किताब 'गेम चेंजर' में शाहिद अफरीदी के आरोपों पर जावेद मियांदाद ने चुप्‍पी तोड़ी, कही यह बात...

किताब 'गेम चेंजर' में शाहिद अफरीदी के आरोपों पर जावेद मियांदाद ने चुप्‍पी तोड़ी, कही यह बात...

Shahid Afridi ने आत्‍मकथा 'गेम चेंजर' में Javed Miandad पर कई आरोप लगाए हैं

खास बातें

  • शाहिद अफरीदी ने मियांदाद को बताया था ओछा इंसान
  • मियांदाद बोले, अफरीदी से जो मसले रहे वे पेशेवर थे
  • 'गेम चेंजर' में गंभीर और वकार पर भी लगाए थे आरोप
कराची:

Shahid Afridi vs Javed Miandad: पाकिस्तान के पूर्व बल्‍लेबाज और कोच जावेद मियांदाद ने हरफनमौला शाहिद अफरीदी द्वारा उन पर (मियांदाद) लगाए गए आरोपों को हंसी में उड़ा दिया है. अफरीदी की आत्मकथा (Autobiography) ‘गेम चेंजर ' में मियांदाद के खिलाफ यह आरोप लगाए हैं. बूम-बूम अफरीदी के नाम से लोकप्रिय रहे अफरीदी (Shahid Afridi) ने मियांदाद को ओछा इंसान बताया था. उन्होंने लिखा कि मियांदाद को वह और उनकी बल्लेबाजी शैली पसंद नहीं थी और भारत के खिलाफ 1999 में चेन्नई टेस्ट से एक दिन पहले उन्होंने नेट पर उन्हें अभ्यास का समय भी नहीं दिया था.

अफरीदी से पहले पैडी उप्‍टन ने भी की थी गंभीर की आलोचना, जानें जवाब में क्‍या बोले थे 'गौती'

अफरीदी के इन आरोपों का जवाब देते हुए मियांदाद (Javed Miandad) ने कहा,‘मैं सब कुछ अल्लाह पर छोड़ता हूं. यह कैसे मुमकिन है कि किसी खिलाड़ी को टेस्ट से पहले नेट अभ्यास का मौका भी नहीं दिया गया हो.' उन्होंने कहा कि अफरीदी से उनके मसले रहे हें लेकिन वे नितांत पेशेवर थे. उन्होंने कहा,‘मैं उसे हमेशा कहता था कि उसमें इतनी क्षमता है कि वह बेहतर खिलाड़ी बन सकता था. मैने नेट पर कई बार उसके साथ घंटो बिताए ताकि उसकी बल्लेबाजी तकनीक और रवैया बेहतर हो सके.'

अफरीदी की टिप्‍पणी पर गंभीर खफा, बोले-तुम्‍हें मनोचिकित्‍सक के पास ले जाऊंगा

आत्मकथा ‘गेम चेंजर '((Game Changer)) में अफरीदी (Shahid Afridi) ने पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेंदबाज और कोच रहे वकार यूनुस (Waqar Younis) पर भी आरोप लगाए हैं. वकार के बारे में अफरीदी ने लिखा है, 'दुर्भाग्य से वह (वकार) अतीत को नहीं भुला पाया. वकार और मेरा इतिहास रहा है, इसकी शुरुआत कप्तानी को लेकर वसीम के साथ उसके मतभेद को लेकर हुई. वह औसत दर्जे का कप्तान था लेकिन बदतर कोच. वह हमेशा कप्तान यानी मुझे बताने का प्रयास करता था कि क्या करना है. यह स्वाभाविक भिड़ंत थी और ऐसा होना ही था.'भारतीय टीम के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) को लेकर भी अफरीदी ने तीखी टिप्‍पणी की है. उन्‍होंने लिखा कि गंभीर पॉजीटिव व्‍यक्ति नहीं थे बल्कि वह क्रिकेट मैदान में भड़क जाते थे. उन्‍होंने लिखा, 'गंभीर ऐसा व्‍यवहार करते थे मानो वह डॉन ब्रेडमैन और जेम्‍स बॉन्‍ड का मिश्रण हैं. कराची में हम ऐसे लोगों को जला हुआ कहकर बुलाते हैं. सीधी बात है मुझे खुश, सकारात्‍मक लोग पसंद हैं. फिर फर्क नहीं पड़ता कि वह गुस्‍सैल है या प्रतिस्‍पर्धी लेकिन आप पॉजीटिव होने चाहिए और गंभीर वैसे नहीं थे.'  (इनपुट: एजेंसी)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वीडियो: गावस्‍कर बोले, निडर बॉलर हैं चहल और कुलदीप