IND vs SL: रोहित शर्मा ने अजिंक्‍य रहाणे को पहले वनडे की टीम में स्‍थान न मिल पाने का बताया यह कारण

श्रीलंका के खिलाफ धर्मशाला के तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच पर पहले वनडे मैच में भारतीय बल्‍लेबाजी बिखर गई.

IND vs SL: रोहित शर्मा ने अजिंक्‍य रहाणे को पहले वनडे की टीम में स्‍थान न मिल पाने का बताया यह कारण

रोहित शर्मा ने महेंद्र सिंह धोनी की जुझारू पारी की जमकर प्रशंसा की (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कहा- रहाणे को वनडे का विशेषज्ञ ओपनर मानता है प्रबंधन
  • हम उनके बैटिंग आर्डर को लगातार नहीं बदलना चाहते
  • मैच में श्रीलंका टीम ने 7 विकेट से जीत हासिल की थी
धर्मशाला:

श्रीलंका के खिलाफ धर्मशाला के तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच पर पहले वनडे मैच में भारतीय बल्‍लेबाजी बिखर गई. मैच के बाद टीम इंडिया के कप्‍तान रोहित शर्मा ने माना कि मैच में अजिंक्य रहाणे की तकनीक की कमी खली. इसके बावजूद रोहित ने स्वीकार किया कि अजिंक्‍य रहाणे को टीम में जगह देना मुश्किल था क्योंकि टीम प्रबंधन उन्हें 50 ओवर के प्रारूप में विशेषज्ञ सलामी बल्लेबाज समझता है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार चार अर्धशतक जड़ने वाले रहाणे को श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे के अंतिम एकादश में जगह नहीं मिली. श्रेयस अय्यर ने तीसरे नंबर पर खेलते हुए पदार्पण किया जबकि मनीष पांडे पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे.

रोहित ने कहा, ‘मुझे लगता है कि हमने श्रीलंका में स्पष्ट कर दिया था कि वह सलामी बल्लेबाज है और हम उसके बल्लेबाजी क्रम को बदलते नहीं रहना चाहते. अगर बल्लेबाजी क्रम बदलता रहे तो यह सभी के दिमाग पर असर डालता है.’ उन्होंने कहा, ‘हमने उसकी पहचान सलामी बल्लेबाज के रूप में की है और यही कारण है कि उसे बाहर बैठना पड़ा. हालांकि हम समझते हैं कि पिछली कुछ सीरीज में उन्‍होंने  रन बनाए हैं. लेकिन विदेशों में जाने से पहले हम पांडे, (केदार) जाधव, अय्यर जैसे खिलाड़ियों को पर्याप्त मैच देना चाहते हैं. यह महत्वपूर्ण है कि वे मौके का फायदा उठाएं.’ भारत को 38 . 2 ओवर में 112 रन पर ढेर करने के बाद श्रीलंका ने 20 . 4 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया. महेंद्र सिंह धोनी (65) के अलावा भारत का कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाया और रोहित ने पूर्व भारतीय कप्तान की जमकर तारीफ की.

उन्होंने कहा, ‘धोनी ने कई बार इस तरह की स्थिति का सामना किया है और बार-बार खुद को साबित किया है. पहली बात तो मुझे यह समझ नहीं आता कि यह बात क्यों होती है कि वह हमारी योजनाओं का हिस्सा है या नहीं. उसके रन बनाते ही सारी बातें बदल जाती हैं.’ इन्हीं तरह के हालात में दक्षिण अफ्रीका में होने वाली टेस्ट सीरीज से पहले बल्लेबाजी का ध्वस्त होना क्या टीम के लिए चिंता की बात है, यह पूछने पर रोहित ने कहा, ‘यह वनडे टीम है, मुझे नहीं लगता कि कोई तुलना हो सकती है.’उन्होंने कहा, ‘टेस्ट टीम को भी कोलकाता में संघर्ष करना पड़ा था लेकिन इन हालात में कोई भी टीम संघर्ष करेगी.’
वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की प्रशंसा
भारतीय बल्लेबाजी क्रम के ढहने का बचाव करते हुए रोहित ने कहा कि श्रीलंका के गेंदबाजों ने हालात का अच्छी तरह फायदा उठाया.उन्होंने कहा, ‘इस तरह के हालात में एक या दो बल्लेबाज की रन बनाते हैं, सभी बल्लेबाज रन नहीं बनाते. मुझे नहीं लगता कि हमने कोई खराब शॉट खेले लेकिन उन्होंने सही लाइन-लेंथ के साथ गेंदबाजी की और हमें दबाव में रखा. बल्लेबाजों को हमेशा खेलने के लिए मजबूर किया गया.’ जसप्रीत बुमराह के नोबाल पर उपुल थरंगा को आउट करने पर रोहित ने कहा कि भारत की हार का कारण यह नहीं था क्योंकि वैसे भी पर्याप्त रन नहीं बने थे.उन्होंने कहा, ‘हमने बल्ले से मैच गंवाया, गेंद से नहीं. किसी एक खिलाड़ी को निशाना बनाना अनुचित होगा, विशेषकर गेंदबाज को. मुझे लगता है कि बल्लेबाजी समूह के रूप में हम विफल रहे.’ (इनपुट: एजेंसी)

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com