विवाद 2016: BCCI पर लोढ़ा पैनल का 'बाउंसर', सुशील-नरसिंह का 'दंगल', 'सुल्‍तान' सलमान का विरोध सुर्खियों में रहा..

विवाद 2016: BCCI पर लोढ़ा पैनल का 'बाउंसर', सुशील-नरसिंह का 'दंगल', 'सुल्‍तान' सलमान का विरोध सुर्खियों में रहा..

2016 में स्पोर्ट्स और क्रिकेट कई विवादों की वजह से चर्चा में रहे (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

खेलों की दुनिया में उपलब्धियों से इतर कई विवादास्‍पद और सनसनीखेज घटनाओं के लिए भी वर्ष 2016 चर्चाओं में रहा. ये घटनाएं भारतीय और विश्‍व खेल परिदृश्‍य, दोनों में चटखारे लेकर पढ़ी-सुनी गईं. भारतीय खेलों के लिहाज से देखें तो साल भर बीसीसीआई और सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में गठित लोढ़ा पैनल के बीच आरोप-प्रत्‍यारोप, पहलवान सुशील कुमार और नरसिंह यादव के बीच तकरार, और सलमान खान को रियो ओलिंपिक-2016 में भारतीय दल का ब्रांड एंबेसडर बनाने के विरोध ने सुखियां बटोरीं. इसके अलावा बैडमिंटन के सर्वकालीन महान खिलाड़ि‍यों में से एक लिन डेन का विवाहेतर संबंध के बाद पत्‍नी से माफी मांगना, फर्राटा किंग उसने बोल्‍ट की एक छात्रा के साथ इंटीमेंट तस्‍वीरें और पाकिस्‍तान के दो दिग्‍गज क्रिकेटरों शाहिद अफरीदी और जावेद मियांदाद की तूतू-मैंमैं की खबरों ने भी खेलप्रेमियों के किसी रोमांच भरे मुकाबले जैसा ही मजा दिया. आइए नजर डालते हैं ऐसी खास घटनाओं पर..

बीसीसीआई डाल-डाल, तो लोढ़ा पैनल पात-पात
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के ढांचे में आमूलचूल बदलाव और पारदर्शिता लाने की जंग सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गई. सुप्रीम कोर्ट ने प्रस्‍तावित बदलावों पर सुझाव देने के लिए पूर्व सीजेआई आरएम लोढ़ा की अगुवाई में एक कमेटी गठित की, लेकिन इसकी सिफारिशों के सामने आते ही बीसीसीआई के 'कथित मठाधीशों' के मुंह का जायका खराब हो गया. लोढ़ा पैनल की सिफारिशों को लेकर बीसीसीआई में मोर्चाबंदी तेज हो गई, इसे देखते हुए लोढ़ा पैनल ने अपना रुख और सख्‍त कर लिया. लोढ़ा कमेटी की कई सिफारिशें ऐसी हैं, जिनके लागू होते ही अभी तक आरटीआई के दायरे से बाहर और देश ही नहीं दुनिया के सबसे रईस खेल संगठनों में से एक, बीसीसीआई की दशा और दिशा ही बदल जाएगी.

 
justice lodha and anurag thakur 650
सबसे ज्यादा तनातनी लोढा कमेटी और बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर के बीच रही (फाइल फोटो)

लोढ़ा कमेटी और सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई को दो टूक लहजे में कह दिया है- हमारी ओर से सुझाई गई सिफारिशों को लागू करो या फिर कार्रवाई झेलने को तैयार रहो. बीसीसीआई को यह नागवार गुजर रहा है लेकिन लोढ़ा पैनल के साथ सुप्रीम कोर्ट की शक्तियां निहित होने के कारण उसके हाथ बंध गए हैं. लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों में कई तो बेहद कड़ी हैं जिसमें  एक राज्य एक वोट, प्रशासकों के लिए तीन साल का ब्रेक और मंत्रियों, नौकरशाहों तथा 70 साल से ज़्यादा के लोगों के पदाधिकारी बनने पर रोक की अनुशंसा शामिल है. पैनल का यह भी कहना है कि बीसीसीआई और इसके अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर का इस मामले में रुख असहयोगपूर्ण है.

