DC vs KKR: इन तीन वजहों से दिनेश कार्तिक की कप्तानी पर उठे सवाल, गौतम गंभीर बोले कि....

DC vs KKR: इसमें दो राय नहीं कि केकेआर को अच्छे कप्तान की बहुत ज्यादा कमी खल रही है. और दिनेश कार्तिक की आलोचना ऐसी हो रही है कि सोशल मीडिया पर केकेआर के फैंस ने उन्हें लेकर सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं.

DC vs KKR: इन  तीन वजहों से दिनेश कार्तिक की कप्तानी पर उठे सवाल, गौतम गंभीर बोले कि....

केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक

नई दिल्ली:

शनिवार को दिल्ली डेयर डेविल्स (DC) के हाथों मिली 18 रन से हार के बाद केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) निशाने पर आ गए हैं. माहौल ऐसा हो चला है सोशल मीडिया पर बड़ी  संख्या में लोग उन्हें कप्तानी से हटाने की भी मांग कर रहे हैं. केकेआर के खिलाफ मैच में एक नहीं, बल्कि कई वजह से आलोचकों के गुस्से का शिकार हैं. और अब तो पूर्व कप्तान गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने भी दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) के फैसले पर सवाल खड़ा किया है. गंभीर ने कार्तिक पर गलत समय पर गलत गेंदबाज को ओवर थमाने के लिए उनकी आलोचना की. हम गंभीर के फैसले की बात करेंगे, पहले कार्तिक के बाकी फैसलों की आलोचना की वजह जान लीजिए. 

कार्तिक का बल्ला नहीं चल रहा
दिल्ली के खिलाफ जब केकेआर 228 रन का पीछा कर रहा था, तो ऐसे में दिनेश कार्तिक के  सामने उदाहरण पेश करने का अच्छा मौका था, लेकिन कार्तिक बड़ी पारी खेलने में नाकाम साबित हुए. बहुत ही आसान पिच पर दिनेश ने सिर्फ 8 गेंदों पर 6 ही रन का योगदान दिया. वास्तव में कार्तिक खिलाड़ियों के सामने बल्ले से उदाहरण पेश करने में नाकाम रहे हैं. 


इयोन मोर्गन को नीचे क्यों भेजा
सभी ने टूर्नामेंट में देखा कि इंग्लिश कप्तान कितनी अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं. दिल्ली के लिए इयोन मोर्गन ने कई अच्छी पारियां खेली हैं, लेकिन इस सबके बावजूद कार्तिक खुद मोर्गन से पहले बैटिंग के लिए आ गए. और मोर्गन ने 18 गेंदों पर आतिशी 44 रन बनाकर दिखाया कि अगर वह ऊपरी क्रम पर आते, तो दिल्ली को इसका जरूरी फायदा जरूर मिलता

गंभीर का सवाल?
केकेआर के पूर्व कप्तान ने सवाल उठाते हुए कहा कि कार्तिक बॉलिंग के दौरान अपनी गेंदबाजी का सही अध्ययन नहीं कर सके और उन्होंने पारी खत्म होने से पहले वरुण चक्रवर्ती को ओवर थमाकर गलती की. पहले कुच ओवरों में वरुण ने अच्छी गेंदबाजी की थी, लेकिन 19वें ओवर में वरुण ने 20 रन दिए, जिसने मैच में अंतर पैदा किया. गंभीर ने कहा कि आपको अपने बेस्ट बॉलर से 18वां, 19वां और 20वां ओवर फिंकवाना चाहिए, लेकिन दुर्भाग्यवश ऐसा नहीं हुआ. ये ओवर कमिंस, नारायण और यहां तक कि मावी से करा सकते थे. आप 19वां ओवर किसी युवा को खासतौर पर शारजाह में नहीं थमा सकते. यह एक गलती थी.

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(इनपुट: भाषा)