बेन स्टोक्स के डेविड वॉर्नर के खिलाफ बयान पर भड़के Tim Paine, कही यह बात...

बेन स्टोक्स के डेविड वॉर्नर के खिलाफ बयान पर भड़के Tim Paine, कही यह बात...

Tim Paine ने कहा, स्टोक्स अपनी किताब को बेचने के लिए वॉर्नर के नाम का इस्तेमाल कर रहे हैं

खास बातें

  • स्टोक्स बोले थे, वॉर्नर की स्लेजिंग ने दी थी हेंडिग्ले की पारी की प्रेरणा
  • ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान पेन मामले में वॉर्नर के समर्थन में आए
  • कहा-किताब बेचने के लिए वॉर्नर का नाम का इस्तेमाल कर रहे पेन
ब्रिसबेन:

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को भारत और पाकिस्तान की ही तरह परंपरागत प्रतिद्वंद्वी माना जाता है. इन दोनों देशों के खिलाड़ियों के मैदान पर और मैदान के बाहर संबंध भी आमतौर पर मधुर नहीं हैं. ऑस्ट्रेलिया के ओपनर डेविड वॉर्नर (David Warner) पर इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) के आरोप को लेकर दोनों टीमों के खिलाड़ी फिर आमने-सामने नजर आ रहे हैं. स्टोक्स ने अपनी किताब में लिखा है कि इसी साल एशेज सीरीज के दौरान हेडिंग्ले (England vs Australia Headingley Test) में खेली गई उनकी मैच विजेता पारी डेविड वॉर्नर द्वारा की जा रही लगातार स्लेजिग का परिणाम थी. स्टोक्स के इस आरोप के बाद ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन (Tim Paine)अपने सहयोगी वॉर्नर के समर्थन में खुलकर आ गए हैं. उन्होंने स्टोक्स को आड़े हाथ लिया है.  पेन ने कहा है कि स्टोक्स अपनी किताब बेचने के लिए वॉर्नर के नाम का इस्तेमाल कर रहे हैं.

मौजूदा समय में आउट करने में सबसे मुश्किल बल्लेबाज कौन, Shoaib Akhtar ने दिया यह जवाब..

पेन ने कहा, "मैं स्लिप में पूरे समय वॉर्नर के पास ही खड़ा था और आपको मैदान पर बात करने की इजाजत होती है. लेकिन वह स्टोक्स को न ही अपशब्द बोल रहे थे न ही छींटाकशी कर रहे थे. अपनी किताब बेचने के लिए वार्नर के नाम का उपयोग करना इंग्लैंड में प्रचलन बन गया है. इसलिए स्टोक्स को शुभकामनाएं." पेन ने इसके साथ ही कहा कि वॉर्नर ने उस पूरी सीरीज में अपने आप को अच्छे से संभाला था. उन्होंने कहा, "मैं उसके पास ही खड़ा था. मुझे किसी तरह की परेशानी नहीं आई. एशेज के दौरान वॉर्नर ने अपने आप को जिस तरह से संभाला है वो शानदार है. खासकर तब जब वह रन नहीं बना पा रहे थे." पेन (Tim Paine) ने इसके साथ ही एशेज सीरीज के अंतर्गत ऑस्ट्रेलिया टीम के इंग्लैंड दौरे के दौरान पूरे समय दर्शकों की ओर से डेविड वॉर्नर के खिलाफ की गई छींटाकशी का भी जिक्र किया.

हेडिंग्ले टेस्ट में स्टोक्स ने खेली थी 135 रन की पारी
ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच हेडिंग्ले में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में नाबाद 135 रन की यादगार पारी खेली थी. उन्होंने अपनी इस पारी से इंग्लैंड को एक विकेट की चमत्कारी जीत दिलाने में मदद की थी. मैच में इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 359 रन का टारगेट था. दूसरी पारी में इंग्लैंड के 9 विकेट 286 रन पर गिर चुके थे और इंग्लैंड की जीत तय मानी जा रही थी. इस मुश्किल वक्त में स्टोक्स ने नाबाद 135 रन (219 गेंद, 11 चौके और आठ छक्के) बनाए थे. इस दौरान उन्होंने आखिरी विकेट के लिए जैक लीच के साथ अविजित 76 रन की साझेदारी करके इंग्लैंड को जीत तक पहुंचा दिया था.

वीडियो: सौरव गांगुली ने बीसीसीआई का अध्यक्ष पद संभाला

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com