ओलिंपिक से पहले सुशील कुमार-नरसिंह यादव का 'दंगल'
रियो ओलिंप‍िक में पहलवान सुशील कुमार जाएंगे या फिर नरसिंह यादव, इसे लेकर देश में पहले से ही दोनों के बीच 'दंगल' चला. दो ओलिंपिक खेलों के पदक विजेता सुशील और नरसिंह के बीच 74 किग्रा वर्ग में रियो जाने को लेकर कोर्ट में भी मामला चला था और अदालत से सुशील को झटका लगा था. गौरतलब है कि नरसिंह ने कोटा हासिल किया था, जबकि सुशील ट्रायल से इसे हासिल करना चाहते थे. नरसिंह पंचम यादव ने 2015 में वर्ल्ड कुश्ती चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता था, इसी जीत के साथ उन्होंने रियो के लिए 74 किग्रा वर्ग में क्वालिफाई कर लिया था.

 
sushil narsingh 650
नरसिंह यादव और सुशील कुमार की लड़ाई कोर्ट तक पहुंच गई थी (फाइल फोटो)

मामले में एक और ट्विस्‍ट तब आ गया जब नाडा के टेस्‍ट में नरसिंह का डोप टेस्‍ट पॉजिटिव आया. इसे लेकर भी आरोपों-प्रत्‍यारोपों का दौर चला. यह भी कहा गया कि एक साजिश के तहत नरसिंह को रियो जाने से रोका जा रहा है. स्‍वाभाविक है यह आरोप सुशील पर भी लगे. बाद में नाडा की ओर से नरसिंह को रियो जाने के लिए क्‍लीनचिट मिल गई लेकिन रियो पहुंचकर भारत को तब शर्मसार होना पड़ा जब वर्ल्‍ड एंडी डोपिंग एजेंसी (वाडा) के कड़े रुख के कारण नरसिंह मुकाबले में नहीं उतर सके. कोर्ट ऑफ ऑर्बिट्रेशन फॉर स्‍पोर्ट्स (कैस) ने नाडा के फैसले को नहीं माना और नरसिंह पर चार साल का प्रतिबंध लगा सो अलग.

शाहिद अफरीदी और जावेद मियांदाद इसलिए उलझे
पाकिस्‍तान के दो दिग्‍गज खिलाड़ी, शाहिद अफरीदी और जावेद मियांदाद के 'झगड़े' ने भी सुखियां बटोरीं. विवाद की शुरुआत शाहिद अफरीदी द्वारा पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) से अपने लिए फेयरवेल मैच मांगने के बाद हुई. एक चैनल से बातचीत में अफरीदी ने पीसीबी से आग्रह किया था कि वह उनके लिए फेयरवेल मैच आयोजित करे ताकि वे (अफरीदी ) सम्‍मान के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह सकें.

 
javed miandad and shahid afridi
जावेद मियांदाद ने शाहिद अफरीदी पर गंभीर आरोप लगाया था (फाइल फोटो)

यह मांग पाकिस्‍तान के पूर्व कप्‍तान और कोच जावेद मियांदाद को नागवार गुजरी. उन्‍होंने दो टूक अंदाज में कहा कि धन के लालच के कारण ही अफरीदी इस मैच की डिमांड कर रहे हैं. अफरीदी भी कहां चुप रहने वाले थे. उन्‍होंने कहा मेरे लिए नहीं, बल्कि मियांदाद के लिए धन हमेशा बड़ा मुद्दा रहा है. मियांदाद जैसे बड़े कद वाले खिलाड़ी को यह शोभा नहीं देता कि वे इस तरह की ओछी बयानबाजी करें.

सलमान खान को रियो का गुडविल एंबेसडर बनाने का विरोध
बॉलीवुड स्‍टार सलमान खान को रियो ओलिंपिक में इंडियन टीम का गुडविल एंबेसडर बनाने को लेकर कई नामी खिलाड़ि‍यों ने आवाज बुलंद की. उड़न सिख मिल्‍खा सिंह, पूर्व हॉकी खिलाड़ी परगट सिंह, दिलीप टिर्की के अलावा पहलवान योगेश्‍वर दत्त ने इसके खिलाफ आवाज उठाई. इनमें से ज्‍यादातर का मानना था कि बॉलीवुड स्‍टार के बजाय खेल जगत से जुड़ी किसी बड़ी शख्सियत को एंबेसडर बनाया जाना चाहिए था.

 
salman khan aishwarya rai bachchan
विरोध के बीच ऐश्वर्या राय ने सलमान को गुडविल एंबेसडर बनाए जाने का समर्थन किया था (फाइल फोटो)

मिल्‍खा सिंह ने कहा- अगर एक एंबेसडर भेजने की जरूरत है ही तो मुझे लगता है कि पीटी उषा, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, अजीत पाल सिंह बेटर च्वॉइस हो सकते थे. मामला यहीं नहीं थमा, पदक के दावेदार माने जा रहे योगेश्‍वर दत्‍त जब कुश्‍ती का अपना पहला ही मुकाबला हारकर बाहर हो गए तो 'भाई' के कथित प्रशंसकों ने सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ आपत्तिजनक टिप्‍पणियां कीं.  

