IPL में टीमों की संख्या बढ़ाने के सवाल पर BCCI ने दिया यह जवाब...

IPL में टीमों की संख्या बढ़ाने के सवाल पर BCCI ने दिया यह जवाब...

टूर्नामेंट में टीमों की संख्या बढ़ाने से ज्यादा स्थायित्व का पक्षधर है BCCI

खास बातें

  • IPL 2020 में टीमों की संख्या बढ़ाने चाहते हैं फ्रेंचाइजी
  • टीमों की संख्या बढ़ाकर 2011 की गलती नहीं दोहराना चाहता BCCI
  • भारतीय टीम में नंबर 4 के खिलाड़ी की समस्या का भी नहीं हुआ समाधान
मुंबई:

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के फ्रेंचाइजियों और हितधारकों के बीच हुई बैठक को देखा जाए तो विभिन्न फ्रेंचाइज टूर्नामेंट में टीमों का विस्तार चाहते हैं, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) चाहता है कि कोई भी कदम उठाए जाए जाने से पहले जमीनी हकीकत को देखा जाए ताकि 2011 का घटनाक्रम दोबारा न दोहराया जाए जब कई कारणों के चलते टीमों की संख्या को दोबारा 10 से 8 करना पड़ा था. इस पर BCCI एक अधिकारी ने कहा कि सभी बातें अच्छी हैं, लेकिन हर कदम सोच-समझकर उठाना होगा और बोर्ड में मौजूद अधिकारियों को विभिन्न फ्रेंचाइजियों को जमीनी हकीकत से अवगत कराना होगा. अधिकारी ने कहा, 'वे हमारे हितधारक हैं और BCCI एवं फ्रेंचाइजियों के बीच बहुत अच्छे संबंध हैं. हम चिंतित हैं कि प्रबंधन में से किसी व्यक्ति द्वारा इस तरह का अपारदर्शी व्यवहार और आकस्मिक बयान अनावश्यक रूप से BCCI और फ्रेंचाइजियों के बीच के संबंध को प्रभावित कर सकता है.'

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैकुलम से प्रभावित हैं इंग्‍लैंड के इयोन मोर्गन

अधिकारी ने कहा, 'कुछ लोग अपनी काबिलियत की कमी की भरपाई करने के लिए गलतफहमी पैदा करने में कामयाब होते हैं. जब समय आएगा, हम इस पर फ्रेंचाइजियों के साथ ईमानदारी से बातचीत करेंगे.' उन्होंने बताया कि लीग में टीमों की संख्या बढ़ाने से पहले फिलहाल स्थिरता BCCI की प्राथमिकता होनी चाहिए. 

World Cup Final से पहले शांत रहना चाहती है न्यूजीलैंड की टीम

अधिकारी ने कहा, 'यहां तक कि हम भी नई टीमें भी चाहते हैं, लेकिन हमें जमीनी हकीकत को ध्यान में रखना चाहिए. कुछ लोगों को लगता है कि वे BCCI के मालिक बन गए हैं और वे अपने हितों को आगे बढ़ाने के लिए BCCI की संपत्तियों को बेच सकते हैं. वे उन लोगों को कल्पनाएं बेच रहे हैं जो उन पर विश्वास करते हैं. BCCI कौन है? सदस्यों का संग्रह. पिछले तीन वर्षों से जो समस्याएं चल रही हैं उसे देखते हुए हमें सबसे पहले जमीनी स्तर पर जारी काम में स्थिरता लानी होगी.' इसके ही इस अधिकारी ने कहा, 'यहां हम नंबर 4 के बल्लेबाज की बहस को सुलझा नहीं पाए और किसी को अंतरराष्ट्रीय स्तर के 44 नए खिलाड़ियों की उम्मीद है. मूल बातों पहले ध्यान दिया जाए.' (इनपुटः IANS)

वीडियो: वर्ल्‍डकप 2019 में टीम इंडिया का सफर खत्‍म

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com