गौतम गंभीर ने एक बार फिर से विराट पर साधा निशाना, बोले कि कोहली ने बतौर कप्तान...

एक कार्यक्रम में गौतम गंभीर ने कहा कि विराट को अभी बहुत कुछ हासिल करना बाकी है. टीम स्पोर्ट में उनके हासिल करने को बहुत कुछ होता है. गौतम बोले कि आप खुद अपने लिए रन बनाना जारी रख सकते हो. यहां ब्रायन लारा जैसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने बहुत ज्यादा रन बनाए हैं

गौतम गंभीर ने एक बार फिर से विराट पर साधा निशाना, बोले कि कोहली   ने बतौर कप्तान...

गौतम गंभीर की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

जब बात निजी उपलब्धियों की आती है, तो भारतीय कप्तान विराट कोहली ने रिकॉर्डों की झड़ी लगा दी है. हालात ऐसे हैं कि उनकी तुलना सचिन से होने लगी है. कोहली टेस्ट में 27 और वनडे में 43 शतक जड़ चुके हैं. लेकिन बेहतरीन बल्लेबाज होने के बावजूज कोहली बतौर कप्तान आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत सके. साथ ही, कोहली आईपीएल खिताब भी बेंगलोर को नहीं जिता सके. और इसको लेकर पहले भी मुखर विचार रखने वाले गौतम गंभीर (#GautamGabhir) ने विराट कोहली (#ViratKohli) पर एक बार फिर से करारा प्रहार किया है. 

एक कार्यक्रम में गौतम गंभीर ने कहा कि विराट को अभी बहुत कुछ हासिल करना बाकी है. टीम स्पोर्ट में उनके हासिल करने को बहुत कुछ होता है. गौतम बोले कि आप खुद अपने लिए रन बनाना जारी रख सकते हो. यहां ब्रायन लारा जैसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने बहुत ज्यादा रन बनाए हैं. जैक्स कैलिस जैसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने कुछ नहीं जीता. ईमानदारी से कहूं, तो विराट कोहली ने बतौर कप्तान कुछ भी हासिल नहीं किया है.

गौती बोले कि अभी उन्हें बहुत कुछ हासिल करना है. वह अपने लिए रन बनाना जारी रख सकते हैं, लेकिन मैं ऐसा सोचता हूं कि टीम स्पोर्ट में जब तक आप बड़ी ट्रॉफी नहीं जीतते, आपके बारे में विचार नहीं किया जाएगा. संभवत: आप कभी भी अपने पूरे करियर को पूर्ण नहीं बना पाएंगे. गंभीर ने यह भी कहा कि कोहली को यह भी महसूस करना चाहिए कि उनके सभी खिलाड़ी एक व्यक्तिगत ईकाई हैं. विराट को यह पता लगाने की जरूरत है कि इन खिलाड़ियों का वह कैसे सर्वश्रेष्ठ इस्तेमाल कर सकते हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पूर्व ओपनर ने कहा कि विराट बाकी खिलाड़ियों से अलग हैं. संभवत: दूसरे बाकी खिलाड़ी उनके जैसी काबिलियत नहीं रख सकते, जो विराट के पास है. बतौर कप्तान सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उन्हें खिलाड़ियों को वैसे ही स्वीकारने की जरूरत है, जैसे वे हैं. साथ ही, विराट अपनी ऊर्जा की दूसरे खिलाड़ियों की उर्जा से तुलना न करें क्योंकि हर खिलाड़ी अपने आप में अलग होता है. हर खिलाड़ी की अपनी ताकत और कमजोरी होती है. 

VIDEO: कुछ दिन पहले ही विराट कोहली ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.