छुपा नहीं रह पाया लिन डेन का अफेयर, पत्‍नी से माफी मांगी
खेल जगत के दो दिग्‍गज खिलाड़ी टाइगर वुड्स और शेन वार्न को विवाहेतर संबंधों के लिए बदनामी झेलनी पड़ी. इस सूची में नया नाम बैडमिंटन के दिग्‍गज खिलाड़ी चीन के लिन डेन का शामिल हो गया. 'सुपर डेन' के नाम से लोकप्रिय डेन ने एक मॉडल के साथ अपनी अंतरंग तस्‍वीरें वायरल होने के बाद पत्‍नी से माफी मांगी. अक्‍टूबर की सामने आईं इन तस्वीरों में एक होटल के कमरे में लिन डेन को मॉडल-अभिनेत्री झाओ याकी को चूमते दिखाया गया है. कुछ तस्वीरों में दोनों को बेहद आपत्तिजनक अवस्‍था में दिखाया गया है, जबकि इस दौरान लिन की पत्नी शी शिंगफेंग गर्भवती थी.

 
lin dan
लिन डेन ने रियो में भारत के के. श्रीकांत को क्वार्टर में हराकर बाहर कर दिया था (फाइल फोटो)

लिन ने पूरे मामले पर माफी मांगी. उन्‍होंने लिखा, ‘एक पुरुष के रूप में मैं उसका बचाव नहीं करता चाहता जो मैंने किया. मेरे बर्ताव ने मेरे परिवार को पीड़ा पहुंची है. इसलिए मैं अपने परिवार से माफी मांगता हूं.’

फर्राटा किंग बोल्‍ट के साथ छात्रा की तस्‍वीरें और आया 'तूफान'
तीन गोल्‍ड जीतने के अलावा जमैका के उसेन बोल्‍ट एक और कारण से रियो ओलिंपिक के दौरान सुर्खियों में रहे. रियो की एक 20 वर्षीय छात्रा ने बोल्ट के साथ अपने कुछ निजी पलों को सार्वजनिक क्‍या किया, मानो तूफान ही आ गया. जेडी डुआर्ट नाम की इस लड़की ने सोशल मीडिया पर जो फोटो शेयर की, उन्‍हें देखकर बोल्‍ट के फैंस अवाक रह गए.

 
usain bolt megan edwards
रियो ओलिंपिक से पहले ही उनकी एक्स गर्लफ्रेंड का फोटोशूट चर्चा में आ गया था (फाइल फोटो)

इन तस्वीरों में बोल्ट उस 20 वर्षीय लड़की के साथ बिस्तर पर हैं. एक तस्वीर में वह युवती को किस करते हुए देखे जा सकते हैं. अन्य तस्वीर में बोल्ट लड़की को अपनी बांहों में भरे हुए हैं. ब्राजील की इस 20 साल की एक स्टूडेंट के साथ बिस्तर में ली गई तस्वीरें बोल्ट की रंगीनमिजाजी को सामने रख रही हैं.

अनुशासनहीन पाक क्रिकेटर, यासिर शाह-वहाब रियाज का झगड़ा
वर्ष के आखिरी माह में पाकिस्‍तान के क्रिकेटर यासिर शाह और वहाब रियाज की ट्रेनिंग सत्र के दौरान हुई झगड़े की घटना की फोटो मीडिया में छा गईं. नौबत यहां तक आई कि टीम मैनेजर वसीम बारी ने दोनों खिलाड़ियों को ट्रेनिंग सत्र से बेंच पर बैठने के लिए भेज दिया. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने भी ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के दौरान हुई इस तूतू-मैंमैं की घटना को गंभीर मानते हुए टीम मैनेजमेंट से रिपोर्ट तलब की है. उन्‍होंने कहा कि अगर जरूरी हुआ तो दोनों खिलाड़ियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी.

