल्ली:

IND vs NZ: न्यूजीलैंड से वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019) के सेमीफाइनल में भारतीय टीम (India Cricket team) को 18 रनों से हार का सामना करना पड़ा. टीम की इस हार के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (CoA) ने कहा है कि वह टीम की स्वदेश वापसी पर कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) के साथ समीक्षा बैठक करेगी. इस बैठक में वह टीम के लिए अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने जा रहे टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) का रोडमैप तैयार करेंगी. विनोद रॉय (Vinod Roy) की अध्यक्षता वाली समिति प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद से भी बात करेगी. समिति में डायना एडुल्जी और लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) रिव थोडगे भी हैं.

वर्ल्डकप 2019 में टीम इंडिया की हार के बाद बैटिंग कोच संजय बांगर पर गिर सकती है गाज..

विनोद रॉय (Vinod Roy) ने कहा, 'कप्तान और कोच के ब्रेक से लौटने के बाद बैठक जरूर होगी. मैं तारीख और समय नहीं बता सकता, लेकिन हम उनसे बात करेंगे. हम चयन समिति से भी बात करेंगे.' उन्होंने आगे ब्यौरा देने से इनकार कर दिया. रॉय ने कहा, 'भारत का अभियान अभी खत्म हुआ है. कहां, कब और कैसे जैसे सवालों का मैं आपको कोई जवाब नहीं दे सकूंगा.' शास्त्री, कोहली और प्रसाद को कुछ सवालों का जवाब देना पड़ सकता है. मसलन आखिरी सीरीज तक अंबाती रायुडू का चयन तय था, लेकिन अचानक वह चौथे नंबर की दौड़ से बाहर कैसे हो गए. 

World Cup: धर्मसेना की खराब अंपायरिंग, आउट दिए जाने पर जेसन रॉय ने जताई नाराजगी, देखें VIDEO

दूसरा, टीम में तीन विकेटकीपर क्यों थे? खासकर दिनेश कार्तिक की क्या जरूरत थी, जो लंबे समय से फॉर्म में नहीं थे. तीसरा सेमीफाइनल में महेंद्र सिंह धोनी को सातवें नंबर पर क्यो उतारा गया? समझा जाता है कि धोनी को नीचे भेजने का फैसला बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ का था. यह भी पूछा जाएगा कि सहायक कोच के इस फैसले का मुख्य कोच ने विरोध क्यो नहीं किया. मौजूदा चयन समिति BCCI की आमसभा की बैठक तक बनी रहेगी. ऐसे में प्रसाद को चयन बैठकों में अधिक सक्रिय रहने की सलाह दी जा सकती है. असल में समस्या प्रसाद से नहीं बल्कि शरणदीप सिंह और देवांग गांधी से है, क्योंकि कुछ लोगों का मानना है कि उनका कोई योगदान नहीं रहता.

VIDEO:  वर्ल्ड कप 2019 के पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से 18 रनों से हारकर बाहर हुआ भारत 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com