कैनबरा वनडे : धोनी ने कहा, मेरा विकेट जाना ही मैच का टर्निंग प्वाइंट था

कैनबरा वनडे : धोनी ने कहा, मेरा विकेट जाना ही मैच का टर्निंग प्वाइंट था

नई दिल्ली:

38वें ओवर में 277 के स्कोर पर टीम इंडिया की जीत सीरीज में पहली बार बेहद नजदीक नजर आ रही थी। लेकिन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मध्यम तेज गेंदबाज जॉन हेस्टिंग्स की गेंद पर आउट हुए और मैच हाथ से फिसल गया। शिखर धवन से लेकर अजिंक्य रहाणे तक टीम इंडिया के पांच दिग्गज सिर्फ 17 रन के अंदर आउट हो गए।

मैच के फौरन बाद हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान धोनी ये मानने से नहीं झिझके कि उनका ही विकेट मैच का
टर्निंग प्वाइंट था। धोनी ने कहा, "मैं मानता हूं कि मेरे विकेट का जाना ही मैच का टर्निंग प्वाइंट था। मेरे रोल
और मेरी जिम्मेदारी के हिसाब से वही मैच का टर्निंग प्वाइंट था।"

धोनी के आलोचक इस पूरी सीरीज में उन पर सवाल उठाते रहे हैं। कैनबरा में 0 पर आउट होकर धोनी ने
अपने आलोचकों को आक्रमण के मौके दे दिए हैं। हालांकि धोनी मानते हैं कि इस मैच में टीम ने बेहतर प्रदर्शन किया
है और कई चीजें सकारात्मक भी हुई हैं। वह कहते हैं कि अगर उनका विकेट नहीं जाता तो मैच 46वें-47वें ओवर में
खत्म हो सकता था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

धोनी कहते हैं, "हम हार से निराश जरूर हैं, लेकिन मैच में कई चीजें सकारात्मक भी हुई हैं। पहले तीन मैचों में
हार के बाद लोग नहीं मानते थे कि हम वापसी कर सकते हैं। हम नकारात्मक सोच लेकर बैठ नहीं सकते। मैच में
रोहित ने अच्छी पारी खेली। विराट और शिखर ने तो बेहद शानदार पार्टनरशिप की। इन सबकी झलक आपको टी20
सीरीज में भी देखने को मिलेगी।"

टीम इंडिया को सीरीज का पांचवां और आखिरी मैच सिडनी में 23 जनवरी को खेलना है। इसके बाद टीम इंडिया
को ऑस्ट्रेलिया के साथ तीन मैचों की टी20 सीरीज में (26 जनवरी को एडिलेड में, 29 जनवरी को मेलबर्न में और
31 जनवरी को सिडनी में) हिस्सा लेना है।