 
yasir wahab
यासिर शाह-वहाब रियाज से पहले भी कई पाकिस्तानी क्रिकेटर टकरा चुके हैं (फाइल फोटो)

ओलिंपिक स्‍तर का तैराक और इतना बड़ा झूठ
रियो ओलिंपिक के दौरान अपने कुछ तैराकों द्वारा लूट की झूठी कहानी गढ़ने के लिए अमेरिका को शर्मसार होना पड़ा. बाद में पूछताछ में इन तैराकों ने लूट की झूठी कहानी गढ़ने की बात कबूल कर ली और अमेरिकी ओलिंपिक अधिकारियों ने ब्राजील से माफी मांगी. अमेरिका के स्‍टार तैराक रायन लोशे सहित चार अमेरिकी तैराक हाल में खबरों में थे जब उन्होंने दावा किया था कि रविवार तड़के रियो के एक गैस स्टेशन पर बंदूक की नोंक पर उनसे लूटपाट की गई. चश्मदीदों के बयान और CCTV वीडियो सामने आने के बाद यह कहानी पलट गई. पुलिस ने कहा कि तैराकों के समूह को एक पेट्रोप पंप के बाथरूम में तोड़फोड़ के कारण हिरासत में लिया गया था. उसका दावा था कि लोशे शराब के नशे में थे.

 
ryan lochte
रेयान लोशे ने रियो ओलिंपिक में गोल्‍ड मेडल जीता था (फाइल फोटो)

जब सुपर फुटबॉलर मेसी टैक्‍स की धोखाधड़ी में फंसे
फुटबॉल जगत से जुड़ी एक बड़ी खबर ने भी सबका ध्‍यान खींचा. अर्जेंटीना और बार्सिलोना क्‍लब के दिग्‍गज फुटबॉलर लियोनेल मेसी और उनके पिता जार्गे को टैक्‍स धोखाधड़ी के मामले में 21 माह जेल की सजा सुनाई गई. वैसे, सजा के बावजूद लियोनेल और उनके पिता को जेल में नहीं जाना पड़ा. उन पर करीब 15 करोड़ रुपए का जुर्माना भी लगाया गया. स्‍पेन के कोर्ट ने यह सजा तीन टैक्स के मामलों में सुनाई है. इंटरनेशनल लेवल पर मेसी अर्जेंटीना के लिए खेलते थे जबकि क्लब और लीग लेवल पर स्पेन के बार्सिलोना के लिए खेलते हैं. मेसी का टैक्‍स चोरी के मामले में फंसना उनकी छवि को दागदार बना गया.

 
lionel messi afp
लियोनल मेसी को सजा के बावजूद जेल नहीं जाना पड़ा (फाइल फोटो)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पेस-बोपन्‍ना रियो में जोड़ी बनाकर उतरे, पहले ही दौर में बाहर हुए
रियो ओलिंपिक में टेनिस के डबल्‍स मुकाबले में लिएंडर पेस-रोहन बोपन्‍ना को मेडल का मजबूत दावेदार माना जा रहा था, लेकिन इनकी दावेदारी की हवा पहले ही दौर में निकल गई. मेडल की उम्‍मीदों के इस तरह धराशायी होने के बाद इन दोनों खिलाड़ि‍यों को तीखी आलोचना का शिकार होना पड़ा. यह कहा गया कि अपने अहं की लड़ाई के कारण इन दोनों ने देश की मेडल की उम्‍मीदों को गहरा आघात पहुंचाया.

 
leander paes rohan bopanna
रियो ओलिंपिक में लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना की जोड़ी पहले ही मैच में हारकर बाहर हो गई  थी (फाइल फोटो)

पेस के पूर्व जोड़ीदार महेश भूपति ने कहा कि खुद को मेडल की होड़ में रखने के लिए इन दोनों खिलाड़ि‍यों ने एक साथ अभ्यास नहीं किया. भूपति के अनुसार, पुरुष युगल टीम पूरी तरह से तैयार नहीं थी. दूसरे शब्‍दों में कहूं तो कोई तैयारी ही नहीं थी. गौरतलब है कि पेस और बोपन्‍ना के बीच रिश्‍ते सहज नहीं हैं और एक-दूसरे के खिलाफ बयानबाजी के कारण ये चर्चाओं में रहे हैं.