ENG vs AUS, 3rd Test, Day 3: कप्तान जो रूट की नाबाद पारी ने जगाई इंग्लैंड की उम्मीदें

ENG vs AUS, 3rd Test, Day 3: कप्तान जो रूट की नाबाद पारी ने जगाई इंग्लैंड की उम्मीदें

जे रूट

खास बातें

  • इंग्लैंड 3 विकेट पर 156 रन
  • इंग्लैंड को जीत के लिए चाहिए अभी 203 रन
  • इंग्लैंड के हाथ में हैं 7 विकेट
लीड्स:

ऑस्ट्रेलिया ने यहां हेडिंग्ले मैदान पर खेले जा रहे एशेज (Ashes 2019) सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच (ENG vs AUS, 3rd Test, Day 3) के तीसरे दिन शनिवार को अपनी दूसरी पारी में 246 रन का स्कोर बनाकर मेजबान इंग्लैंड (ENG vs AUS) के सामने जीत के लिए 359 रनों का मजबूत लक्ष्य रख दिया. इंग्लैंड ने इसके जवाब में दिन का खेल समाप्त होने तक तीन विकेट पर 156 रन बना लिए हैं. और कप्तान जो रूट के नाबाद 75 और डेनली के 50 रन ने इंग्लैंड पहली पारी में 67 रन पर सिमटने वाली इंग्लैंड के प्रशंसकों की उम्मीदें जगा दी हैं.  इंग्लैंड को यहां से मैच जीतने के लिए 203 रन और बनाने हैं जबकि उसके सात विकेट शेष है. रूट के साथ बेन स्टोक्स 2 रन बनाकर क्रीज पर हैं. 

यह भी पढ़ें:  लबुशाने ने बनाया यह स्पेशल रिकॉर्ड, 142 साल के इतिहास में सिर्फ पांचवें बल्लेबाज बने
 
ऑस्ट्रेलिया से मिले 359 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की शुरूआत ठीक नहीं रही और मेजबान टीम ने 15 रन के अंदर ही अपने दोनों ओपनरों रोरी बर्न्‍स (7) और जेसन रॉय (8) का विकेट गंवा दिया. इसके बाद कप्तान जो रूट (नाबाद 75) और जोए डेनली (50) ने तीसरे विकेट के लिए 126 रन की शानदार साझेदारी कर इंग्लैंड को मजबूती प्रदान की. डेनली अपने करियर का दूसरा अर्धशतक जमाने के बाद टीम के 141 रन के स्कोर पर आउट हो गए. उन्होंने 155 गेंदों पर आठ चौके लगाए. डेनली के आउट होने के बाद रूट और बेन स्टोक्स (नाबाद 2) ने मेजबान टीम को और कोई झटका नहीं लगने दिया और दिन का खेल निकाल दिया। रूट ने अपना 43वां अर्धशतक बनाया. रूट ने अब तक 189 गेंदों का सामना किया है, जिसमें उन्होंने सात चौके लगाए हैं. स्टोक्स 50 गेंदों का सामना कर चुके हैं. दोनों बल्लेबाजों के बीच अब तक 15 रन की साझेदारी हो चुकी है. ऑस्ट्रेलिया की ओर से जोश हेजलवुड ने दो और पैट कमिंस ने अब तक एक विकेट लिए हैं.

यह भी पढ़ें:  कुछ ऐसे अरुण जेटली को श्रद्धांजलि भेंट की टीम इंडिया ने, विराट ने याद किए खास पल

इससे पहले मारनस लबुशाने (80) शतक बनाने से चूक गए, लेकिन उनकी दमदार पारी की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 246 रन बनाए. लबुशाने ने पारी में भी 74 रन बनाए थे. सीरीज के दूसरे मुकाबले में स्थानापन्न खिलाड़ी के तौर पर दूसरी पारी में मैदान पर उतरने वाले लबुशाने की यह लगातार तीसरी अर्द्धशतकीय पारी है. इंग्लैंड को जीत के लिए 359 रन का मुश्किल लक्ष्य मिला है. ऑस्ट्रेलियाई टीम अगर इस मुकाबले को जीत जाती है तो पांच मैचों की श्रृंखला में उसे 2-0 की बढ़त मिल जाएगी और वे एशेज ट्रॉफी को अपने पास रखेंगे. हेडिंग्ले के मैदान पर सिर्फ तीन बार किसी टीम का चौथी पारी में 300 से ज्यादा रन का लक्ष्य हासिल करने का रिकॉर्ड है. ऑस्ट्रेलिया (1948 में तीन विकेट पर 404), इंग्लैंड (2001 में चार विकेट पर 315 रन) और वेस्टइंडीज ने दो साल पहले पांच विकेट पर 322 रन बनाये थे.

यह भी पढ़ें:  भारतीय पारी के दौरान यह किताब पढ़ते नजर आए विराट कोहली, फैंस ने किए मजेदार कमेंट्स

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने दिन की शुरुआत छह विकेट पर 171 रन से की जब लाबुशेन 53 रन और जेम्स पैटिनसन दो रन बनाकर खेल रहे थे. लबुशाने ने दिन की शुरूआत स्टुअर्ट ब्राड की गेंद पर शानदार चौके के साथ की. इसके बाद हालांकि उन्हें भाग्य का साथ भी मिला जब विकेटकीपर बेर्यस्टो ने उनका मुश्किल कैच छोड़ दिया. उन्हें इससे पहले 14 और 42 रन पर भी जीवनदान मिला था. लबुशाने और पैटिनसन की सातवें विकेट के लिए 51 रन की साझेदारी को जोफ्रा आर्चर ने तोड़ा. लबुशाने जब 70 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तब आर्चर की गेंद उनके हेलमेट में लगी, लेकिन उन्होंने इसके बाद अपरकट से चौका लगाकर दवाब कम किया. लबुशाने की 80 रन की पारी का अंत रन आउट से हुआ.

VIDEO: धोनी के संन्यास पर युवा क्रिकेटरों के विचार सुन लीजिए. 

नाथन लियोन (9) आउट होने वाले आखिरी बल्लेबाज रहे जो जोफ्रा आर्चर का शिकार बने. इंग्लैंड के लिए तीन विकेट लेने वाले बेन स्टोक्स सबसे सफल गेंदबाज रहे. आर्चर और ब्राड को दो-दो सफलता मिली.
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com